Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजजिन मुस्लिम लड़कियों के हिंदू दोस्त, उनको ब्लैकमेल करने के लिए व्हाट्सएप्प पर गिरोह:...

जिन मुस्लिम लड़कियों के हिंदू दोस्त, उनको ब्लैकमेल करने के लिए व्हाट्सएप्प पर गिरोह: गुजरात में मुस्तकिन, नजूमियाँ और साहिल धराए

पुलिस ने पाया कि कुछ लोग ऐसी मुस्लिम लड़कियों को निशाना बनाते थे, जो हिंदू लड़कों के साथ दिख जाती थी। ये लोग व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाकर ऐसी मुस्लिम लड़कियों की तलाश करते थे।

गुजरात में वडोदरा पुलिस ने मुस्लिम युवकों के ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जो हिंदू लड़कों के साथ मेलजोल रखने वाली मुस्लिम लड़कियों को निशाना बनाते थे और उन्हें ब्लैकमेल करते थे। ये लोग बाकायदा व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाकर इन लड़कियों का वीडियो रिकॉर्ड करते थे और उनके परिवारों को भी ब्लैकमेल करते थे। इस मामले में मुस्तकिन, नजूमियाँ और साहिल शेख नाम के तीन मुस्लिम युवक गिरफ्तार हुए हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, 2 महीने पहले वडोदरा का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें शहर के अकोटा ब्रिज के पास एक आइसक्रीम पार्लर में एक हिंदू युवक और एक मुस्लिम लड़की बैठे थे, तभी कुछ युवक वहाँ पहुँच गए और हंगामा करते हुए युवक को पकड़ लिया। उन्होंने हिंदू लड़के के साथ बदतमीजी की और इसका वीडियो बनाकर वायरल कर दिया।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इसी वीडियो के आधार पर पुलिस ने इस मामले की गुत्थी सुलझाने के लिए जाँच शुरू कर दी। पुलिस ने पाया कि कुछ लोग ऐसी मुस्लिम लड़कियों को निशाना बनाते थे, जो हिंदू लड़कों के साथ दिख जाती थी। ये लोग व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाकर ऐसी मुस्लिम लड़कियों की तलाश करते थे। वो जब हिंदू लड़कों के साथ किसी भी जगह पर होती, तो वो मुस्लिम लड़की और हिंदू लड़के का वीडियो बना लेते थे, और फिर उन लड़कियों के परिवारों को वीडियो भेजकर उन्हें ब्लैकमेल करते थे।

इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए डीसीपी अभय सोनी ने मीडिया को बताया कि जब त्योहारी सीजन शुरू होने वाला है तो किसी भी सांप्रदायिक घटना को रोकने के लिए वह सोशल मीडिया पर नजर रख रहे हैं। इसी बीच ट्विटर पर एक वायरल वीडियो देखने को मिला, जिसमें अलग-अलग धर्म के दो पुरुष और महिलाएँ घूम रहे थे, कुछ लोगों ने उन्हें घेर लिया और बदसलूकी की।

वीडियो की जाँच करने पर पता चला कि ऐसे लोगों को टारगेट करके व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाए गए हैं, जिनमें महिलाएँ एक धर्म की हैं और पुरुष दूसरे धर्म के हैं। उसका नेटवर्क पूरे वडोदरा शहर में फैला है, जिसमें कई युवा जुड़ गए।

शातिर तरीके से काम करता था ग्रुप

ये लोग बेहद शातिर तरीके से काम करते थे, ये किसी ग्रुप को तीन-चार माह चलाते थे, फिर उसे डिलीट करके नया ग्रुप बना लेते थे। पुलिस को ऐसा ही एक ग्रुप ‘आर्मी ऑफ मेहँदी’ नाम से मिला, जिसके तीन एडमिन को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनकी पहचान मुस्तकिन इम्तियाज शेख, बुरानवाला नजूमियाँ सैयद और साहिल शाहबुद्दीन शेख के रूप में की गई है।

इस मामले में IPC की धारा 153ए, 201 और 505 के तहत मामला दर्ज किया गया है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपितों के फोन जब्त कर उन्हें लैब में जाँच के लिए भेजा गया है, ताकि पूरे मामले का खुलासा हो सके। पुलिस ने बताया कि उन्हें यह भी जानकारी मिली है कि ये आरोपी शहर में मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं को अंजाम देने की भी साजिश रच रहे थे। पुलिस इस मामले में गंभीरता से जाँच कर रही है ताकि सांप्रदायिक शांति बनी रहे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -