Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजगौ तस्करी के आरोपित को पकड़ने गई पुलिस पर फायरिंग, महिलाओं ने की पत्थरबाजी:...

गौ तस्करी के आरोपित को पकड़ने गई पुलिस पर फायरिंग, महिलाओं ने की पत्थरबाजी: 7 पुलिसकर्मी घायल

पुलिस ने 20 लोगों को नामजद किया है और अन्य अज्ञात आरोपियों का भी जिक्र मामले में है। सभी के खिलाफ हत्या के प्रयास समेत गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।

प्रयागराज में गौ तस्करी के आरोपी को गिरफ़्तार करने गई यूपी पुलिस पर गाँव वालों ने हमला कर दिया। हमला भी ऐसा-वैसा नहीं, बाकायदा पुलिस पर फायरिंग। इसके चलते आरोपित भागने में सफल रहा और 7 पुलिस वाले घायल भी हो गए। मामला जनपद के धूमनगंज स्थित मरियाडीह गाँव का है। घायल पुलिसकर्मियों का इलाज कॉल्विन अस्पताल में चल रहा है।

गाँव में पुलिस ने डाला पहरा

हमले के बाद शांति-भंग जैसी किसी घटना से निपटने के लिए भारी मात्रा में पुलिस बल की तैनाती गाँव में कर दी गई है। मीडिया से बात करते हुए एसपी (क्राइम) आशुतोष मिश्र ने कहा कि हमले में शामिल आरोपितों को जल्दी ही हिरासत में ले लिया जाएगा। देर रात तक हमलावरों की तलाश में पुलिस की दबिश पड़ते रहने की बात भी मीडिया रिपोर्टों में सामने आ रही है।

फ़रार आरोपित की सूचना पाकर पहुँची थी पुलिस

आशुतोष मिश्र के मुताबिक नुरैन नामक व्यक्ति गौ तस्करी मामले में फ़रार चल रहा है। शनिवार शाम उसके घर पर होने की सूचना पाकर पहुँची बम्हरौली थाना क्षेत्र के आठ पुलिसकर्मियों की टीम ने उसे धर दबोचा। लेकिन नुरैन को लेकर जब पुलिस जाने लगी तो महिलाओं समेत सैकड़ों की संख्या में इकट्ठा भीड़ ने पुलिस को घेर लिया। अचानक से पुलिस पर लाठी-डंडों और पत्थरों से हमले होने लगे। मौका पाकर कुछ युवक नुरैन को ले भागने में सफल रहे।

पीछा करने वाले चौकी प्रभारी पर फायरिंग

बम्हरौली के चौकी प्रभारी नित्यानंद सिंह ने जब नुरैन का पीछा किया तो उन पर फायरिंग की गई। इसके बाद जान बचाने के लिए पुलिस को पीछे हटना पड़ा। जब इस वारदात की सूचना उच्चाधिकारियों को मिली तो तुरंत हरकत में आए सिविल लाइन्स के सीओ (सर्कल अफसर) 6 थानों का पुलिस बल और पीएसी लेकर खुद मौके पर पहुँचे। पुलिस फ़ोर्स की मौजूदगी देख ग्रामीण तितर-बितर हो गए

पुलिस ने 20 लोगों को नामजद किया है और अन्य अज्ञात आरोपियों का भी जिक्र मामले में है। सभी के खिलाफ हत्या के प्रयास समेत गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। आपको बता दें कि यह इलाका प्रदेश में कुख्यात बाहुबली अतीक अहमद का गढ़ है। जनपद में सर्वाधिक अपराध वाले इलाके में भी इसकी गिनती होती है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, 11वीं सदी का शिलालेख है साक्ष्य!!

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, बख्तियार खिलजी ने नहीं। ब्राह्मण+बुर्के वाली के संभोग को खोद निकाला है इस इतिहासकार ने।

10 साल जेल, ₹1 करोड़ जुर्माना, संपत्ति भी जब्त… पेपर लीक के खिलाफ आ गया मोदी सरकार का सख्त कानून, NEET-NET परीक्षाओं में गड़बड़ी...

परीक्षा आयोजित करने में जो खर्च आता है, उसकी वसूली भी पेपर लीक गिरोह से ही की जाएगी। केंद्र सरकार किसी केंद्रीय जाँच एजेंसी को भी ऐसी स्थिति में जाँच सौंप सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -