Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीतिपंजाब में AAP विधायक के ठिकानों पर CBI रेड, छापेमारी में मिले- 94 ब्लैंक...

पंजाब में AAP विधायक के ठिकानों पर CBI रेड, छापेमारी में मिले- 94 ब्लैंक चेक, कई आधार कार्ड, विदेशी नोट और ₹1600000+ कैश

मीडिया में सूत्रों के हवाले से आई जानकारी के अनुसार आप नेता जसवंत सिंह ने बैंक के साथ 40 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी की है। इसी मामले में सीबीआई आज उनके कई ठिकानों पर पहुँच दबिश दे रही है।

आम आदमी पार्टी (AAP) शासित पंजाब में आप के विधायक जसवंत सिंह गज्जन माजरा (Jaswant Singh Gajjan Majra) बैंक धोखाधड़ी (Bank Fraud) के मामले में फँस गए हैं। शनिवार (7 मई 2022) को CBI ने 40 करोड़ रुपए से अधिक के बैंक धोखाधड़ी मामले में पंजाब जसवंत सिंह के कई ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की। माजरा अमरगढ़ सीट से AAP के विधायक हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, CBI की टीम ने जसवंत सिंह गज्जन माजरा के मालेर कोटला स्थित पुश्तैनी घर समेत संगरूर जिले में तीन स्थानों पर छापेमारी की है। सीबीआई के अधिकारियों के मुताबिक, विधायक के खिलाफ बैंक ऑफ इंडिया ने शिकायत किया था, जिसके आधार पर ये केस दर्ज किया गया है। सूत्रों का कहना है कि छापेमारी के दौरान सीबीआई ने जसवंत सिंह गज्जन माजरा के साइन किए हुए 94 ब्लैंक चेक और कई आधार कार्डों को जब्त किया है।

इसके अलावा बताया जा रहा है कि जसवंत सिंह गज्जन माजरा के ठिकानों पर तलाशी अभियान के दौरान केंद्रीय जाँच एजेंसी ने 16.57 लाख रुपए नकद, लगभग 88 विदेशी नोट, कुछ संपत्तियों के दस्तावेज, कई बैंक अकाउंट और अन्य आपत्तिजनक दस्तावेज भी बरामद किए हैं।

उल्लेखनीय है कि सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन की टीम ने ये एक्शन तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को पंजाब पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने के एक दिन बाद लिया है। बता दें कि शुक्रवार की सुबह पंजाब पुलिस के 50 पुलिसकर्मियों की टीम ने दिल्ली स्थित उनके घर से उन्हें गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद पंजाब पुलिस उन्हें लेकर मोहाली के लिए रवाना हुई थी, लेकिन बग्गा के पिता की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने पंजाब पुलिस के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज कर लिया। इसके बाद दिल्ली पुलिस के कहने पर हरियाणा की पुलिस ने कुरुक्षेत्र में पंजाब पुलिस के काफिले को रोक लिया। बाद में दिल्ली पुलिस वहाँ गई और बग्गा को वापस दिल्ली ले आई।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी हुए हैं जितने भी OBC सर्टिफिकेट, सभी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने कर दिया रद्द : ममता...

कलकत्ता हाई कोर्ट ने बुधवार 22 मई 2024 को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका दिया। हाईकोर्ट ने 2010 के बाद से अब तक जारी किए गए करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द कर दिए हैं।

महाभारत, चाणक्य, मराठा, संत तिरुवल्लुवर… सबसे सीखेगी भारतीय सेना, प्राचीन ज्ञान से समृद्ध होगा भारत का रक्षा क्षेत्र: जानिए क्या है ‘प्रोजेक्ट उद्भव’

न सिर्फ वेदों-पुराणों, बल्कि कामंदकीय नीतिसार और तमिल संत तिरुवल्लुवर के तिरुक्कुरल का भी अध्ययन किया जाएगा। भारतीय जवान सीखेंगे रणनीतियाँ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -