Wednesday, July 28, 2021
Homeराजनीतिचुनाव में TMC की हिंसा को भुलाकर, EC के फैसले पर सब मिलकर पीट...

चुनाव में TMC की हिंसा को भुलाकर, EC के फैसले पर सब मिलकर पीट रहे छाती

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बसपा प्रमुख मायावती, अखिलेश यादव, कॉन्ग्रेस पार्टी और चंद्रबाबू नायडू को अपने ट्वीट में टैग करके बंगाल की जनता के साथ खड़े होने के लिए आभार प्रकट किया है। उन्होंने लिखा है कि भाजपा के निर्देश पर चुनाव आयोग का पक्षपातपूर्ण निर्णय लोकतंत्र पर हमला है।

पश्चिम बंगाल में अमित शाह के रोड शो में हुई हिंसा के बाद चुनाव आयोग के निर्णय की टीएमसी समेत कई विपक्षी पार्टियों ने आलोचना की है। एक ओर जहाँ इस हिंसा का आरोप टीएमसी और भाजपा ने एक दूसरे पर लगाया है। वहीं, ममता बनर्जी ने उनकी पार्टी के साथ खड़े होने के लिए ट्वीट करते हुए विपक्षी दलों का आभार जताया है।

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बसपा प्रमुख मायावती, अखिलेश यादव, कॉन्ग्रेस पार्टी और चंद्रबाबू नायडू को अपने ट्वीट में टैग करके बंगाल की जनता के साथ खड़े होने के लिए आभार प्रकट किया है। उन्होंने लिखा है कि भाजपा के निर्देश पर चुनाव आयोग का पक्षपातपूर्ण निर्णय लोकतंत्र पर हमला है। पश्चिम बंगाल के लोग इसका कड़ा जवाब देंगे।

गौरतलब है बंगाल में होती हिंसा पर निर्वाचन आयोग ने चुनाव प्रचार की समय सीमा को कम कर दिया था। इस फैसले के मद्देनजर शुक्रवार (मई 17, 2019) को खत्म होने वाले चुनाव प्रचार की समय सीमा को गुरुवार (मई 16, 2019) की रात 10 बजे तक कर दिया गया है। निर्वाचन आयोग के इस फैसले और बंगाल के गृह सचिव अत्रि भट्टाचार्या और सीआईडी के एडीजी राजीव कुमार को पद से हटाने के बाद ममता आयोग पर भड़क गईं। इन मामलों में विपक्षी पार्टियों ने भी ममता का खूब साथ दिया।

मायावती

मायावती ने टीएमसी का समर्थन करते हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा था कि भाजपा के कारण बंगाल में हिंसा हुई है। उन्होंने चुनाव आयोग के फैसले को भी प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा के दबाव का नतीजा बताया था। उनके मुताबिक आज प्रधानमंत्री मोदी की बंगाल में दो रैलियाँ होनी हैं और इसी कारण इन रैलियों के बाद चुनाव प्रचार रुकेगा। मायावती ने ट्वीट किया है कि पीएम मोदी और भाजपा ने एक सोची-समझी रणनीति के तहत बंगाल की सरकार को लंबे वक्त से निशाना बनाया हुआ था ताकि अपनी कमियों व विफलताओं से जनता का ध्यान हटा सकें।

चंद्रबाबू नायडू

बंगाल की हिंसा पर चंद्रबाबू नायडू पहले ही कह चुके हैं कि बीजेपी ने सीबीआई, आईटी और ईडी से बंगाल की सरकार गिराने की कोशिश की है, और अब सीधे हिंसा पर उतर आई है।

अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने चुनाव आयोग के इस निर्णय को अलोकतांत्रिक फैसला बताया है। उनका कहना है कि भाजपा के डर से बंगाल में अराजकता फैल रही है।

सीताराम येचुरी

इसके अलावा सीताराम येचुरी ने भी चुनाव आयोग के फैसले पर सवाल उठाया और पूछा कि चुनाव आयोग ने रात 10 बजे प्रचार क्यों रोकने को कहा है? क्या, पीएम नरेंद्र मोदी को रैली करने देने के लिए?

अरविंद केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल ने भी चुनाव आयोग के फैसले के बाद भाजपा पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि इसी विचारधारा ने गाँधी की हत्या की है। बंगाल के लोग मोदी-शाह की इस हिंसा का उचित उत्तर देंगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

उत्तर-पूर्वी राज्यों में संघर्ष पुराना, आंतरिक सीमा विवाद सुलझाने में यहाँ अड़ी हैं पेंच: हिंसा रोकने के हों ठोस उपाय  

असम के मुख्यमंत्री नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस के सबसे महत्वपूर्ण नेता हैं। उनके और साथ ही अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों के लिए यह अवसर है कि दशकों से चल रहे आंतरिक सीमा विवाद का हल निकालने की दिशा में तेज़ी से कदम उठाएँ।

बकरीद की ढील का दिखने लगा असर? केरल में 1 दिन में कोरोना संक्रमण के 22129 केस, 156 मौतें भी

पूरे देश भर में रिपोर्ट हुए कोविड केसों में 53 % मामले अकेले केरल से आए हैं। भारत में कुल मामले जहाँ 42, 917 रिपोर्ट हुए। वहीं राज्य में 1 दिन में 22129 केस आए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,634FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe