Tuesday, July 16, 2024
Homeराजनीति'ये लोग कर रहे थे हुड़दंग': जिस विरोध मार्च पर लाठीचार्ज में गई BJP...

‘ये लोग कर रहे थे हुड़दंग’: जिस विरोध मार्च पर लाठीचार्ज में गई BJP नेता की गई जान, उस पर तेजस्वी यादव की टिप्पणी

मृतक विजय कुमार सिंह बिहार के जहानाबाद भाजपा के जिला महामंत्री थे। इतना ही नहीं, लाठीचार्ज में महाराजगंज से भाजपा के सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल का भी सिर फट गया है। सांसद सिग्रीवाल को Y+ सुरक्षा मिली हुई है। इसके बावजूद उन पर लाठी चार्ज किया गया। बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता विजय कुमार सिन्हा भी जख्मी हो गए हैं।

बिहार की राजधानी पटना (Patna, Bihar) में गुरुवार (13 जुलाई 2023) को प्रदर्शन के दौरान भाजपा नेता विजय कुमार सिंह की मौत के बाद राजनीति तेज हो गई है। भाजपा नेताओं का कहना है कि पुलिस की लाठी चार्ज में भाजपा नेता की मौत हुई। वहीं, बिहार पुलिस का कहना है कि विजय सिंह बेहोशी की हालत में सड़क के किनारे मिले और इलाज के दौरान मौत हुई।

मृतक विजय कुमार सिंह बिहार के जहानाबाद भाजपा के जिला महामंत्री थे। इतना ही नहीं, लाठीचार्ज में महाराजगंज से भाजपा के सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल का भी सिर फट गया है। सांसद सिग्रीवाल को Y+ सुरक्षा मिली हुई है। इसके बावजूद उन पर लाठी चार्ज किया गया। बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता विजय कुमार सिन्हा भी जख्मी हो गए हैं।

दरअसल, शिक्षकों के समर्थन में बिहार भाजपा गुरुवार को नीतीश कुमार सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रही थी। डाकबंग्ला चौराहे पर भाजपा नेता बैरिकेडिंग से आगे बढ़े। इसी दौरान पुलिस ने लाठी चार्ज कर दी। सामने आए वीडियो दिख रहा है कि पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। इसमें कई भाजपाई घायल हो गए हैं।

सामने आई जानकारी के अनुसार, पुलिस ने विजय कुमार सिंह के सिर पर लाठी मारी, जिसमें वे बुरी तरह घायल हो गए। इसके बाद उन्हें आनन-फानन तारा अस्पताल ले जाया गया। वहाँ डॉक्टर ने जवाब दे दिया। इसके बाद बाद उन्हें पीएमसीएच अस्पताल ले जाया गया, जहाँ उन्होंने दम तोड़ दिया।

हालाँकि, विजय कुमार सिंह की मौत पर पटना के कलेक्टर और पुलिस कुछ और ही कह रही है और नीतीश कुमार सरकार का चेहरा बचाने की कोशिश कर रही है। पटना के डीएम ने कहा कि छज्जू बाग में सड़क किनारे एक व्यक्ति बेहोश मिला। शरीर में कोई चोट का निशान नहीं है। उसे पटना मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया।

इस घटना पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करने की माँग की है। चौधरी और भाजपा सांसद सुशील मोदी पार्टी नेताओं के साथ घायल कार्यकर्ताओं से मिलने के लिए पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (PMCH) पहुँचे।

सम्राट ने कहा कि लोकतंत्र की हत्या हो रही है और नीतीश कुमार ने भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या की है। उन्होंने कहा, “हम नीतीश कुमार जी पर (IPC की धारा) 302 का मुकदमा चलाने का काम करेंगे। आप लाठी चलाएँ या फिर गोली, भाजपा के कार्यकर्ता रूकने वाले नहीं हैं।”

सुशील मोदी ने कहा कि यह शांतिपूर्ण प्रदर्शन था। इसमें बड़ी संख्या में महिलाएँ भी शामिल थीं। कहीं कोई तोड़फोड़ नहीं, कोई पथराव नहीं… इसके बावजूद जानबूझकर लाठीचार्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि ये सब नीतीश कुमार के इशारे पर हुआ है। इस पर भाजपा सदन के भीतर और बाहर लड़ेगी।

इधर, प्रदेश के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि सारे शिक्षकों से मेरी भी बात हुई है। भाजपा के प्रदर्शन में कोई शामिल नहीं था। भाजपाई बेकार में हुड़दंग कर रहे थे। भाजपा पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा, “18 साल तक कौन था भइया यहाँ सरकार में? कौन था?”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

किसानों के प्रदर्शन से NHAI का ₹1000 करोड़ का नुकसान, टोल प्लाजा करने पड़े थे फ्री: हरियाणा-पंजाब में रोड हो गईं थी जाम

किसान प्रदर्शन के कारण NHAI को ₹1000 करोड़ से अधिक का नुकसान झेलना पड़ा। यह नुकसान राष्ट्रीय राजमार्ग 44 और 152 पर हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -