Wednesday, April 17, 2024
Homeदेश-समाजमैं बस में लड़की छेड़ने के लिए चढ़ता था: कमल हासन के लिए यह...

मैं बस में लड़की छेड़ने के लिए चढ़ता था: कमल हासन के लिए यह मनोरंजक बात है

सरवनन के बयान के बाद ऑडियंस तो सीटियाँ-तालियाँ बजा ही रही थी, लेकिन उनके साथ ही शो के होस्ट कमल हासन भी जोर-जोर से ठहाके लगाकर हँसते हैं तालियाँ बजाते हैं।

कमल हासन एक जाने माने अभिनेता हैं और समय-समय पर वो पृथ्वी लोक से लेकर आकाश-पाताल तक की घटनाओं पर ‘ज्ञान’ देते नजर भी आते हैं। लेकिन सही समय, सही मुद्दे और सही व्यक्ति को ज्ञान देते वक़्त वो अक्सर चूक जाते हैं। खासकर तब, जब कमल हासन एक ऐसे शो में, जिसके वो खुद होस्ट हैं, सार्वजानिक स्थानों पर लड़कियों को छेड़ने की बात पर ज्ञान देने की जगह तालियाँ बजाते, उत्साह वर्धन करते हुए और हँसते हुए देखे जा रहे हैं।

यह वायरल वीडियो इसलिए भी चर्चा का केंद्र बन चुका है क्योंकि हिन्दुओं को आजाद भारत का पहला आतंकवादी बताने और उनकी आस्था और प्रतीकों को अपमानित करने का बहना तलाशने वाले कमल हासन अपने सामने दिए जा रहे एक बेहद घटिया और महिला विरोधी बयान पर तालियाँ बजाते और हँसते हुए देखे जा रहे हैं।

आजकल TV पर ‘बिग बॉस 3 तमिल’ चल रहा है। इस शो को ‘साउथ के सुपरस्टार’ कमल हासन होस्ट कर रहे हैं। इस शो को लेकर एक बड़ी कंट्रोवर्सी सामने आई है। इस शो में एक कंटेस्टेंट हैं एक्टर सरवनन, जो कि
तमिल सिनेमा का जाना-माना नाम हैं। इस शो का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में सरवनन बताते हैं कि वह बस में लड़कियों को छेड़ा करते थे।

एक्टर सरवनन ने कहा कि वो कॉलेज के दिनों में बसों में इसलिए चलते थे कि लड़कियों के साथ छेड़छाड़ कर सके। सरवनन के इस बयान के बाद वहाँ बैठे सभी लोग हँसते हैं और तालियाँ बजाते हैं। सरवनन के बयान के बाद ऑडियंस तो सीटियाँ-तालियाँ बजा ही रही थी, लेकिन उनके साथ ही शो के होस्ट कमल हासन भी जोर-जोर से ठहाके लगाकर हँसते हैं, तालियाँ बजाते हैं।

सरवनन के बयान को मजाकिया अंदाज में लेते हुए कमल हासन कहते हैं, “बस में सफर करना बड़ी बात है। एक ओर लोग हैं जो ऑफिस टाइम से पहुँचने के लिए भगदड़ करते हैं और एक तरफ ऐसे लोग हैं जो सिर्फ लड़कियों से छेड़खानी के लिए बस में चढ़ते हैं।” इसके बाद फिर से शो ठहाकों और तालियों से गूँजने लगता है।

इस वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होते ही ‘मीटू मूवमेंट’ (MeToo) के दौरान अपनी बात रखने वाली सिंगर चिन्मयी ने ट्विटर पर शो के इस वीडियो क्लिप को शेयर करते हुए कलाकार कमल हासन का विरोध करते हुए लिखा- “तमिल चैनल पर आने वाले एक शो में एक आदमी गर्व के साथ दावा कर रहा है कि उसने पब्लिक बस में महिला के साथ छेड़छाड़ की थी। दर्शक इस पर तालियाँ बजा रहे हैं। और ये मजाक है उस आडियंस के लिए, जो महिलाएँ तालियाँ बजा रही हैं उनके लिए, और उस मोलेस्टर के लिए!”

चिन्मयी के इस ट्वीट पर लोग खूब कमेंट कर रहे हैं और उनका साथ दे रहे हैं। चिन्मयी की ही तरह कई अन्य लोग भी कमल हासन के इस बर्ताव पर हैरानी जता रहे हैं और सवाल भी कर रहे हैं। कुछ लोगों को कमल हासन के इस बर्ताव से आपत्ति है तो कुछ लोगों का मानना है कि ऐसी बात कहने वाले एक्टर सरवनन को इस शो से तुरंत निकाल दिया जाना चाहिए।

हालाँकि, कमल हासन का इस पर अभी तक कोई स्पष्टीकरण नहीं आया है। कारन यह भी हो सकता है कि कमल हासन अपने मुद्दों को सोशल मीडिया पर कथित लिबरल्स से प्रेरित होकर ही उठाते हैं। इसलिए जब तक किसी उनके व्यक्तिगत सोर्स ने उनके कान में यह बात ना फूँकी हो कि कौन-सी बात समाज में क्या सन्देश दे सकती है तब तक शायद उन्हें या एहसास ना होता हो कि उन्हें किस तरह की प्रतिक्रिया देनी है।

हिन्दुओं को पहला आतंकवादी बताकर कमल हासन पहले भी खूब सस्ती लोकप्रियता बटोर चुके हैं। इसी तरह से जलीकट्टू त्यौहार को लेकर भी कमल हासन अक्सर समाचार में बने रहते हैं।

कमल हासन महाभारत को लेकर दे चुके हैं आपत्तिजनक बयान

वर्ष 2017 में कमल हासन द्रौपदी को ‘ऑब्जेक्ट’ की तरह इस्तेमाल किए जाने की बात कहकर महिलाओं के मुद्दों पर अपनी संवेदनशीलता का परिचय दे चुके हैं। कमल ने इंटरव्यू के दौरान पांडवों द्वारा जुए में द्रौपदी को दाँव पर लगाने पर कमेंट किया था। हासन ने एक क्षेत्रीय चैनल को इंटरव्यू देते हुए कहा था, “महाग्रंथ में पांचाली को पुरुषों की हाथ की कठपुतली बताया था, जिन्हें उनके पति दाँव पर लगाते हैं। देश आज भी ऐसी धार्मिक पुस्तक पढ़ता है, जिसमें एक महिला (द्रौपदी) को जुए के लिए इस्तेमाल किया गया।”

बिग बॉस में महिलाओं को छेड़ने की बात पर कमल हासन द्वारा बजाई तालियाँ इस बात का सबूत हैं कि उनकी संवेदनाएँ कितनी ‘सेलेक्टिव’ और ‘ऑकेजनल’ हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्कूल में नमाज बैन के खिलाफ हाई कोर्ट ने खारिज की मुस्लिम छात्रा की याचिका, स्कूल के नियम नहीं पसंद तो छोड़ दो जाना...

हाई कोर्ट ने छात्रा की अपील की खारिज कर दिया और साफ कहा कि अगर स्कूल में पढ़ना है तो स्कूल के नियमों के हिसाब से ही चलना होगा।

‘क्षत्रिय न दें BJP को वोट’ – जो घूम-घूम कर दिला रहा शपथ, उस पर दर्ज है हाजी अली के साथ मिल कर एक...

सतीश सिंह ने अपनी शिकायत में बताया था कि उन पर गोली चलाने वालों में पूरन सिंह का साथी और सहयोगी हाजी अफसर अली भी शामिल था। आज यही पूरन सिंह 'क्षत्रियों के BJP के खिलाफ होने' का बना रहा माहौल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe