Sunday, May 19, 2024
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेस के पूर्व CM ने पूँछ में जवानों पर हमले को बताया 'चुनावी स्टंट',...

कॉन्ग्रेस के पूर्व CM ने पूँछ में जवानों पर हमले को बताया ‘चुनावी स्टंट’, फारूख अब्दुल्ला बोले – पाकिस्तान के चूड़ियाँ नहीं पहनी, उसके पास परमाणु बम

अब्दुल्ला ने कहा, "अगर रक्षा मंत्री कहते हैं कि पीओके को वापस लाएँगे, तो जाएँ। उन्हें रोकने वाले हम कौन हैं, लेकिन याद रहे, उन्होंने (पाकिस्तान) भी चूड़ियाँ नहीं पहन रखी। उनके पास परमाणु बम हैं और दुर्भाग्य से वो परमाणु बम हमारे ऊपर गिरेंगे।"

भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि पीओके भारत का हिस्सा था, है और रहेगा। भारत को हमला करके पीओके पर कब्जे की जरूरत नहीं है, बल्कि जम्मू-कश्मीर में विकास के कार्यों को देखते हुए खुद पीओके के लोग भारत में ही जुड़ना चाहते हैं। खुद पीओके के लोग ही पाकिस्तान को छोड़ना चाहते हैं। हमें अपनी तरफ से ताकत के इस्तेमाल की जरूरत नहीं है। उनके इस बयान पर नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने पाकिस्तानी शैली में बयान दिया है। जैसा कि हमेशा पाकिस्तान बोलता रहा है कि ‘उसके पास परमाणु बम है, उसने चूड़ियाँ नहीं पहन रखी।’ ठीक यही बोली फारूक अब्दुल्ला के मुँह से निकली है।

इस बीच, पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और कॉग्रेसी नेता चरणजीत सिंह चन्नी ने पुँछ में हुए आतंकी हमले को बीजेपी का ‘चुनावी स्टंट’ करार दे दिया। बता दें कि इस आतंकी हमले में एयरफोर्स के एक जवान को वीरगति प्राप्त हुई है, जिसके बाद सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है और आतंकवादियों की तलाश में अभियान चला रहे हैं।

सबसे पहले बात फारूक अब्दुल्ला की। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बयान पर पाकिस्तान से प्रतिक्रिया आई या नहीं आई, फारूक अब्दुल्ला ने पाकिस्तानी बोली में रक्षा मंत्री को ही चुनौती दे डाली। उन्होंने कहा कि ‘दम है तो राजनाथ सिंह पीओके वापस लेकर दिखाएँ।’ अब्दुल्ला ने आगे कहा, “अगर रक्षा मंत्री कहते हैं कि पीओके को वापस लाएँगे, तो जाएँ। उन्हें रोकने वाले हम कौन हैं, लेकिन याद रहे, उन्होंने (पाकिस्तान) भी चूड़ियाँ नहीं पहन रखी। उनके पास परमाणु बम हैं और दुर्भाग्य से वो परमाणु बम हमारे ऊपर गिरेंगे।”

पुँछ में आतंकी हमले पर बोलते हुए फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि ‘इसकी मुख्य वजह भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव है। दोनों देशों को बातचीत के माध्यम से सभी मुद्दों को सुलझाने चाहिए।’ खास बात ये है कि फारूक की दोनों ही बातें पाकिस्तानी लहज़े में ही बोली गई हैं, ठीक उसी तरह से, जैसे पाकिस्तानी हुक्मरान और सेना बोलती रही हैं। खास बात ये है कि फारूक अब्दुल्ला के बयान को पाकिस्तानी मीडिया में भी खासी तवज्जो मिल रही है।

बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि पीओके पर अब भारत को हमला करके जबरदस्ती मिलाने की जरूरत नहीं है। पीओके भारत का हिस्सा था, है और रहेगा। अब तो स्वयं पीओके में रहने वाले लोग भारत में मिलने के लिए बेकरार हैं। वो भारत के जम्मू-कश्मीर में विकास देख रहे हैं। वो पाकिस्तान से जवाब माँग रहे हैं। ऐसे में हमें युद्ध की जरूरत नहीं, बल्कि स्वयं ही लोग भारत में आना चाहते हैं। लेकिन फारूक अब्दुल्ला ने इस बात को न सिर्फ युद्ध से जोड़ दिया, बल्कि भारत की ओर से हमले के जवाब में पाकिस्तानी एटम बम का डर भी दिखा दिया।

कॉन्ग्रेस के पूर्व सीएम ने पुँछ हमले को बताया चुनावी स्टंट

इस बीच, पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और कॉन्ग्रेस के सीनियर लीडर चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा है कि पुँछ में हुआ आतंकी हमला कोई आतंकी हमला नहीं, बल्कि बीजेपी का चुनावी स्टंट है। चन्नी ने कहा, ‘ये स्टंटबाजी हो रही है। हमले नहीं हो रहे। पिछली बार भी चुनाव आया तो ऐसे स्टंट खेले गए और बीजेपी को जिताने का काम किया गया।’ उन्होंने कहा कि पहले से तैयारी करके हमले करवाए जाते हैं। यह भाजपा को जिताने का स्टंट होता है और इसमें कोई सच्चाई नहीं होती।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में वायुसेना के काफिले पर हमले में शामिल आतंकवादियों का पता लगाने के लिए तलाशी अभियान जारी है। इस मामले में कई लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। शाहसितार के पास शनिवार शाम हुए हमले में वायुसेना के 5 कर्मी घायल हो गए और उनमें से एक को सेना के अस्पताल में वीरगति प्राप्त हुई।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कॉन्ग्रेस के मेनिफेस्टो में मुस्लिम’ : सिर्फ इतना लिखने पर ‘भीखू म्हात्रे’ को कर्नाटक पुलिस ने गिरफ्तार किया, बोलने की आजादी का गला घोंट...

सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर 'भीखू म्हात्रे' नाम के फिक्शनल नाम से एक्स पर अपनी राय रखते हैं। उन्होंने कॉन्ग्रेस के मेनिफेस्टो पर अपनी बात रखी थी।

जिसे वामपंथन रोमिला थापर ने ‘इस्लामी कला’ से जोड़ा, उस मंदिर को तोड़ इब्राहिम शर्की ने बनवाई थी मस्जिद: जानिए अटाला माता मंदिर लेने...

अटाला मस्जिद का निर्माण अटाला माता के मंदिर पर ही हुआ है। इसकी पुष्टि तमाम विद्वानों की पुस्तकें, मौजूदा सबूत भी करते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -