Friday, June 21, 2024
Homeराजनीतिदिल्ली में बदले जाएँगे तुग़लक, अकबर, हुमायूँ और औरंगजेब रोड समेत 6 सड़कों के...

दिल्ली में बदले जाएँगे तुग़लक, अकबर, हुमायूँ और औरंगजेब रोड समेत 6 सड़कों के नाम, बीजेपी ने NDMC को लिखा पत्र

इसमें तुगलक रोड का नाम गुरु गोविन्द सिंह मार्ग, अकबर रोड का नाम महाराणा प्रताप रोड, औरंगजेब रोड़ का अब्दुल कलाम लेन, हुमायूँ रोड का महर्षि वाल्मीकि रोड और शाहजहाँ रोड का नाम जनरल बिपिन सिंह रावत रोड पर रखने की माँग की है।

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने मंगलवार (10 मई 2022) को नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (NDMC) को पत्र लिखकर लुटियंस दिल्ली में अकबर रोड, हुमायूँ रोड जैसे मुगल शासकों के नाम वाली 6 सड़कों का नाम बदलने की माँग की। आदेश गुप्ता ने ट्वीट कर इसकी जानकारी भी दी है। उन्होंने लिखा, “आज नई दिल्ली नगर निगम के चेयरमैन को पत्र लिखकर मुगल काल से गुलामी के प्रतीक मार्गों के नाम जल्द से जल्द बदलने की माँग की है।”

इसमें तुगलक रोड का नाम गुरु गोविन्द सिंह मार्ग, अकबर रोड का नाम महाराणा प्रताप रोड, औरंगजेब रोड़ का अब्दुल कलाम लेन, हुमायूँ रोड का महर्षि वाल्मीकि रोड और शाहजहाँ रोड का नाम जनरल बिपिन सिंह रावत रोड पर रखने की माँग की है।

आदेश गुप्ता ने अपने पत्र में सभी सड़कों के नाम के इतिहास के बारे में बात की। उन्होंने लिखा कि हिंदुओं के गौरव, मेवाड़ की आन, बान, शान, जिन्होंने जमकर व डटकर मुगलों का मुकाबला किया। ऐसे वीर योद्धा महाराणा प्रताप की 482वीं जयंती के उपलक्ष्य में ये सुझाव है कि अकबर रोड का नाम बदलकर महाराणा प्रताप मार्ग किया जाए। नई दिल्ली स्थित तुगलक रोड, जो मुगल काल की गुलामी का प्रतीक है, उसका नाम बदलकर श्री गुरु गोविंद सिंह मार्ग के नाम पर किया जाए।

उन्होंने कहा कि औरंगजेब लेन का नाम बदलकर भारत के पूर्व राष्ट्रपति एवं महान वैज्ञानिक मिसाइल मैन के नाम से प्रसिद्ध रहे डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम लेन किया जाए। बाबर लेन का नाम बदलकर देश के लिए मात्र 18 साल की उम्र में फाँसी पर चढ़ने वाले युवा क्रांतिकारी खुदीराम बोस के नाम पर किया जाए।

इसी प्रकार हुमायूँ रोड का नाम बदलकर महाकाव्य रामायण रचयिता प्रसिद्ध महर्षि वाल्मीकि रोड के नाम पर किया जाए। वहीं, शाहजहाँ रोड का नाम बदलकर भारत के प्रथम चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ रहे जनरल बिपिन रावत के नाम पर किया जाए।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभी तिहाड़ जेल से बाहर नहीं आ पाएँगे दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल, हाई कोर्ट ने बेल पर लगाई रोक: ED ने बताया- अब...

दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट से बेल मिलने के बाद भी अभी सीएम केजरीवाल जेल से रिहा नहीं होंगे। ईडी के विरोध पर दिल्ली हाई कोर्ट ने बेल पर रोक लगा दी है।

साल भर में 70% कम हुआ स्विस बैंकों में रखा धन, 2019 से भारत के साथ जानकारी साझा कर रहा है स्विट्जरलैंड: जानिए क्यों...

भारत में ग्राहक जमा खातों और अन्य बैंक शाखाओं के माध्यम से रखी गई धनराशि में भी काफी गिरावट आई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -