Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीतिपूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह का निधन, PM मोदी ने कहा- उन्होंने एक सैन्य...

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह का निधन, PM मोदी ने कहा- उन्होंने एक सैन्य अधिकारी और नेता के रूप में देशसेवा की

जब जसवंत सिंह विदेश मंत्री थे, तो भारत-पाकिस्तान तनाव का काल था, जिससे वो बखूबी निपटे। भारत-अमेरिका सैन्य संबंधों में एक नए युग की शुरुआत उन्हीं के रक्षा मंत्री रहते हुए हुई थी।

भारत के पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा के वयोवृद्ध नेता रहे जसवंत सिंह का रविवार (सितम्बर 27, 2020) की सुबह निधन हो गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जसवंत सिंह के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि उन्होंने तत्परतापूर्वक देश की सेवा की, पहले तो एक सैनिक के रूप में और फिर राजनीति में अपनी लम्बी पारी के दौरान। उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में भी जसवंत सिंह ने महत्वपूर्ण मंत्रालय संभाले।

बता दें कि भाजपा नेता जसवंत सिंह ने वाजपेयी सरकार में रक्षा, वित्त और विदेश जैसे महत्वपूर्ण मंत्रालयों को संभाला था। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी जसवंत सिंह के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि वो वरिष्ठ भाजपा नेता के निधन से काफी दुःखी हैं। राजनाथ ने कहा कि जसवंत ने अपनी संसदीय पारी में एक प्रभावशाली मंत्री के रूप में अपनी जगह बनाई। भाजपा के कई अन्य नेताओं ने भी शोक व्यक्त किया।

जसवंत सिंह भारतीय सेना में भी सेवा दे चुके थे। उन्होंने 60 की दशक के अंत में ही राजनीति में कदम रखा था लेकिन जनसंघ में आने के बाद उन्हें सफलता मिलनी शुरू हुई और 1980 में वो राज्यसभा सांसद के रूप में संसद पहुँचे। केंद्रीय वित्त मंत्री के रूप में उन्होंने कई आर्थिक सुधारों को गति दी। वहीं विदेश मंत्री के रूप में उनका कार्यकाल भारत-पाकिस्तान तनाव का काल था, जिससे वो बखूबी निपटे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe