Friday, August 19, 2022
Homeदेश-समाजशर्मिदा हूॅं, गंदी बात सहित हर आरोप कबूल: एसआईटी से चिन्मयानन्द

शर्मिदा हूॅं, गंदी बात सहित हर आरोप कबूल: एसआईटी से चिन्मयानन्द

अपने ही लॉ कॉलेज की छात्रा के यौन उत्पीड़न का आरोपी है पूर्व गृह राज्य मंत्री। अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा। पुलिस ने मामले की जॉंच में कोताही के आरोपों को नकारा।

यौन उत्पीड़न और बलात्कार के मामलों में घिरे भाजपा नेता और पूर्व गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानन्द ने लगभग सारे आरोप कुबूल कर लिए हैं। मामले की जाँच कर रही एसआईटी का दावा है कि अश्लील वार्तालाप और मसाज सहित लगभग सभी आरोपों को स्वीकारते हुए चिन्मयानन्द ने इनके बारे में विस्तार से बताने से मना किया है, क्योंकि उसे अपने किए पर शर्म आ रही है।

शाहजहांपुर की स्थानीय अदालत ने स्वामी चिन्मयानन्द को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। उस पर अपने लॉ कॉलेज की छात्रा का यौन उत्पीड़न करने का आरोप है। चिन्मयानन्द पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में गृह राज्यमंत्री था।

उत्तरा प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह के मुताबिक पुलिस द्वारा मामले में बिलकुल कोताही या देरी नहीं बरती जा रही है। सुप्रीम कोर्ट का आदेश होते ही एसआईटी का गठन हो गया और जाँच पूरी कर पुलिस ने स्वामी चिन्मयानन्द को उनके आश्रम से गिरफ़्तार कर जेल भेज दिया। इसके अलावा उनके द्वारा लगाए गए धमकी और वसूली के मामले में भी पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ़्तार कर लिया है।

इसके अलावा मीडिया से बात करते हुए SIT के प्रमुख नवीन अरोड़ा ने दावा किया कि एसआईटी चिन्मयानन्द के इकबालनामे के बाद भी परिस्थितिजन्य साक्ष्यों की भी जाँच कर रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकियों के लिए फंड्स मैनेज कर रहा था कपड़ा कारोबारी मोहम्मद यासीन, दिल्ली से धराया: विदेश से मँगा कर कश्मीर में भेजे लाखों

दिल्ली पुलिस ने लश्कर और अल-बदर जैसे आतंकी संगठनों के लिए फंड्स मैनेज करने वाले एक हवाला एजेंट मोहम्मद यासीन को गिरफ्तार किया है।

‘कम बुद्धि वाला व्यक्ति भी समझ जाएगा’: पत्रकार ने कोयला आयात को लेकर फैलाया झूठ, बिजली के दाम बढ़ने का दिखाया डर तो मंत्रालय...

'बिजनेस स्टैंडर्ड' की सहायक संपादक ने कोयला आयात को लेकर झूठ फैलाया। बिजली के दाम बढ़ने का दिखाया डर। ऊर्जा मंत्रालय ने लगाई फटकार।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
215,315FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe