पाकिस्तान से चल रहा WhatsApp ग्रुप ‘मुजाहिदीन’: तमिलनाडु से पकड़े गए तीन मेंबर

पुलिस ने शुरुआती जाँच में पाया कि तीनों 'मुजाहिदीन' नाम के व्हाट्सएप ग्रुप के मेंबर हैं, जिसका एडमिन पाकिस्तान से है। हालाँकि, पुलिस को ग्रुप एडमिन से संबंधित कोई दस्तावेज या चैट फिलहाल प्राप्त नहीं हुआ है।

विशेष खुफिया दल (SIC) ने पाकिस्तान से संचालित होने वाले व्हाट्सएप ग्रुप का मेंबर होने के संदेह में तमिलनाडु के कोयंबटूर से 3 लोगों को हिरासत में लिया है। तीनों संदिग्ध पश्चिम बंगाल के रहने वाले हैं और कोयंबटूर के एक ज्वेलरी वर्कशॉप में काम करते हैं।

जानकारी के मुताबिक, पुलिस ने शुरुआती जाँच में पाया कि तीनों ‘मुजाहिदीन’ नाम के व्हाट्सएप ग्रुप के मेंबर हैं, जिसका एडमिन पाकिस्तान से है। हालाँकि, पुलिस को ग्रुप एडमिन से संबंधित कोई भी दस्तावेज या चैट फिलहाल प्राप्त नहीं हुआ है। पुलिस ने बताया कि इस ग्रुप के सदस्य बंदूक और विस्फोटकों के बारे में बातें किया करते थे। उन्होंने कहा कि आगे की जाँच के लिए उनके मोबाइल फोन को जब्त करने के बाद तीनों को छोड़ दिया गया।

खुफिया दल के अधिकारियों ने बताया कि उनकी टीम ने दो दिन पहले इन तीनों संदिग्धों को हिरासत में लिया था और फिर पूछताछ करके छोड़ दिया। आतंकी से संबंध रखने वाले इन संदिग्धों के बारे में उन्हें सूचना मिली थी, जिसमें बताया गया था कि ये बांग्लादेश से आए हैं। हालाँकि, जब अधिकारियों ने संदिग्धों के कमरों की तलाशी ली, तो इस दौरान बरामद आधार कार्ड से पता चला कि वो बांग्लादेश से नहीं, बल्कि पश्चिम बंगाल से हैं।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

खबर के मुताबिक, SIC ने इसकी पुष्टि पश्चिम बंगाल के पुलिस अधिकारियों के माध्यम से की। उन्होंने बताया कि ये लोग 10 साल से अधिक समय से यहाँ काम कर रहे थे।  SIC के एक सोर्स ने बताया कि उन्होंने जब्त किए गए मोबाइल फोन में मुजाहिदीन नामक व्हाट्सएप ग्रुप पाया है, लेकिन व्हाट्सएप ग्रुप से चैट या फिर किसी तरह की दस्तावेजों को अभी तक प्राप्त नहीं कर सके हैं।


शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

कमलेश तिवारी हत्याकांड
आपसी दुश्मनी में लोग कई बार क्रूरता की हदें पार कर देते हैं। लेकिन ये दुश्मनी आपसी नहीं थी। ये दुश्मनी तो एक हिंसक विचारधारा और मजहबी उन्माद से सनी हुई उस सोच से उत्पन्न हुई, जहाँ कोई फतवा जारी कर देता है, और लाख लोग किसी की हत्या करने के लिए, बेखौफ तैयार हो जाते हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

107,076फैंसलाइक करें
19,472फॉलोवर्सफॉलो करें
110,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: