Saturday, June 15, 2024
Homeराजनीति'टिकट के बदले घूस लेते हैं डीके शिवकुमार': कर्नाटक काॅन्ग्रेस नेता के खिलाफ चुनाव...

‘टिकट के बदले घूस लेते हैं डीके शिवकुमार’: कर्नाटक काॅन्ग्रेस नेता के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत, उम्मीदवारों पर कार्रवाई की माँग

केंद्रीय मंत्री शोभा करंदलाजे ने कॉन्ग्रेस नेता पर उम्मीदवारों को बी-फॉर्म जारी करने के दौरान रिश्वत माँगने का आरोप लगाया है। केंद्रीय मंत्री ने चुनाव आयोग से डीके शिवकुमार के खिलाफ कार्रवाई की माँग की है।

कर्नाटक में 10 मई 2023 को विधानसभा चुनाव होने हैं। इसके पहले कॉन्ग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डीके शिवकुमार पर पार्टी उम्मीदवारों से रिश्वत लेने का आरोप लगा है। केंद्रीय मंत्री शोभा करंदलाजे ने कॉन्ग्रेस नेता पर उम्मीदवारों को बी-फॉर्म जारी करने के दौरान रिश्वत माँगने का आरोप लगाया है। केंद्रीय मंत्री ने चुनाव आयोग से डीके शिवकुमार के खिलाफ कार्रवाई की माँग की है।

शोभा करंदलाजे ने मुख्य चुनाव अधिकारी (Chief electoral officer) मनोज कुमार मीणा को शिकायत दी है। शिकायत में उन्होंने कहा है कि डीके शिवकुमार ने खुले तौर पर स्वीकार किया है कि कॉन्ग्रेस पार्टी ने उम्मीदवारों से टिकट के बदले पैसे लिए हैं। भाजपा नेत्री ने चुनाव आयोग से अपनी शिकायत में कहा कि यह घूसखोरी और आचार संहिता के उल्लंघन का मामला है। करंदलाजे ने शिवकुमार समेत उन उम्मीदवारों के खिलाफ भी कार्रवाई की माँग की है जिनपर पैसों के बदले टिकट हासिल करने का आरोप है।

इसके पहले प्रदेश कॉन्ग्रेस प्रमुख शिवकुमार 29 मार्च 2023 को प्रजा ध्वनि यात्रा के दौरान कलाकारों पर 500 रुपए के नोट उड़ाए थे। खुली बस से नोट उड़ाने को लेकर भी उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई थी। इस घटना का एक वीडियो भी वायरल हुआ था जिसमें शिवकुमार नोट उड़ाते नजर आ रहे थे। इसे लेकर उनकी खूब आलोचना भी हुई थी। इसके अलावा कर्नाटक के कॉन्ग्रेस प्रमुख डीके शिवकुमार 2019 में मनी लॉन्ड्रिंग केस में जेल की हवा भी खा चुके हैं।

विवादों के कारण डीके शिवकुमार को शक था कि उनका नामांकन रद्द किया जा सकता है। ताजा जानकारी के मुताबिक कर्नाटक प्रदेश कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष का नामांकन स्वीकार कर लिया गया है। 10 मई को कराए जा रहे चुनाव में इस साल कुल 3044 उम्मीदवार मैदान में हैं। मुख्य मुकाबाला भाजपा, कॉन्ग्रेस और जेडीएस के बीच है। चुनाव के नतीजे 13 मई को घोषित किए जाएँगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NSA, तीनों सेनाओं के प्रमुख, अर्धसैनिक बलों के निदेशक, LG, IB, R&AW – अमित शाह ने सबको बुलाया: कश्मीर में ‘एक्शन’ की तैयारी में...

NSA अजीत डोभाल के अलावा उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा, तीनों सेनाओं के प्रमुख के अलावा IB-R&AW के मुखिया व अर्धसैनिक बलों के निदेशक भी मौजूद रहेंगे।

अब तक की सबसे अधिक ऊँचाई पर पहुँचा भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, उधर कंगाली की ओर बढ़ा पाकिस्तान: सिर्फ 2 महीने का बचा...

एक तरफ पाकिस्तान लगातार बर्बादी की कगार पर पहुँच रहा है, तो दूसरी तरफ भारत का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार बढ़ता जा रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -