Tuesday, September 21, 2021
Homeविचारराजनैतिक मुद्दे'बिहारियों के पास ज्यादा दिमाग नहीं होता': तमिलनाडु के मंत्री KN नेहरू, DMK ने...

‘बिहारियों के पास ज्यादा दिमाग नहीं होता’: तमिलनाडु के मंत्री KN नेहरू, DMK ने प्रशांत किशोर को बनाया था रणनीतिकार

"बिहारियों के पास ज्यादा दिमाग नहीं होता है। लेकिन आप त्रिची पोनमलाई रेलवे वर्कशॉप को ही देख लीजिए, जहाँ 4000 बिहारी काम कर रहे हैं। इसी तरह पूरे तमिलनाडु में आप रेलवे में गेटकीपर के रूप में बिहारियों को देख सकते हैं।"

तमिलनाडु के नगरपालिका प्रशासन मंत्री KN नेहरू ने बिहारियों को लेकर विवादित बयान दिया है। राज्य की सत्ताधारी पार्टी ‘द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम (DMK) नेता ने कहा कि बिहारियों के पास हमारी तरह ज्यादा दिमाग नहीं होता। त्रिची के ‘कलाई अरंगम कन्वेंशन सेंटर’ में आयोजित DMK के एक ‘रोजगार कैंप’ में उन्होंने ये बातें कहीं। उन्होंने दावा किया कि केंद्रीय मंत्री रहते लालू यादव ने रेलवे में बिहारियों को भर दिया।

KN नेहरू ने आरोप लगाया कि इससे जो नौकरियाँ तमिलनाडु वालों को मिलने वाली थीं, वो बिहारियों को मिल गई। बता दें कि तमिलनाडु में भी बड़ी संख्या में बिहार और उत्तर प्रदेश से मजदूर जाते हैं। उनके इस बयान से इन मजदूरों के लिए असुरक्षा का माहौल पैदा होने और दो राज्यों के बीच तनाव बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। KN नेहरू केंद्र सरकार की नौकरियों को लेकर इस तरह का बयान दिया।

उन्होंने कहा, “बिहारियों के पास ज्यादा दिमाग नहीं होता है। लेकिन आप त्रिची पोनमलाई रेलवे वर्कशॉप को ही देख लीजिए, जहाँ 4000 बिहारी काम कर रहे हैं। इसी तरह पूरे तमिलनाडु में आप रेलवे में गेटकीपर के रूप में बिहारियों को देख सकते हैं।” साथ ही उन्होंने तमिलनाडु के नागरिकों को भी ये कहते हुए फटकार लगाई कि यहाँ के लोगों ने केंद्र सरकार की सरकारी नौकरियों को लेने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई और कोशिश नहीं की।

उन्होंने ‘डायरेक्टिंग त्रिची’ नाम से एक अभियान शुरू किया है, जिसके तहत जिले के 15,000 नागरिकों को नौकरी देने का वादा किया गया है। इसके लिए रजिस्ट्रेशन तैयार किया गया है। रजिस्टर करने वालों को 23 जुलाई से इंडस्ट्रियल विशेषज्ञों द्वारा यूट्यूब से प्रशिक्षण दिलाया जा रहा है। उन्हें इंटरव्यू के लिए तैयार किया जाएगा। कुल 150 कंपनियों ने इस अभियान में हिस्सा लिया है। लेकिन, इसके माध्यम से तमिलनाडु के नेता भाषाई अनेकता को जन्म देने से बाज नहीं आ रहे।

KN नेहरू ने लालू यादव को रेलवे की दुर्दशा के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि तमिलनाडु के लोगों को केंद्रीय फोर्स से लेकर रेलवे और बैंक तक में नौकरी लेनी चाहिए। साथ ही उन्होंने दक्षिण भारतीयों में केरल व तमिलनाडु के युवाओं को सबसे प्रतिभावान करार दिया। KN नेहरू ने कहा कि दिवंगत करूणानिधि ने एक बार उन्हें सांसद बनने का ऑफर दिया था तो उन्होंने हिंदी-अंग्रेजी न आने के कारण इसे ठुकरा दिया था।

उन्होंने कहा कि उन्हें उनकी वरिष्ठता को देखते हुए दिल्ली जाने का ये ऑफर दिया गया था, लेकिन आज वो इसे ठुकरा कर पछताते हैं। सत्ता में आने के बाद ‘भीतरी बनाम बाहरी’ का खेल खेलने में लगी DMK शायद ये भूल गई है कि इस साल हुए जिस विधानसभा चुनाव के बाद उसे सत्ता मिली, उसमें उसने बिहार के प्रशांत किशोर को अपना चुनावी रणनीतिकार बना रखा था। अब सरकारी नौकरियों को लेकर वो बिहारियों के खिलाफ बोल रही।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज योगेश है, कल हरीश था: अलवर में 2 साल पहले भी हुई थी दलित की मॉब लिंचिंग, अंधे पिता ने कर ली थी...

आज जब राजस्थान के अलवर में योगेश जाटव नाम के दलित युवक की मॉब लिंचिंग की खबर सुर्ख़ियों में है, मुस्लिम भीड़ द्वारा 2 साल पहले हरीश जाटव की हत्या को भी याद कीजिए।

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालत में मौत: पंखे से लटकता मिला शव, बरामद हुआ सुसाइड नोट

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालात में मौत हो गई है। महंत का शव बाघमबरी मठ में सोमवार को फाँसी के फंदे से लटकता मिला।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,474FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe