Wednesday, September 29, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'ISIS की दुल्हन' को ₹5 करोड़ का घर, इलाज का पूरा खर्चा: आतंकी हमलों...

‘ISIS की दुल्हन’ को ₹5 करोड़ का घर, इलाज का पूरा खर्चा: आतंकी हमलों का करती है बचाव, UK दे रहा सौगात पर सौगात

एक हमले में उसकी एक बाँह धमाके में कट कर अलग हो गई थी। NHS की मदद से उसे एक कृत्रिम बाँह लगाई गई है। इसकी कीमत £3,000 (3.10 लाख रुपए) है।

यूनाइटेड किंगडम ने ‘ISIS की दुल्हन’ सामिया हुसैन को £500,000 (5.17 करोड़ रुपए) का एक घर दिया है। साथ ही उसे वहाँ की राष्ट्रीय स्वास्थ्य योजना (NHS) के तहत मुफ्त इलाज की सुविधा भी दी गई। इस ‘ISIS की दुल्हन’ ने मेनचेस्टर में हुए बम धमाके में मारे गए बच्चों को ‘युद्ध का शिकार’ बताया था। याद हो कि मई 2017 में मेनचेस्टर में हुए आत्मघाती धमाके में 23 लोगों की मौत हो गई थी और 1000 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।

सामिया हुसैन नाम की ये महिला पश्चिमी लंदन के साउथॉल की रहने वाली है। महिला ने दावा किया था कि जनवरी 2015 में जब सीरिया में सिविल वॉर अपने चरम पर था, तब उसे ऑनलाइन फँसा के (Groom) वहाँ बुलाया गया था और युद्ध में हिस्सा लेने के लिए बाध्य किया गया था। इसके बाद एक बम धमाके में वो घायल हो गई। 1 साल के भीतर हुए इस हमले की चपेट में आकर उसका एक बाँह और स्तन गंभीर रूप से जख्मी हो गए।

इसके बाद वो कई महीनों तक बिस्तर पर पड़ी रही। उसका इलाज चल रहा था। 7 महीने तक इलाज के बाद वो फरवरी 2020 में ब्रिटेन पहुँची। वहाँ उसे गिरफ्तार कर लिया गया, लेकिन उसके खिलाफ कभी कोई आपराधिक मुकदमा नहीं चलाया गया। उसकी एक बाँह धमाके में कट कर अलग हो गई थी। NHS की मदद से उसे एक कृत्रिम बाँह लगाई गई है। इसकी कीमत £3,000 (3.10 लाख रुपए) है। एक इंटरव्यू में उसने कहा था कि उसे तो कटे हुए सिर देख कर भी कोई हैरानी नहीं होती है, क्योंकि वो इसकी आदी रही है।

डॉक्टरों की फी से लेकर इलाज के बाद के अन्य खर्च भी है, जो इसके अतिरिक्त हैं। अब ‘ISIS की दुल्हन’ सामिया हुसैन पश्चिमी लंदन में सरकार द्वारा दिए गए घर में रह रही है। मैनचेस्टर में हुए बम धमाके में मारे गए लोगों में 10 ऐसे थे, जिनकी उम्र 20 से कम थी। शामिया हुसैन ने इन किशोरों की हत्या की निंदा करने से इनकार कर दिया था। साथ ही इसे आतंकी हमले की बजाए ‘युद्ध’ बताया था। उसने सीरिया में बमबारी से महिलाओं और बच्चों के मारे जाने का दावा करते हुए कहा था कि सब, सबको मार रहे हैं।

उसने इस घटना को एक ‘दुष्ट साइकिल’ का हिस्सा बताया था। साथ ही कहा था कि इसमें मारे जाने वाले दोनों तरफ के लोग ‘युद्ध के शिकार’ हैं। उसने कहा था कि वो इसके पक्ष में नहीं है कि ISIS के विरोध में बना सैन्य गठबंधन सीरिया में जाकर महिलाओं व बच्चों की ‘हत्या’ करे। सीरिया में एक हमले में जब शामिया हुसैन की बाँह कट गई थी, उस दौरान उसके पाँव भी जख्मी हो गए थे। लेकिन, अब NHS की मदद से इलाज हुआ है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘उमर खालिद को मिली मुस्लिम होने की सजा’: कन्हैया के कॉन्ग्रेस ज्वाइन करने पर छलका जेल में बंद ‘दंगाई’ के लिए कट्टरपंथियों का दर्द

उमर खालिद को पिछले साल 14 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था, वो भी उत्तर पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा के मामले में। उसपे ट्रंप दौरे के दौरान साजिश रचने का आरोप है

कॉन्ग्रेस आलाकमान ने नहीं स्वीकारा सिद्धू का इस्तीफा- सुल्ताना, परगट और ढींगरा के मंत्री पदों से दिए इस्तीफे से बैकफुट पर पार्टी: रिपोर्ट्स

सुल्ताना ने कहा, ''सिद्धू साहब सिद्धांतों के आदमी हैं। वह पंजाब और पंजाबियत के लिए लड़ रहे हैं। नवजोत सिंह सिद्धू के साथ एकजुटता दिखाते हुए’ इस्तीफा दे रही हूँ।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
125,044FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe