Tuesday, July 16, 2024
Homeराजनीतिबंगाल में नागरिकता कानून लागू नहीं करूँगी, चाहे तो सरकार बर्खास्त कर दें: ममता...

बंगाल में नागरिकता कानून लागू नहीं करूँगी, चाहे तो सरकार बर्खास्त कर दें: ममता बनर्जी

“पहले मैं अकेली इसके खिलाफ थी। आज दिल्ली के सीएम ने कहा कि वह इसे इजाजत नहीं देंगे। बिहार के सीएम ने कहा कि वह एनआरसी को अनुमति नहीं देंगे। मैं उनसे कहना चाहती हूँ कि नागरिकता संशोधन कानून को भी इजाजत न दें।"

पश्चिम बंगाल में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पिछले चार दिनों से जारी हिंसा के बाद सोमवार (दिसंबर 16, 2019) को राज्‍य की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी सड़क पर उतर आईं। तृणमूल कॉन्ग्रेस की ओर से आयोजित विशाल रैली में ममता बनर्जी ने कहा, “हम सभी नागरिक हैं। सांप्रदायिक सौहार्द हमारा लक्ष्‍य है। हम एनआरसी और नागरिकता संशोधन कानून को पश्चिम बंगाल में अनुमति नहीं देंगे।” ममता ने कहा कि वो राज्‍य में नागरिकता संशोधन कानून को हरी झंडी नहीं देंगी। उन्‍होंने NRC और नागरिकता संशोधन कानून दोनों को ही असंवैधानिक बताया है।

ममता बनर्जी ने कहा, “मैं पश्चिम बंगाल में संशोधित नागरिकता कानून और एनआरसी को कभी अनुमति नहीं दूँगी। यदि आप मेरी सरकार को बर्खास्त करना चाहते हैं, तो आप कर सकते हैं।” इस दौरान ममता बनर्जी ने सभी राज्यों के सीएम को एनआरसी और सीएए को लेकर संदेश दिया है। इस दौरान उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार के सबका साथ सबका विकास नारे पर निशाना साधते हुए कहा, “केवल बीजेपी यहाँ बचे और बाकी सब चले जाएँ, यही बीजेपी की राजनीति है। यह कभी नहीं हो पाएगा। भारत सभी का है। अगर सबका साथ नहीं रहेगा तो सबका विकास कैसे होगा? नागरिकता कानून किसके लिए है?”

ममता ने नागरिकता संशोधन कानून के विरोध को जायज ठहराते हुए कहा, “पहले मैं अकेली इसके खिलाफ थी। आज दिल्ली के सीएम ने कहा कि वह इसे इजाजत नहीं देंगे। बिहार के सीएम ने कहा कि वह एनआरसी को अनुमति नहीं देंगे। मैं उनसे कहना चाहती हूँ कि नागरिकता संशोधन कानून को भी इजाजत न दें। एमपी के सीएम, पंजाब के सीएम, छत्तीसगढ़ के सीएम और केरल के सीएम ने भी यही कहा है। सभी को यही कहना चाहिए।”

पश्चिम बंगाल में नागरिकता संशोधन कानून का विरोध जारी है। बंगाल में तीसरे दिन भी उत्पातियों ने मुर्शिदाबाद के पास रेलवे स्टेशनों में तोड़फोड़ और आगजनी की। रेल पटरी पर टायर जलाकर ट्रेनों को रोका और पथराव किया। मौक़े पर पहुँची पुलिस के वाहन को भी फूँक दिया। एहतियातन कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया। साथ ही 6 ज़िलों में इंटरनेट सेवाएँ भी बंद कर दी गई हैं।

रविवार को बंगाल में मुर्शिदाबाद, बीरभूम और उत्तर 24 परगना में हिंसक प्रदर्शन हुए। इन विरोध-प्रदर्शनों के चलते यातायात प्रभावित रहा और लोगों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ा। हावड़ा 24 परगना और मुर्शिदाबाद के विभिन्न स्टेशनों पर ट्रेनों को रेक दिया गया। इस बीच, मालदा और आसपास के ज़िलों में इंटरनेट सेवा बंद रही।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारतवंशी पत्नी, हिंदू पंडित ने करवाई शादी: कौन हैं JD वेंस जिन्हें डोनाल्ड ट्रम्प ने चुना अपना उपराष्ट्रपति उम्मीदवार, हमले के बाद पूर्व अमेरिकी...

पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को रिपब्लिकन पार्टी के नेशनल कंवेंशन में राष्ट्रपति और सीनेटर JD वेंस को उपराष्ट्रपति उम्मीदवार चुना है।

जम्मू-कश्मीर के डोडा में 4 जवान बलिदान, जंगल में छिपे थे इस्लामी आतंकवादी: हिन्दू तीर्थयात्रियों पर हमला करने वाले आतंकी समूह ने ली जिम्मेदारी

जम्मू कश्मीर के डोडा में हुए आतंकी हमले में एक अफसर समेत 4 जवान वीरगति को प्राप्त हुए हैं। इस हमले की जिम्मेदारी कश्मीर टाइगर्स ने ली है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -