Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजअब कर्नाटक में 'वन्दे भारत' ट्रेन पर पत्थरबाजी, खिड़कियों को पहुँचा नुकसान: अकेले बेंगलुरु...

अब कर्नाटक में ‘वन्दे भारत’ ट्रेन पर पत्थरबाजी, खिड़कियों को पहुँचा नुकसान: अकेले बेंगलुरु डिवीज़न में पिछले 2 महीनों में पत्थरबाजी के 34 मामले

रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने दक्षिण पश्चिम रेलवे के बेंगलुरु डिवीजन में जनवरी 2023 में पथराव के 21 मामले और फरवरी 2023 में 13 मामले दर्ज किए हैं।

वंदे भारत एक्सप्रेस पर पथराव की घटनाएँ लगातार सामने आती रहतीं हैं। अब, बेंगलुरु में मैसूर-चेन्नई ‘वंदे भारत एक्सप्रेस’ पर पत्थरबाजी हुई। इससे ट्रेन के एक कोच की दो खिड़कियों को नुकसान हुआ। इस पत्थरबाजी में कोई घायल नहीं हुआ। रेलवे पुलिस ने इसको लेकर मामला दर्ज किया है। घटना शनिवार (25 जनवरी, 2023) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मैसूर और चेन्नई के बीच चलने वाली ट्रेन नंबर 20608 पर पत्थरबाजी कृष्णराजपुरम-बेंगलुरु छावनी रेलवे स्टेशनों के बीच हुई। इस पत्थरबाजी से कोई भी व्यक्ति घायल नहीं हुआ। लेकिन ट्रेन की दो खिड़कियाँ क्षतिग्रस्त हो गईं।

बीते कुछ दिनों में ट्रेन में पत्थरबाजी की कई घटनाएँ सामने आई हैं। इसको लेकर दक्षिण पश्चिम रेलवे, बेंगलुरु डिवीजन ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा है कि रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने दक्षिण पश्चिम रेलवे के बेंगलुरु डिवीजन में जनवरी 2023 में पथराव के 21 मामले और फरवरी 2023 में 13 मामले दर्ज किए हैं।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 नवंबर 2022 को इस वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। यह ट्रेन चेन्नई और मैसूर के बीच सप्ताह में छह दिन चलती है। चेन्नई सेंट्रल से इसका निकलने का समय सुबह 5:50 बजे है। वहीं यह दोपहर 12:30 बजे मैसूर पहुँचती है। इस यात्रा के दौरान यह ट्रेन बेंगलुरु के केएसआर स्टेशन पर रुकती है।

बता दें कि इससे पहले गत 10 फरवरी 2023 को भी तेलंगाना के महबूबाबाद में वंदे भारत एक्सप्रेस पर पथराव की घटना सामने आई थी। यह घटना तब हुई जब ट्रेन सिकंदराबाद से विशाखापत्तनम की ओर जा रही थी। इस दौरान हुई पत्थरबाजी से भी ट्रेन की खिड़कियाँ टूट गईं थीं।

इसके अलावा 20 जनवरी 2023 को बिहार के कटिहार जिले के बलरामपुर थाना क्षेत्र के डालखोला-तेलता रेलवे स्टेशन की ओर जा रही थी। इसी दौरान वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन नंबर 22302 पर पत्थरबाजी हुई थी। इस पत्थरबाजी से बोगी संख्या C-6 की खिड़की का शीशा क्षतिग्रस्त हो गया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: 2013 से 2018 के...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

मंगलौर के बहाने समझिए मुस्लिमों का वोटिंग पैटर्न: उत्तराखंड की जिस विधानसभा से आज तक नहीं जीता कोई हिन्दू, वहाँ के चुनाव परिणामों से...

मंगलौर में हाल के विधानसभा उपचुनावों में कॉन्ग्रेस ने भाजपा को हराया। इस चुनाव में मुस्लिम वोटिंग का पैटर्न भी एक बार फिर साफ़ हो गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -