Friday, June 21, 2024
Homeराजनीतिनीतीश कुमार देख रहे दिल्ली का ख्वाब, आंबेडकर जयंती पर 'खंडित भारत' दिखा रही...

नीतीश कुमार देख रहे दिल्ली का ख्वाब, आंबेडकर जयंती पर ‘खंडित भारत’ दिखा रही जदयू: बोली BJP- PFI और टुकड़े-टुकड़े गैंग का असर

"बाबा साहेब की जयंती पर ही जनता दल यूनाइटेड के जमूरों ने खंडित भारत दिखाकर संविधान को तार-तार किया है। अपने पीएफआई के आकाओं और नए-नवेले दोस्तों को खुश करने के लिए आखिरकार इतना तो इन्हें करना ही पड़ेगा। लेकिन कान खोलकर सुन लो, जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग था, है और हमेशा रहेगा।"

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी है, जनता दल यूनाइटेड (JDU)। डॉक्टर भीमराव आंबेडकर की जयंती पर शुक्रवार (14 अप्रैल 2023) को जदयू ने एक ट्वीट किया। इस ट्वीट में भारत का अधूरा मैप दिखाया गया था। विरोध होने के बाद पार्टी ने यह ट्वीट डिलीट कर दिया है। बीजेपी का आरोप है कि ऐसा प्रतिबंधित इस्लामी संगठन पीएफआई के आकाओं को खुश करने के लिए किया गया था।

जदयू ने ‘खंडित भारत’ वाला ट्वीट ऐसे समय में किया है, जब नीतीश कुमार का ‘दिल्ली ख्वाब’ फिर से हिलोरे मारने लगा है। बिहार में रामनवमी शोभा यात्राओं पर हुए हमले के बीच वे एक ऐसी इफ्तार पार्टी में शामिल हुए थे, जिसके पीछे लालकिला दिखाया गया था। इसके जरिए राजनीतिक संदेश देने के बाद उन्होंने दिल्ली आकर काॅन्ग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, राहुल गाँधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की। इन मुलाकातों के बाद उन्होंने 2024 के आम चुनावों से पहले बीजेपी के खिलाफ विपक्ष को एकजुट करने की बात कही। हालाँकि भविष्य में आकार लेने वाले ऐसे किसी गठबंधन का चेहरा कौन होगा, इस पर उन्होंने चुप्पी साध रखी है। लेकिन जानकार बताते हैं कि प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवारी की आकांक्षा में ही नीतीश कुमार ने पिछले साल बिहार में बीजेपी के साथ गठबंधन तोड़ा था।

अब आंबेडकर जयंती पर किए गए ट्वीट में भारत का गलत नक्शा दिखाकर पार्टी विवादों में है। यह ट्वीट जनता दल यूनाइटेड के आधिकारिक अकाउंट से किया गया था। ट्वीट में कहा गया था, “समाज के हर पीड़ित और वंचित वर्ग के लिए न्याय और समानता की लंबी लड़ाई लड़ने वाले भारत रत्न बाबा साहेब डाॅक्टर भीमराव आंबेडकर की जयंती पर उन्हें कोटि कोटि नमन।” इसके साथ एक पोस्टर भी शेयर किया गया था। इस पोस्टर में भारत का नक्शा, संसद, आंबेडकर और नीतीश कुमार की तस्वीर दिखाई गई थी। लेकिन भारत का नक्शा अधूरा लगाया गया था। जम्मू-कश्मीर के आधे हिस्से को गायब कर दिया गया था।

इस ट्वीट को लेकर बीजेपी ने बिहार की सत्ताधारी पार्टी जदयू को घेरा है। बिहार बीजेपी ने ट्वीट कर कहा है, “बाबा साहेब की जयंती पर ही जनता दल यूनाइटेड के जमूरों ने खंडित भारत दिखाकर संविधान को तार-तार किया है। अपने पीएफआई के आकाओं और नए-नवेले दोस्तों को खुश करने के लिए आखिरकार इतना तो इन्हें करना ही पड़ेगा। लेकिन कान खोलकर सुन लो, जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग था, है और हमेशा रहेगा।”

वहीं, बिहार भाजपा के सोशल मीडिया प्रभारी मनन कृष्ण ने सिलसिलेवार ट्वीट कर सीएम नीतीश कुमार व जदयू अध्यक्ष ललन सिंह को घेरा है। एक ट्वीट में उन्होंने कहा है, “भारत के खंडित नक्शे का प्रयोग दिखलाता है कि पीएफआई और टुकड़े-टुकड़े गैंग के समर्थक इस पार्टी पर किस कदर हावी हो चुके हैं। बाबा साहब की जयंती के दिन किया गया यह अभद्र आचरण न केवल उनके समर्थकों बल्कि देश के हर एक नागरिक का अपमान है। देखना है कि बिहार पुलिस इस पर क्या कारवाई करती है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभी तिहाड़ जेल से बाहर नहीं आ पाएँगे दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल, हाई कोर्ट ने बेल पर लगाई रोक: ED ने बताया- अब...

दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट से बेल मिलने के बाद भी अभी सीएम केजरीवाल जेल से रिहा नहीं होंगे। ईडी के विरोध पर दिल्ली हाई कोर्ट ने बेल पर रोक लगा दी है।

साल भर में 70% कम हुआ स्विस बैंकों में रखा धन, 2019 से भारत के साथ जानकारी साझा कर रहा है स्विट्जरलैंड: जानिए क्यों...

भारत में ग्राहक जमा खातों और अन्य बैंक शाखाओं के माध्यम से रखी गई धनराशि में भी काफी गिरावट आई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -