Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीति'देश के संसाधनों पर पहला हक मुस्लिमों का...': सद्भावना सभा में बोले गुजरात कॉन्ग्रेस...

‘देश के संसाधनों पर पहला हक मुस्लिमों का…’: सद्भावना सभा में बोले गुजरात कॉन्ग्रेस अध्यक्ष जगदीश ठाकोर, बताया- इसी विचारधारा का पालन कर रही पार्टी

''इस देश के प्रधानमंत्री (मनमोहन सिंह) कहा करते थे कि हिंदुस्तान के खजाने पर पहला हक अल्पसंख्यकों का है। इस देश के कॉन्ग्रेसी प्रधानमंत्री डंके की चोट पर ये बात कर रहे थे। कॉन्ग्रेस ये जानती है कि ऐसा कहने से कितना नुकसान हुआ।"

कभी देश के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा था कि देश के संसाधनों पर पहला हक मुस्लिमों का है। अब एक बार फिर से कॉन्ग्रेस पार्टी मुस्लिम तुष्टिकरण की नाव पर सवार हो गई है। इस बार ये बयान गुजरात कॉन्ग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष जगदीश ठाकोर ने दिया है। जगदीश ठाकोर ने अहमदाबाद में आयोजित सद्भावना सभा को संबोधित करते हुए डॉ मनमोहन सिंह के कहे शब्द को फिर से दोहराया और दावा किया कि पार्टी आज भी उसी विचारधारा का पालन करती है। उनके इस बयान के बाद अब कॉन्ग्रेस बैकफुट पर चली गई है।

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह का जिक्र कर जगदीश ठाकोर कहते हैं, ”इस देश के प्रधानमंत्री (मनमोहन सिंह) कहा करते थे कि हिंदुस्तान के खजाने पर पहला हक अल्पसंख्यकों का है। इस देश के कॉन्ग्रेसी प्रधानमंत्री डंके की चोट पर ये बात कर रहे थे। कॉन्ग्रेस ये जानती है कि ऐसा कहने से कितना नुकसान हुआ।”

मुस्लिमों से खचाखच भरे हॉल में जगदीश ठाकोर ने वाहवाही लूटने की कोशिश की। उन्होंने पीएम मोदी या किसी अन्य का नाम लिए बिना ही कहा, “दिल्ली में बैठे तोते की जान गुजरात में है और हमें तोते की गोदी को नष्ट करना है।” ठाकोर के यह कहते ही सामने बैठे मुस्लिम खुशी से झूम उठे। तालियों की गड़गाड़ाहट शुरू हो गई। कॉन्ग्रेस अध्यक्ष ठाकोर ने यह भी कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के 20 हजार से ज्यादा वोट वाली 60 सीटें हैं और कॉन्ग्रेस उन सभी सीटों पर इस तरह के कार्यक्रम आयोजित करने जा रही है। उन्होंने इन आयोजनों में मुस्लिमों के हर फिरका जमात को आमंत्रित करने की अपील की है।

वो यहीं नहीं रुके उन्होंने गुजरात के मुस्लिमों को घर देने का वादा करते हुए कॉन्ग्रेस नेता ने कहा, “अहमदाबाद में जहाँ भी अल्पसंख्यक इलाकों में झुग्गियाँ हैं और जिन इलाकों की हालत खराब है उनका नाम लिखिए और कॉन्ग्रेस की सरकार लाइए। एक साल के भीतर कॉन्ग्रेस 10 माले की बिल्डिंग में कमरे के साथ रसोई भी उपलब्ध कराएगी।”

क्या कहा था पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री रहते हुए मनमोहन सिंह ने मुस्लिम वोटरों को लुभाने की कोशिश करते हुए कहा था कि इस देश के संसाधनों पर पहला अधिकार अल्पसंख्यकों का है। मुस्लिम तुष्टिकरण का कॉन्ग्रेस का एक लंबा इतिहास रहा है। ऐसे में अगर जगदीश ठाकोर ने ये कहा है तो कोई नई बात नहीं है। उन्होंने वही बयान दोहराकर साफ कर दिया है कि कॉन्ग्रेस इस्लामिक तुष्टिकरण वाली विचारधारा से बिल्कुल भी पीछे नहीं है।

मुस्लिम तुष्टिकरण का नतीजा ये रहा है कि गुजरात में कॉन्ग्रेस का प्रदर्शन लगातार खराब होता जा रहा है। पिछले पाँच सालों में कॉन्ग्रेस ने एक भी चुनाव में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है। 2017 के विधानसभा चुनावों में 65 सीटें जीतने के बाद से लगातार पार्टी को बाद के सभी चुनावों में निराशा ही हाथ लगी है। अब ऐसा प्रतीत हो रहा है कि कॉन्ग्रेस एक बार फिर से मुस्लिम तुष्टिकरण की नाव पर सवार होकर चुनावी नदी पार करना चाहती है। दूसरी पार्टियों पर कॉन्ग्रेस अलग-अलग समुदायों के बीच नफरत फैलाने का आरोप लगाती रही है। जबकि खुद तुष्टिकरण में लगी हुई है।

अपने भाषण में जगदीश ठाकोर ने स्पष्ट किया कि डॉ मनमोहन सिंह के बयान से भले ही पार्टी को नुकसान पहुँचा हो, लेकिन वे उसी विचारधारा से जुड़े हुए हैं। हालाँकि, हालात बदले हैं ऐसे में अगर कॉन्ग्रेस आज तुष्टिकरण की राजनीति करती है तो उससे इससे नुकसान हो तो इस पर आश्चर्य नहीं होना चाहिए।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -