Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाजगुजरात: कॉन्ग्रेस दफ्तर पर बजरंग दल ने लिख दिया 'हज हाउस', प्रदेश अध्यक्ष ने...

गुजरात: कॉन्ग्रेस दफ्तर पर बजरंग दल ने लिख दिया ‘हज हाउस’, प्रदेश अध्यक्ष ने देश के खजाने पर बताया था अल्पसंख्यकों का पहला हक

ठाकोर ने अहमदाबाद में आयोजित सद्भावना सभा को संबोधित करते हुए कहा था कि देश की तिजोरी और संपत्ति पर पहला अधिकार अल्पसंख्यकों का है।

गुजरात कॉन्ग्रेस अध्यक्ष जगदीश ठाकोर ने देश के खजाने पर पहला हक अल्पसंख्यकों का बताया था। मुस्लिम तुष्टिकरण की नीति के तहत दिए गए इस बयान का विरोध हो रहा है। गुरुवार (21 जुलाई 2022) की रात बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने इसके विरोध में अहमदाबाद स्थित कॉन्ग्रेस कार्यालय पर ‘हज हाउस’ लिख दिया।

कॉन्ग्रेस दफ्तर पर हरे रंग के बैनर और स्टीकर भी चिपकाए। इन पर ‘हज हाउस’ लिखा था। ऐसा ही स्टीकर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी की प्रतिमा पर भी चिपका दिया। साथ ही ऑफिस के बाहर लगे कॉन्ग्रेस नेताओं के पोस्टर्स पर कालिख भी पोत दी।

ठाकोर ने अहमदाबाद में आयोजित सद्भावना सभा को संबोधित करते हुए कहा था कि देश की तिजोरी और संपत्ति पर पहला अधिकार अल्पसंख्यकों का है। ठाकोर ने अपने संबोधन में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के बयान का भी जिक्र किया था। उन्होंने कहा था, ”इस देश के प्रधानमंत्री (मनमोहन सिंह) कहा करते थे कि हिंदुस्तान के खजाने पर पहला हक अल्पसंख्यकों का है। इस देश के कॉन्ग्रेसी प्रधानमंत्री डंके की चोट पर ये बात कर रहे थे। कॉन्ग्रेस ये जानती है कि ऐसा कहने से कितना नुकसान हुआ।”

ठाकोर ने आने वाले चुनाव में मुस्लिमों से कॉन्ग्रेस के समर्थन करने की माँग करते हुए कहा कि वे पार्टी नेतृत्व से माँग करेंगे कि मुस्लिमों के लिए भी घोषणा-पत्र जारी किया जाए। उन्होंने कहा, “आप सभी लोगों को पता है कि देश में दंगों के पीछे कौन है और इसका उन्हें कैसे फायदा हुआ। हमें उनके जाल में नहीं फँसना है। कॉन्ग्रेस हमेशा अल्पसंख्यकों के साथ खड़ी है और अपनी विचारधारा कभी नहीं बदलेगी, चाहे वह सत्ता में रहे या नहीं।” इस दौरान उन्होंने मुस्लिम वोटरों से एकजुट रहने के लिए कहा, ताकि उनका वोट न बँटे।

वो यहीं नहीं रुके। गुजरात के मुस्लिमों को घर देने का वादा करते हुए कॉन्ग्रेस नेता ने कहा, “अहमदाबाद में जहाँ भी अल्पसंख्यक इलाकों में झुग्गियाँ हैं और जिन इलाकों की हालत खराब है उनका नाम लिखिए और कॉन्ग्रेस की सरकार लाइए। एक साल के भीतर कॉन्ग्रेस 10 माले की बिल्डिंग में कमरे के साथ रसोई भी उपलब्ध कराएगी।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फ्लाइट में साथ बैठे थे, पूछा मूवी देखती हो, दिखाने लगे पोर्न… जिंदल स्टील के CEO पर महिला यात्री ने लगाया इल्जाम, कहा- मुझे...

अनन्या छौछरिया नाम की महिला ने जिंदल स्टील के सीईओ दिनेश सारोगी के ऊपर यौन उत्पीड़न का इल्जाम लगाया है।

वाहन फूँके, पुलिस पर हमला… दंगों में जला ब्रिटेन का लीड्स: यहीं से सांसद चुना गया है गाजा समर्थक मोतिन अली, जीत के बाद...

ब्रिटेन के शहर लीड्स में दंगे भड़क गए हैं। प्रवासी दंगाइयों ने एक इलाके में जम का उत्पात मचाया और पुलिस की गाड़ियों को तोड़ आग लगा दी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -