Tuesday, May 21, 2024
Homeराजनीतिअगस्ता वेस्टलैंड मामला: गिरफ़्तारी के डर से कमलनाथ का भांजा हुआ ED के दफ्तर...

अगस्ता वेस्टलैंड मामला: गिरफ़्तारी के डर से कमलनाथ का भांजा हुआ ED के दफ्तर से फरार

रतुल पुरी इस मामले में ईडी के अधिकारियों को पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहे थे। जिसके कारण ईडी उन्हें गिरफ्तार करना चाहती थी। रतुल को अपनी गिरफ्तारी की भनक लग चुकी थी, इसलिए वह......

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी प्रवर्तन निदेशालय की कस्टडी से फरार हो गए हैं। जानकारी के मुताबिक अगस्ता वेस्टलैंड मामले में पूछताछ के मद्देनजर ईडी ने उन्हें समन भेजकर बुलवाया था। जिसके बाद वह शनिवार (जुलाई 27, 2019) को ईडी के दफ्तर तो पहुँचे, लेकिन जब अधिकारियों ने उनसे इंतजार करने को कहा तो वह वहाँ से बिना कुछ बताए चले गए। बताया जा रहा है कि पुरी वीवीआईपी चॉपर घोटाले में गिरफ्तारी के डर से फरार हुए हैं।

गौरतलब है इससे पहले भी अप्रैल महीने में प्रवर्तन निदेशालय ने वीवीआईपी घोटाले में रतुल पुरी को पूछताछ के लिए बुलाया था। उनपर आरोप है कि अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर घोटाले में उनकी कंपनी से दुबई रकम ट्रांसफर की गई थी। इसके अलावा इस मामले में हाल में सरकारी गवाह बने बिचौलिए और दुबई के कारोबारी राजीव सक्सेना द्वारा दर्ज बयान में पुरी का नाम आया था। जिसके बाद प्रवर्तन निदेशालय के विशेष लोक अभियोजक डीपी सिंह और एन के मट्टा ने दिल्ली की विशेष अदालत को बताया था कि एजेंसी ‘आरजी’ नाम के व्यक्ति की पहचान करना चाहती है।

दैनिक जागरण की खबर के मुताबिक रतुल पुरी इस मामले में ईडी के अधिकारियों को पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहे थे। जिसके कारण ईडी उन्हें गिरफ्तार करना चाहती थी। रतुल को अपनी गिरफ्तारी की भनक लग चुकी थी, इसलिए वह अधिकारियों को चकमा देकर फरार हुए। दफ्तर से निकलने के बाद रतुल दिल्ली की विशेष अदालत पहुँचे, जहाँ उन्होंने गिरफ्तारी से बचने के लिए अग्रिम जमानत याचिका दाखिल की। इस याचिका की सुनवाई आज अदालत में होगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -