Wednesday, January 26, 2022
Homeराजनीति'PFI के दलालों वापस जाओ...': हाथरस पहुँचे AAP सांसद संजय सिंह पर फेंकी स्याही,...

‘PFI के दलालों वापस जाओ…’: हाथरस पहुँचे AAP सांसद संजय सिंह पर फेंकी स्याही, कहा- लाशों की राजनीति बंद करो

वीडियो में देखा जा सकता है कि पहले दीपक शर्मा उस जगह आते हैं, जहाँ संजय सिंह मीडिया से घिरे खड़े होते हैं। इसके बाद इंक की बोतल संजय सिंह पर फेंकते हुए कहते हैं- 'PFI के दलालों वापस जाओ... वापस जाओ।'

हाथरस के पीड़ित परिवार से मिलने गए आम आदमी पार्टी (AAP) के सांसद संजय सिंह के ऊपर आज (अक्टूबर 5, 2020) स्याही फेंकी गई। स्याही फेंकने वाले का नाम दीपक शर्मा बताया जा रहा है। दीपक ने संजय सिंह पर स्याही फेंकते हुए नारे लगाए- ‘PFI के दलालों वापस जाओ… वापस जाओ।’ इस घटना के बाद युवक को फौरन हिरासत में ले लिया गया

इस घटना की एक वीडियो भी सामने आई है। वीडियो में देखा जा सकता है कि पहले दीपक शर्मा उस जगह आते हैं, जहाँ संजय सिंह मीडिया से घिरे खड़े होते हैं। इसके बाद इंक की बोतल संजय सिंह पर फेंकते हुए कहते हैं- ‘PFI के दलालों वापस जाओ… वापस जाओ।’ दीपक के इतना करते ही भीड़ में खड़ा एक युवक उन्हें पकड़ कर संजय सिंह से दूर करता है और दोनों के बीच हल्की झड़प हो जाती है।

इतने पर भी दीपक शांत नहीं होते। उन्हें पकड़ने कई लोग उनके पीछे भागते हैं मगर वह तब भी नारे लगाते रहते हैं। वह आप के प्रतिनिधि मंडल को पीएफआई के गिद्ध कहते हैं। साथ ही आरोप लगाते हैं कि ऐसे लोग लाशों पर राजनीति कर रहे हैं।  जब पुलिस दीपक को पकड़ ले जा रही होती हैं, तब भी वह कहते हैं- लाशों की राजनीति बंद करो।

एनडीटीवी रिपोर्टर का दावा है कि यह घटना गाँव के ही बाहर घटी। गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह और विधायक राखी बिड़लान 5 लोगों के डेलिगेशन के साथ पीड़ित परिवार से मिलने पहुँचे थे।

वहाँ उन्होंने मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती पर कई गंभीर आरोप लगाए। संजय सिंह ने हाथरस मामले में बसपा अध्यक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि मायावती और उनकी पार्टी इस मामले में भाजपा के मुखपत्र की तरह काम रही है।

संजय सिंह ने यह भी कहा कि आज प्रदेश के कोने-कोने में बेटियों के साथ दरिंदगी हो रही है, जो बताता है कि योगी आदित्यनाथ से प्रदेश नहीं सँभल रहा है, इसलिए उन्हें इस्तीफा देकर अपने मठ में वापस लौट जाना चाहिए। 

आप नेता ने कह कि जिस तरह से हाथरस मामले में वहाँ के जिलाधिकारी को बचाया जा रहा है, उससे भी साफ लग रहा है कि कहीं, मुख्यमंत्री की पोल ना खुल जाए, इसलिए जिलाधिकारी को सस्पेंड करने के बजाए बचाया जा रहा है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गणतंत्र दिवस परेड: सेना की 73 साल पुरानी यूनिफॉर्म में दिखा राजपूत रेजीमेंट, हाथ में Pak के साथ हुए युद्ध में इस्तेमाल की गई...

स्वतंत्र भारत आज अपना 73वाँ गणतंत्र दिवस की खुशिया मना रहा है। राजपथ पर विराट भारत की तस्वीर देखने को मिल रही है।

माइनस 40 डिग्री हो या 15000 फीट की ऊँचाई… ITBP के हिमवीरों ने तिरंगा फहरा यूँ मनाया 73वाँ गणतंत्र दिवस

सीमाओं की रक्षा में तैनात भारतीय तिब्बत बॉर्डर पुलिस (ITBP) ने लद्दाख और उत्तराखंड की बर्फीली ऊँचाई वाली चोटियों में तिरंगा फहराया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
153,622FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe