Tuesday, November 30, 2021
Homeदेश-समाजतमिलनाडु: मंदिर की 25 मूर्तियों को तोड़ने वाले 5 नाबालिग गिरफ़्तार

तमिलनाडु: मंदिर की 25 मूर्तियों को तोड़ने वाले 5 नाबालिग गिरफ़्तार

जिन मूर्तियों को नष्ट किया गया, उनमें भगवान मुरुगन, पेरियनायकी, काल भैरव शामिल थे। वहीं, जो मूर्तियाँ क्षतिग्रस्त थीं, वे अलग-अलग जानवरों की थीं।

तमिलनाडु पुलिस ने 5 नाबालिग लड़कों को 25 सीमेंट की मूर्तियों को तोड़ने और तिरुवूरुर ज़िले के पेरियानायकी अम्मन मंदिर में मूर्तियाँ तोड़ने के आरोप में गिरफ़्तार किया है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की ख़बर के अनुसार, पुलिस ने नाबालिग लड़कों को मंदिर में लोहे की छड़ें चुराने के बाद पकड़ा, जिन्हें वो शराब ख़रीदने के लिए बेचने की फ़िराक में थे। यह घटना मंदिर में होने वाले अभिषेक समारोह से पहले हुई थी।


जिन मूर्तियों को नष्ट किया गया, उनमें भगवान मुरुगन, पेरियानायकी, काल भैरव शामिल थे। वहीं, जो मूर्तियाँ क्षतिग्रस्त थीं, वे अलग-अलग जानवरों की थीं।

फ़िलहाल, नाबालिग आरोपित तंजावुर शहर के एक किशोर गृह (सुधार गृह) में हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कभी ज़िंदा जलाया, कभी काट कर टाँगा: ₹60000 करोड़ का नुकसान, हत्या-बलात्कार और हिंसा – ये सब देश को देकर जाएँगे ‘किसान’

'किसान आंदोलन' के कारण देश को 60,000 करोड़ रुपए का घाटा सहना पड़ा। हत्या और बलात्कार की घटनाएँ हुईं। आम लोगों को परेशानी झेलनी पड़ी।

बारबाडोस 400 साल बाद ब्रिटेन से अलग होकर बना 55वाँ गणतंत्र देश: महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का शासन पूरी तरह से खत्म

बारबाडोस को कैरिबियाई देशों का सबसे अमीर देश माना जाता है। यह 1966 में आजाद हो गया था, लेकिन तब से यहाँ क्वीन एलीजाबेथ का शासन चलता आ रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,690FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe