Sunday, June 23, 2024
Homeदेश-समाजसैनिकों के मूवमेंट के दौरान नहीं होगा आम लोगों का आवागमन: गृहमंत्री राजनाथ सिंह

सैनिकों के मूवमेंट के दौरान नहीं होगा आम लोगों का आवागमन: गृहमंत्री राजनाथ सिंह

गृहमंत्री ने कहा कि सभी अधिकारियों को अवश्यक निर्देश दिए गए हैं, अब सीमा पार से आतंक फै़लाने वालों के मंसूबे किसी भी हाल में कामयाब होगा।

पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए गृहमंत्री राजनाथ सिंह जम्मू-कश्मीर पहुँचे। उन्होंने यहाँ शहीदों को श्रद्धांजलि देने के बाद अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में उनके साथ चीफ़ सेक्रेट्ररी जम्मू-कश्मीर, आर्मी कमांडर, गवर्नर सत्यपाल मलिक, डीजी सीआरपीएफ और कुछ सीनियर अफ़सर मौजूद रहे।

बैठक में एक अहम फै़सला लेते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि अब जब भी सैनिकों का बड़ा काफ़िला चलेगा, तो आम लोगों का आवागमन थोड़ी देर के लिए रोका दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इससे लोगों को थोड़ी दिक्कत जरूर होगी लेकिन वो उनसे क्षमा चाहते हैं।

आतंकवाद के मुद्दे पर दुनिया हमारे साथ है

गृहमंत्री ने कहा, “आतंकवाद पर हम लगाम लगाकर ही रहेंगे। दुनिया के कई देश आतंकवाद को खत्म करने के लिए प्रयासरत हैं, हम साथ मिलकर आतंकवाद के ख़िलाफ़ निर्णायक लड़ाई को जीतेंगे। जम्मू-कश्मीर में कुछ लोगों के तार आतंकी संगठन आईएसआई से जुड़े हैं हम उन्हें खत्म करेंगे। भारत सरकार शहीद जवानों के परिवार के साथ हमेशा खड़ी है। सभी राज्य सरकारों से अपील है कि शहीदों के परिवारों की मदद करें।”

गृहमंत्री ने कहा कि सभी अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं, अब सीमा पार से आतंक फै़लाने वालों के मंसूबे किसी भी हाल में कामयाब होगा। उन्होंने कहा, “सुरक्षाबलों के हौसले पूरी तरह से बुलंद हैं। आतंकवाद के ख़िलाफ़ हम जो लड़ाई लड़ रहे हैं, उसमें हमें कामयाबी मिलेगी।”

‘जम्मू-कश्मीर की जनता आतंक से लड़ाई में हमारे साथ’

गृहमंत्री ने कहा, “जम्मू-कश्मीर की आवाम को मैं अपनी तरफ से यह विश्वास दिलाना चाहता हूँ कि सीमा पार से आतंक फैलाने वाली ताकतों के मंसूबों को हम कामयाब नहीं होने देंगे। मुझे इस बात की खुशी है कि जम्मू-कश्मीर की जनता आतंकवाद के ख़िलाफ़ इस लड़ाई में हमारे साथ पूरी तरह से है। कुछ ऐसे तत्व हैं जो कि सीमापार की आतंकवादी ताकतों और आईएसआई के साथ उनकी मिली भगत है। और आतंकवाद की गहरी साजिश में ऐसे कुछ लोग शामिल हैं। मैं कहना चाहता हूँ कि ऐसे लोग जम्मू-कश्मीर की जनता के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं और हमारे नौजवानों के भविष्य के साथ भी खिलवाड़ कर रहे हैं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मोदी के दिए घरों में रहते हैं, 100% वोट कॉन्ग्रेस को देते हैं’: बोले असम CM सरमा – राज्य पर कब्ज़ा करना चाहते हैं...

सीएम हिमंता ने कहा कि बांग्लादेशी मूल के अल्पसंख्यकों ने कॉन्ग्रेस को इसलिए वोट दिया, क्योंकि अगले 10 सालों में वे राज्य को कब्जा चाहते हैं।

NEET पीपर लीक की जाँच अब CBI के हवाले, केंद्रीय जाँच एजेंसी ने दर्ज की FIR: PG की परीक्षा के लिए नई तारीखों का...

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से बताया गया कि विवाद की समीक्षा के बाद मंत्रालय ने मामले की व्यापक जाँच के लिए इसे सीबीआई को सौंपने का फैसला किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -