Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीतिजैसे प्रभु श्रीराम ने दिया हो शबरी को सम्मान… छत्तीसगढ़ को 20 साल बाद...

जैसे प्रभु श्रीराम ने दिया हो शबरी को सम्मान… छत्तीसगढ़ को 20 साल बाद मिला जनजातीय CM, समुदाय के लोगों ने BJP का अभार जताया

भाजपा ने जनजातीय बहुल राज्य छत्तीसगढ़ में विष्णु देव साय को अपना मुख्यमंत्री घोषित किया है। खुद विष्णु देव और उनके जनजातीय समाज ने भाजपा को धन्यवाद किया है। उन्होंने इस सम्मान की तुलना भगवान राम द्वारा शबरी को दिए गए सम्मान से की है।

भारतीय जनता पार्टी ने छत्तीसगढ़ के लिए मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा कर दी है। घोषणा के मुताबिक विष्णु देव साय छत्तीसगढ़ के अगले मुख्यमंत्री होंगे। वे 2 बार विधायक, 2 बार केंद्रीय राजयमंत्री, 2 बार प्रदेश अध्यक्ष और 4 बार सांसद रह चुके हैं। विष्णु देव का छत्तीसगढ़ में जनजातीय समाज का एक बड़ा चेहरा माना जाता है। विष्णु देव साय के नाम की घोषणा रविवार (10 दिसंबर 2023) को हुई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, विष्णु देव साय कॉन्ग्रेस के अजीत जोगी (9 नवम्बर 2000 – 6 दिसम्बर 2003) के बाद छत्तीसगढ़ के दूसरे ऐसे मुख्यमंत्री होंगे जो जनजातीय समुदाय से आते हैं। उनके नाम पर अंतिम मुहर लगाने से पहले रायपुर में भाजपा के तमाम पदाधिकरियों की लम्बी मीटिंग चली। इस मीटिंग में सभी विधायक और पर्यवेक्षक मौजूद थे। कई विकल्पों पर मंथन के बाद आखिरकार सभी ने विष्णु देव साय के नाम पर सहमति जताई। विष्णु देव साय मुख्यमंत्री के संभावित चेहरों में भी एक थे।

माना यह भी जा रहा है कि जल्द ही छत्तीसगढ़ में एक उपमुख्यमंत्री की भी घोषणा हो सकती है। छत्तीसगढ़ जनजातीय बहुल प्रदेश है जहाँ इनकी आबादी लगभग 33% है। साल 2023 के चुनावों में छत्तीसगढ़ में जनजातीय समुदाय भारतीय जनता पार्टी के साथ दिखा था। कुल 90 विधानसभा सीटों में से 20 पर भाजपा के टिकट पर जनजातीय प्रत्याशी चुनाव जीते हैं। माना जा रहा है कि विष्णु देव साय की जीत के साथ भाजपा ने 2024 लोकसभा चुनावों के लिए बड़ा दाँव खेला है।

इंडिया TV मुताबिक छत्तीसगढ़ के कई जनजातीय लोगों ने कहा, “जैसे भगवान श्री राम ने शबरी को सम्मान दिया था वही भाजपा ने हमारे समुदाय के व्यक्ति को मुख्यमंत्री बना कर दोहराया है।” बताते चलें कि विधानसभा चुनाव से पहले छत्तीसगढ़ कॉन्ग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी पर जनजातीय विरोधी होने का आरोप लगाया था। तब कॉन्ग्रेस नारा दे रही थी कि जल, जंगल और जमीन जनजातीय लोगों की है जिस पर भाजपा कब्ज़ा करना चाहती है। हालाँकि बावजूद इसके जनजातीय लोगों ने मतदान के दौरान अपना विश्वास भाजपा पर दिखाया।

विष्णु देव साय छत्तीसगढ़ के कुनकुरी विधानसभा से लगातार तीसरी बार भाजपा के विधायक बने हैं। उन्होंने कॉन्ग्रेस कैंडिडेट को 25,541 वोटों से हराया था। अपने नाम की घोषणा के बाद विष्णु देव साय ने पार्टी हाईकमान का आभार जताया है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने अपने एक छोटे से कार्यकर्ता पर इतना विश्‍वास जताया और राज्‍य का नेतृत्‍व करने का दायित्‍व दिया है। उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, अमित शाह, जेपी नड्डा का भी आभार जताया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली हाईकोर्ट ने शिव मंदिर के ध्वस्तीकरण को ठहराया जायज, बॉम्बे HC ने विशालगढ़ में बुलडोजर पर लगाया ब्रेक: मंदिर की याचिका रद्द, मुस्लिमों...

बॉम्बे हाईकोर्ट ने मकबूल अहमद मुजवर व अन्य की याचिका पर इंस्पेक्टर तक को तलब कर लिया। कहा - एक भी संरचना नहीं गिराई जाए। याचिका में 'शिवभक्तों' पर आरोप।

आरक्षण पर बांग्लादेश में हो रही हत्याएँ, सीख भारत के लिए: परिवार और जाति-विशेष से बाहर निकले रिजर्वेशन का जिन्न

बांग्लादेश में आरक्षण के खिलाफ छात्र सड़कों पर उतर आए हैं। वहाँ सेना को तैनात किया गया है। इससे भारत को सीख लेने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -