Thursday, June 13, 2024
Homeराजनीतिपंजाब में कॉन्ग्रेस और लोक इंसाफ पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच हुई भिड़ंत, चली गोली:...

पंजाब में कॉन्ग्रेस और लोक इंसाफ पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच हुई भिड़ंत, चली गोली: 3 घायल, गाड़ी भी तोड़ी

कॉन्ग्रेस नेता ने बताया, "घटना की वीडियो में विधायक बैंक और उसका बेटा अजयप्रीत दिखाई दे रहे हैं। बैंस पूरा पागल हो गया है क्योंकि वो जानता है कि वो इस बार चुनाव हारेगा। गुस्से में उसने कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं पर हमला किया। ऐसे लोगों को खुलेआम घूमने की इजाजत कैसे मिल सकती हैं जो सरेआम गुंडागर्दी और हिंसा में शामिल हैं।"

पंजाब विधानसभा चुनाव से ठीक पहले लुधियाना में कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं और लोक इंसाफ पार्टी के कार्यकर्ताओं के बीच जमकर भिड़ंत हुईं। सामने आई जानकारी के अनुसार, इनमें एक पक्ष कॉन्ग्रेस नेता कमलजीत सिंह करवाल के समर्थन में था और दूसरा लोक इंसाफ पार्टी के विधायक सिमरजीत बैंस के समर्थन में। ये दोनों ही नेता अपनी-अपनी पार्टी से आत्मनगर विधानसभा में प्रत्याशी है।

करवाल ने आरोप लगाया कि विधायक बैंस और उनके बेटे अजयप्रीत व उनके 25-30 समर्थकों ने उनके ऊपर उस समय हमला किया जब वो दाबा रोड पर पोल मीटिंग के लिए जा रहे थे। करवाल ने कहा कि बैंस और उनसे साथियों ने उन पर ओपन फायरिंग की और गाड़ियों में जमकर तोड़फोड़ की। कॉन्ग्रेस नेता का दावा है कि घटना के समय विधायक व उनके साथ आए सभी लोगों पर तलवार, लोहे की रॉड जैसे हथियार थे। पूरी घटना में कम से कम तीन लोग घायल हुए।

लुधियाना के ज्वाइंट कमिशनर पुलिस ने बताया कि कॉन्ग्रेस नेता करवाल ने आरोप लगाया है कि सिमरजीत बैंस की ओर से हमला करके गोलीबारी की गई। अब मामले में आगे कार्रवाई होगी। वहीं इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, इलाके में तनाव देखते हुए भारी पुलिस की तैनाती कर दी गई है।

करवाल ने जानकारी दी है कि वे अपने साथियों के साथ दाबा रोड पर मीटिंग करने आए थे जब बैंस समर्थकों ने हथियार लेकर उन पर हमला किया और उनकी गाड़ियाँ तोड़ी। करवाल का कहना है कि बैंस की ओर से ओपन फायरिंग भी की हई। कॉन्ग्रेस नेता ने बताया, “घटना की वीडियो में विधायक बैंस और उसका बेटा अजयप्रीत दिखाई दे रहे हैं। बैंस पूरा पागल हो गया है क्योंकि वो जानता है कि वो इस बार चुनाव हारेगा। गुस्से में उसने कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं पर हमला किया। ऐसे लोगों को खुलेआम घूमने की इजाजत कैसे मिल सकती हैं जो सरेआम गुंडागर्दी और हिंसा में शामिल हैं।”

इस मामले में बैंस का कहना है कि न तो वह और न ही उनके समर्थकों ने ये हमला किया है। कॉन्ग्रेस प्रत्याशी सिर्फ अपनी मनगढ़ंत कहानियाँ बना रहे हैं। बैंस ने अपने बयान में ये भी दावा किया कि उन लोगों ने नहीं बल्कि कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनके समर्थकों को प्रताड़ित किया। अब अतिरिक्त डीसीपी बलविंदर सिंह रंधावा ने अपने बयान में कहा कि दोनों पक्षों की ओर से बयान रिकॉर्ड कर लिए गए हैं और शिमलापुरी थाने में एफआईआर दर्ज हो गई है। जाँच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि लोक इंसाफ पार्टी की शुरुआत 2016 में सिमरजीत बैंस द्वारा की गई थी। साल 2017 में इन्होंने आम आदमी पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़े थे। हालाँकि, इस बार ये पार्टी अकेले चुनावी मैदान में उतरी है। आत्म नगर में जहाँ सबसे ज्यादा संवेदनशील पोलिंग स्टेशन हैं। वहीं ये पंजाब चुनाव से पहले दोनों पार्टियों के बीच दूसरी भिड़ंत हैं। इससे पहले होर्डिंग लगाने के चक्कर में दोनों पक्षों में झगड़ा हुआ था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -