Friday, July 1, 2022
Homeराजनीतिदेश के भीतर के गद्दारों से निपटने के लिए होगा सेना का गठन: BJP...

देश के भीतर के गद्दारों से निपटने के लिए होगा सेना का गठन: BJP विधायक

"हिन्दू राष्ट्र के लिए हम समर्पित हैं हमारा दृढ निश्चय है कि हम लक्ष्य तक पहुँचेंगे। हमें हिन्दू राष्ट्र के लिए एक सेना की ज़रूरत है। हिन्दू राष्ट्र के लक्ष्य के लिए, धर्म की रक्षा के लिए और राष्ट्र की रक्षा के लिए एक सेना का गठन किया जाएगा...."

भाजपा विधायक राजा सिंह ने एक सेना के गठन की बात कही है। उन्होंने कहा कि देशद्रोहियों को सबक सिखाने और उन्हें नरक पहुँचाने के लिए एक सेना का गठन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वे इस सेना के गठन के लिए तैयारियाँ कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि 6 महीने पहले एक कैम्प का आयोजन किया गया था और ‘हिंदुत्ववादी बहादुरों’ को उस कैम्प में हिस्सा लेने के लिए बुलाया गया था। राजा सिंह के अनुसार, उस कैम्प के दौरान काफ़ी सार्थक चर्चाएँ हुईं।

राजा सिंह ने बताया कि उस कैम्प के दौरान यह निर्णय लिया गया कि भारत के हर एक युवा को एक सैनिक की तरह प्रशिक्षित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आज हमारा देश भारतीय सेना की वजह से ही सुरक्षित है। विधायक ने कहा कि देश के हर युवा को एक सैनिक की तरह ट्रेनिंग दी जाएगी। उन्होंने कहा कि अगर भारत को भविष्य में इन युवाओं की ज़रूरत पड़ती है तो ये पीछे नहीं हटेंगे। उन्होंने कहा कि जिस तरह से भारतीय सेना देश के बाहर के गद्दारों को साफ़ कर रही है, एक ऐसी सेना होनी चाहिए जो देश के भीतर के गद्दारों को डील करे।

भाजपा विधायक राजा सिंह ने कहा कि इस सेना का गठन देश के कोने-कोने में किया जाएगा। उन्होंने कहा कि देशद्रोहियों को घर से घसीट कर बाहर निकला जाएगा और उन्हें देश से बाहर छोड़ दिया जाएगा। हिंदुत्व की बात करते हुए भाजपा विधायक ने कहा:

“हिन्दू राष्ट्र के लिए हम समर्पित हैं हमारा दृढ निश्चय है कि हम लक्ष्य तक पहुँचेंगे। हमें हिन्दू राष्ट्र के लिए एक सेना की ज़रूरत है। इस सेना का गठन कैसे होगा? हिन्दू राष्ट्र के लक्ष्य के लिए, धर्म की रक्षा के लिए और राष्ट्र की रक्षा के लिए एक सेना का गठन किया जाएगा। इसके लिए बंगलौर में 10 दिनों का ‘आर्मी कैम्प’ आयोजित किया गया है। यह कैम्प 24 सितम्बर तक चलेगा और इसमें 470 लोग भाग ले रहे हैं। इस कैम्प का उद्देश्य है कि भारत के युवा देश की सुरक्षा के लिए आगे आएँ।”

राजा सिंह हैदराबाद के गोशमहल से विधायक हैं। वह पूरे तेलंगाना में भाजपा के एकलौते विधायक हैं। हिंदुत्व को लेकर वह काफ़ी सक्रिय रहते हैं। हाल ही में जब यदाद्रि के लक्ष्मी नरसिंह मंदिर में मुख्यमंत्री केसीआर के चित्र उकेरे गए थे, तब उन्होंने मंदिर का दौरा कर उन्हें हटाने के लिए अभियान चलाया था। इसमें वह सफल भी हुए। उन्होंने तेलंगाना में एनआरसी लागू करने की माँग भी की है। उन्होंने आंध्र प्रदेश सरकार पर ईसाइयत और इस्लाम को बढ़ावा देने का आरोप भी लगाया था।

विधायक राजा सिंह ने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से दी ‘सेना के गठन’ की सूचना

राजा सिंह सोशल मीडिया पर भी काफ़ी सक्रिय हैं। वह हिंदुत्व और देश से जुड़े मुद्दों पर अक्सर वीडियो के माध्यम से अपनी राय साझा करते रहते हैं। वो अलग बात है कि उनके हर बयान पर विवाद उपजता है और वह विरोधियों का निशाना भी बनते हैं। फ़िलहाल उनके द्वारा सेना के गठन की घोषणा इस क्रम में ताज़ी ख़बर है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसी को ईद तक तो किसी को 17 जुलाई तक मारने की धमकी, पटाखों का जश्न तो कहीं सिर तन से जुदा के स्टेटस:...

राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल के कत्ल के बाद कहीं पर फोड़े गए पटाखे तो कहीं पर हिन्दू संगठन के कार्यकर्ता को मिली कत्ल की धमकी।

कन्हैया, उमेश, किशन… हत्या का एक जैसा पैटर्न, लिंक की पड़ताल कर रही NIA: रिपोर्ट में बताया- PFI कनेक्शन की भी हो रही जाँच

उदयपुर में कन्हैया लाल को काटा गया। अमरावती में उमेश कोल्हे तो अहमदाबाद में किशन भरवाड की हत्या की गई। बताया जा रहा है कि एनआईए इनके बीच लिंक की पड़ताल कर रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,558FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe