Monday, August 2, 2021
Homeराजनीति'चतुर लोमड़ी' केजरीवाल ने कहा: लोकसभा के अंगूर खट्टे थे, विधानसभा वाले खाऊँगा

‘चतुर लोमड़ी’ केजरीवाल ने कहा: लोकसभा के अंगूर खट्टे थे, विधानसभा वाले खाऊँगा

केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं का संबोधन 'हाउ इज जोश' कहकर शुरू किया। उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं को यकीन दिलाया कि जनता के मन में पार्टी लिए कोई नकारात्मक भाव नहीं है।

चुनाव में मिली करारी हार के बाद अरविंद केजरीवाल जनता से आँख भी नहीं मिला पा रहे हैं। उनका कहना है कि लोकसभा चुनाव के दौरान पूरे देश में एक अलग ही माहौल बना हुआ था जिससे दिल्ली की जनता भी अछूती नहीं थी। इसीलिए भाजपा जीत गई और AAP को कोई सीट नहीं मिली। उनके मुताबिक दिल्ली की जनता ने उनसे खुद यह बात कही कि ये बड़े चुनाव थे। छोटे चुनाव जब आएँगे तब दिल्ली की जनता उनके साथ होगी।

उनका कहना है कि दिल्ली की जनता उन्हें एक बार फिर मुख्यमंत्री बनाएगी। इन चुनावों में पूरी दिल्ली के अंदर यह सुनने को मिल रहा था कि यह बड़ा चुनाव है यह नरेंद्र मोदी और राहुल गाँधी का चुनाव है, केजरीवाल का चुनाव नहीं है।

पंजाबी बाग में आयोजित सम्मेलन के दौरान केजरीवाल ने अपने पार्टी के कार्यकर्ताओं में जोश भरने का काम किया। केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं का संबोधन ‘हाउ इज जोश’ कहकर शुरू किया। उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं को यकीन दिलाया कि भले ही चुनाव के परिणाम उनके आशा के अनुरूप नहीं हैं, लेकिन जनता के मन में पार्टी लिए कोई नकारात्मक भाव नहीं है।

केजरीवाल ने आने वाले विधानसभा चुनावों के बारे में भी बात की। उन्होंने संबोधन के दौरान कार्यकर्ताओं से कहा, “मायूस होने की आवश्यकता नहीं है, जनता दिल्ली सरकार की तारीफ़ कर रही है। अपना कॉलर ऊपर करो और जनता के बीच जाओ और कहो कि बड़े चुनाव में जो किया सो किया, अब छोटा चुनाव आ रहा है आप को वोट करे।”

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल की मानें तो पिछली बार उन्हें 54% वोट मिला था और अगले विधानसभा चुनाव में यह रेकॉर्ड टूटेगा। लेकिन इसके लिए उन्होंने पार्टी के लोगों से एक शर्त रखी कि वो सब अपनी मायूसी को खत्म करें और चेहरे पर स्माइल लेकर आएँ।

इस सम्मेलन के अवसर पर केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनने की बधाई दी और कहा कि उम्मीद है अगली केंद्र सरकार दिल्ली सरकार के साथ मिलकर काम करेगी। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि इन चुनावों में उन्होंने ही सबसे बेहतरीन उम्मीदवार खड़े किए थे। केजरीवाल का मानना है कि सबसे अच्छा चुनाव उन्होंने लड़ा और दिल्ली की जनता उन्हें विधानसभा चुनावों में जरूर जिताएगी। उनका कहना है कि उनकी पार्टी में कोई बदलाव नहीं आया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,543FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe