Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाजरईस ने 20-30 लोगों के साथ युवक और चाय दुकानदार को पीटा, नूपुर शर्मा...

रईस ने 20-30 लोगों के साथ युवक और चाय दुकानदार को पीटा, नूपुर शर्मा पर पोस्ट से थे नाराज़: दुकान में भी तोड़फोड़, छावनी में तब्दील हुआ इलाका

पत्रकारों से बात करते हुए भोजपुर एएसपी हिमांशु कुमार ने कहा, ''चाय बेचने वाले को पीटे जाने का मामला सामने आया है। अब स्थिति नियंत्रण में है। यहाँ अधिकारी मौजूद हैं। अगर FIR दर्ज करवाई जाती हैं तो गिरफ्तारियाँ भी होंगी।।"

पैगंबर मोहम्मद पर भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नुपूर शर्मा की टिप्पणी का समर्थन करने को लेकर देश भर में बवाल अभी भी जारी है। अब मामला बिहार से सामने आया है। यहाँ के भोजपुर जिले के आरा थाना क्षेत्र में नुपूर शर्मा के समर्थन में फेसबुक पोस्ट को लेकर दो युवकों में विवाद हो गया और देखते ही देखते मारपीट शुरू हो गई।

पुलिस ने बताया कि मामला आरा के राम गढ़िया मोहल्ले का है। यहाँ एक चाय की दुकान पर कुछ लोग चाय पी रहे थे। इसी बीच नुपूर शर्मा के समर्थन में एक पोस्ट को लेकर दो युवकों में बहस शुरू हो गई।

जानकारी के मुताबिक दीपक नाम के शख्स ने कुछ दिनों पहले नुपूर शर्मा के समर्थन में पोस्ट शेयर किया था। जिस पर रईस नाम के शख्स ने विवादित टिप्पणी की थी। मंगलवार (5 जुलाई 2022) की शाम रईस और दीपक एक चाय की दुकान पर चाय पी रहे थे। इसी बीच फेसबुक पोस्ट को लेकर विवाद होने लगा। दोनों के बीच जमकर मारपीट हुई। फिर रईस अपने साथ करीब 20 से 30 लोगों को ले आया। सभी ने दीपक की पिटाई शुरू कर दी। उनलोगों ने लात-घूँसों से जमकर दीपक को पीटा। उनलोगों ने चाय की दुकान में तोड़फोड़ के साथ दुकानदार सोनू के साथ भी मारपीट की।

मामले की सूचना मिलते ही एसडीएम ज्योतिनाथ सहदेव और सहायक पुलिस अधीक्षक  (ASP) हिमांशु कुमार सैकड़ों पुलिस अधिकारियों की टीम के साथ मौके पर पहुँचे। पुलिस ने आश्वासन दिया कि मामला शांत हो गया है और फिलहाल स्थिति सामान्य है। पूरे इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया है और इलाके में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

पत्रकारों से बात करते हुए भोजपुर एएसपी हिमांशु कुमार ने कहा, ”चाय बेचने वाले को पीटे जाने का मामला सामने आया है। अब स्थिति नियंत्रण में है। यहाँ अधिकारी मौजूद हैं। अगर FIR दर्ज करवाई जाती हैं तो गिरफ्तारियाँ भी होंगी। सोशल मीडिया पोस्ट के कारण अगर कुछ होता है, तो यह जाँच का विषय है। जाँच के दौरान सब कुछ सामने आ जाएगा।”

वहीं आरा के डीएम राजकुमार ने कहा, “कुछ लोग एक दुकान में चाय पी रहे थे। एक फेसबुक पोस्ट के कारण दो समूहों के बीच लड़ाई हुई। हिंसा हुई और अब स्थिति नियंत्रण में है।”

नुपूर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने पर उमेश कोल्हे और कन्हैया लाल की हुई थी हत्या 

गौरतलब है कि इससे पहले महाराष्ट्र के अमरावती में 22 जून को केमिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या कर दी गई थी। उन्होंने नुपुर शर्मा के समर्थन में फेसबुक पोस्ट किया था। इससे दूसरे समुदाय के लोग नाराज थे। इसके अलावा उदयपुर से भी ऐसा ही मामला सामने आया था। यहाँ फेसबुक पोस्ट को लेकर 28 जून को कन्हैया लाल की गला रेत कर हत्या कर दी गई थी। 

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अच्छा! तो आपने मुझे हराया है’: विधानसभा में नवीन पटनायक को देखते ही हाथ जोड़ कर खड़े हो गए उन्हें हराने वाले BJP के...

विधानसभा में लक्ष्मण बाग ने हाथ जोड़ कर वयोवृद्ध नेता का अभिवादन भी किया। पूर्व CM नवीन पटनायक ने कहा, "अच्छा! तो आपने मुझे हराया है?"

‘माँ गंगा ने मुझे गोद ले लिया है, मैं काशी का हो गया हूँ’: 9 करोड़ किसानों के खाते में पहुँचे ₹20000 करोड़, 3...

"गरीब परिवारों के लिए 3 करोड़ नए घर बनाने हों या फिर पीएम किसान सम्मान निधि को आगे बढ़ाना हो - ये फैसले करोड़ों-करोड़ों लोगों की मदद करेंगे।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -