Tuesday, January 18, 2022
Homeदेश-समाजराजद विधायक के पुत्र ने खोमचे वाले को खाने का स्वाद पसंद न...

राजद विधायक के पुत्र ने खोमचे वाले को खाने का स्वाद पसंद न आने पर बुरी तरह पीटा

'विधायक जी के बेटे' अंकित को उसका बनाया खाना पसंद नहीं आया था। माथे पर गहरी चोट खाए रजत को डिहरी के जमुहार स्थित नारायण मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल ले जाया गया, जहाँ उसे आईसीयू में भर्ती कराना पड़ा।

बिहार में जब लालू यादव की राजद सत्ता में थी तो उस समय के कालखंड को ‘जंगलराज’ कहा जाता था। और अब वही ‘जंगली’ सत्ता से बाहर तो कर दिए गए हैं लेकिन बिहार में उनकी गुंडागर्दी पर इसका फर्क नहीं दिख रहा है। राजद विधायक के बेटे पर आरोप है कि उसने एक खोमचा लगाने वाले युवक को पीट-पीट कर केवल इसलिए मरणासन्न कर दिया क्योंकि उसका बनाया खाना विधायक जी के बेटे को पसंद नहीं आया था। यही नहीं, ‘विधायक-पुत्र’ पर पहले भी ऐसी ही गुंडागर्दी का आरोप लग चुका है।

पिता डॉक्टर, बेटा बना जानलेवा

अंकित कुमार के पिता विधायक अशोक कुमार पेशे से डॉक्टर हैं, यानि जान बचाने वाले- लेकिन बेटा उनका लोगों के लिए प्राणघातक बनता दिख रहा है। आरोप के अनुसार अंकित ने रजत केसरी नामक युवक को इतना मारा कि उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ गया। रिपोर्टों के अनुसार रजत की ‘गलती’ खाली इतनी थी कि ‘विधायक जी के बेटे’ अंकित को उसका बनाया खाना पसंद नहीं आया था। माथे पर गहरी चोट खाए रजत को डिहरी के जमुहार स्थित नारायण मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल ले जाया गया, जहाँ उसे आईसीयू में भर्ती कराना पड़ा

रजत के होश में आने पर उसका बयान दर्ज करने के बाद पुलिस ने अंकित और उसके दोस्तों पर हत्या के प्रयास समेत गंभीर धाराओं में मुकदमा दायर किया है। रजत ने बताया कि राजद विधायक के होटल के सामने चल रहे उसके खोमचे पर से अंकित और उसके दोस्तों ने खाने-पीने का कुछ सामान मँगाया था। खाना विधायक-पुत्र को न पसंद आने पर विवाद हुआ जिसके बाद विधायक के बेटे और उसके दोस्तों ने बेरहमी से पीट-पीट कर बेहोश कर दिया। सदर एएसपी राजेश कुमार ने कहा कि मामला दर्ज कर जाँच की जा रही है। जाँच के मुताबिक कार्रवाई होगी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अमानतुल्लाह खान यहाँ नमाज पढ़ सकते हैं तो हिंदू हनुमान चालीसा क्यों नहीं?’: इंद्रप्रस्थ किले पर गरमाया विवाद, अंदर मस्जिद बनाने के भी आरोप

अमानतुल्लाह खान की एक वीडियो के विरोध में आज फिरोज शाह कोटला किले के बाहर हिंदूवादी लोगों ने इकट्ठा होकर हनुमान चालीसा का पाठ किया।

जब 5 मिनट तक फ्लाइंग किस देते रहे थे भगवंत मान, बार-बार गिर रहे थे: AAP ने बनाया चेहरा तो बोले लोग – ‘उड़ते...

ट्विटर पर यूजर्स उन्हें 'पेगवंत मान' कहकर संबोधित कर रहे हैं और केजरीवाल के फैसले को गलत ठहरा रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,996FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe