Saturday, July 31, 2021
Homeराजनीति'5 साल से अपना खून-पसीना कॉन्ग्रेस को दिया, ₹5 करोड़ में बेच दिया टिकट'

‘5 साल से अपना खून-पसीना कॉन्ग्रेस को दिया, ₹5 करोड़ में बेच दिया टिकट’

"आज बीजेपी के 14 विधायक ऐसे हैं जिन्हें कॉन्ग्रेस से भगा दिया गया। 7 सांसद ऐसे हैं जिनकी पृष्ठभूमि कॉन्ग्रेसी है। बीजेपी ने 3 महीने में मुझे भी 6 बार ऑफर दिया। लेकिन मैंने इसे स्वीकार नहीं किया और न करूॅंगा।"

हरियाणा कॉन्ग्रेस का घमासान थमता नहीं दिख रहा। पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर ने विधानसभा चुनाव के टिकटों के बॅंटवारे में धांधली का आरोप लगाते हुए कांग्रेस मुख्यालय के बाहर बुधवार को प्रदर्शन किया। उन्होंने सोहना विधानसभा सीट का टिकट पॉंच करोड़ रुपए में बेचे जाने का आरोप लगाया।

तंवर ने समर्थकों के साथ पार्टी मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन किया और धरना दिया। कहा कि विधानसभा की सीटों के बंटवारे को लेकर बड़े पैमाने पर धांधली चल रही है। पुराने और समर्पित कार्यकर्ताओं की अनदेखी की जा रही है। उन्होंने कहा कि धांधली कर अगर कमजोर उम्मीदवार मैदान में उतारे गए तो पार्टी जीत कैसे हासिल करेगी।

तंवर ने कहा, “पिछले 5 सालों से मैंने अपना खून-पसीना कॉन्ग्रेस को दिया। यहाँ नेतृत्व बरबाद हो चुका है। हम पार्टी के लिए समर्पित हैं, लेकिन ऐसे लोगों को टिकट क्यों दी जाए, जिन्होंने अभी हाल ही में पार्टी को ज्वाइन किया है और पहले पार्टी की आलोचना कर चुके हैं।

उन्होंने कहा, “आज बीजेपी के 14 विधायक ऐसे हैं जिन्हें कॉन्ग्रेस से भगा दिया गया। 7 सांसद ऐसे हैं जिनकी पृष्ठभूमि कॉन्ग्रेसी है। बीजेपी ने 3 महीने में मुझे भी 6 बार ऑफर दिया। लेकिन मैंने इसे स्वीकार नहीं किया और न करूॅंगा।”

उनका कहना है कि बीते 5 सालों में जिन्होंने पार्टी के लिए काम किया उन्हें टिकट बँटवारे के दौरान अनदेखा किया गया और जिन्होंने पार्टी के ख़िलाफ़ काम किया, उन्हें भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने टिकट देने के दौरान तवज्जो दी। वो चाहते उनके समर्थकों को टिकट दी जाए। जिसके लिए उन्होंने हरियाणा से टिकट चाहने वाले कॉन्ग्रेसियों की लंबी चौड़ी सूची आलाकमान को भी सौंपी हैं

यहाँ बता दें कि अभी कुछ दिन पहले ही तंवर की जगह शैलजा कुमारी को हरियाणा कॉन्ग्रेस की कमान दी गई है। हुड्डा स्वयं तंवर को अलग करने की माँग कर रहे थे। जिसके बाद से दोनों नेताओं में अंदरुनी तनातनी चल रही थी, लेकिन चुनाव नजदीक आते-आते ये सार्वजनिक हो गया है।

सूत्रों के अनुसार तंवर ने पार्टी नेतृत्व से 10 सीटें मॉंगी है। राज्य में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जाएँगे और 24 अक्टूबर को नतीजे आएँगे। 90 सदस्यीय विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा 78 उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर चुकी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शिवाजी से सीखा, 60 साल तक मुगलों को हराते रहे: यमुना से नर्मदा, चंबल से टोंस तक औरंगज़ेब से आज़ादी दिलाने वाले बुंदेले की...

उनके बारे में कहते हैं, "यमुना से नर्मदा तक और चम्बल नदी से टोंस तक महाराजा छत्रसाल का राज्य है। उनसे लड़ने का हौसला अब किसी में नहीं बचा।"

हिंदू मंदिरों की संपत्तियों का दूसरे धर्म के कार्यों में नहीं होगा उपयोग, कर्नाटक में HRCE ने लगाई रोक

कर्नाटक के हिन्दू रिलीजियस एण्ड चैरिटेबल एंडोवमेंट्स (HRCE) विभाग द्वारा जारी किए गए आदेश में यह कहा गया है कि हिन्दू मंदिर से प्राप्त किए गए फंड और संपत्तियों का उपयोग किसी भी तरह के गैर -हिन्दू कार्य अथवा गैर-हिन्दू संस्था के लिए नहीं किया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,211FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe