Friday, May 31, 2024
Homeराजनीतिमोदी शपथ ग्रहण समारोह: पुलवामा में वीरगति को प्राप्त जवानों के परिजन भी होंगे...

मोदी शपथ ग्रहण समारोह: पुलवामा में वीरगति को प्राप्त जवानों के परिजन भी होंगे शामिल

"अतिथियों की सूची में पश्चिम बंगाल स्थित नदिया की ममता विश्वास भी शामिल हैं। ममता के बेटे सुदीप उन 40 सीआरपीएफ जवानों में से एक थे, जो पाकिस्तान समर्थिक आतंकियों द्वारा..."

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आज गुरुवार (मई 30, 2019) को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह में ख़ास अतिथियों की सूची बढ़ती ही जा रही है। बंगाल में चुनावी हिंसा के कारण मारे गए भाजपा कार्यकर्ताओं के बाद अब पुलवामा हमले में वीरगति को प्राप्त जवान के परिजनों को भी इस समारोह में आमंत्रित किया गया है। टाइम्स ऑफ इंडिया ने वेबसाइट पर प्रकाशित ख़बर में अपने सूत्रों के हवाले से बताया, “अतिथियों की सूची में पश्चिम बंगाल स्थित नदिया की ममता विश्वास भी शामिल हैं। ममता के बेटे सुदीप उन 40 सीआरपीएफ जवानों में से एक थे, जो पाकिस्तान समर्थिक आतंकियों द्वारा अंजाम दिए गए आत्मघाती हमले में वीरगति को प्राप्त हो गए।

सुदीप की माँ ममता आज गुरुवार को ही दिल्ली पहुँचने वाली हैं। वीरगति को प्राप्त 27 वर्षीय सुदीप के पिता भी इस समारोह में आने के लिए इच्छुक थे लेकिन स्वास्थ्य कारणों से वह यात्रा नहीं कर सके। पश्चिम बंगाल के हावड़ा के बबलू संतरा भी पुलवामा हमले में वीरगति को प्राप्त हुए थे लेकिन उनके परिवारजनों द्वारा अब तक पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने की पुष्टि नहीं की गई है। टाइम्स ऑफ इंडिया के सोर्स ने इस पर टिपण्णी करते हुए कहा, “वीरगति को प्राप्त जवानों व उनके परिवारों के प्रति प्रधानमंत्री मोदी की तरफ से यह सम्मान देना उनके लिए सरकार का रुख दिखाता है, जो देश की सेवा करते हुए बलिदानी हो गए। ये ममता बनर्जी के उन आरोपों को भी ध्वस्त करता है, जिसमें उन्होंने कहा था कि इस समारोह को राजनीतिक रंग दिया जा रहा है।

बता दें कि इस कार्यक्रम में पश्चिम बंगाल में मारे गए भाजपा कार्यकर्ताओं के शिरकत करने की पूरी व्यवस्था की गई है। उनकी यात्रा से लेकर दिल्ली में ठहरने व खाने-पीने तक की सुविधा का ख्याल रखने के लिए भाजपा पदाधिकारियों को लगाया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स में इन ख़बरों के आने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस समारोह में हिस्सा लेने से इनकार कर दिया। ममता का दावा है कि बंगाल में कोई राजनीतिक हत्याएँ नहीं हुई हैं और ये सभी लोग पारिवारिक विवाद और व्यक्तिगत लड़ाइयों के कारण मारे गए। बंगाल में मारे गए भाजपा कार्यकर्ताओं के परिजन बुधवार को दिल्ली रवाना हुए। हावड़ा में उन्हें विदा करने के लिए जिला भाजपा की पूरी मंडली स्टेशन पर उपस्थित थी।

वहीं प्रभात ख़बर ने बताया कि पुलवामा में वीरगति को प्राप्त जवान बबलू संतरा के परिवार को भी समारोह में हिस्सा लेने के लिए बुलाया गया है। पीएम नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में BIMSTEC के राष्ट्राध्यक्षों समेत 8 देशों के नेताओं को आमंत्रित किया गया है। बिम्सटेक में भारत समेत दक्षिण एशिया और दक्षिण पूर्व एशिया के वे 7 देश शामिल हैं, जो बंगाल की खाड़ी से जुड़े हुए हैं। इन देशों में भारत के अलावा बांग्लादेश, म्यांमार, श्री लंका, थाईलैंड, नेपाल और भूटान शामिल हैं। इनके अलावा भारत ने किर्गिस्तान के राष्ट्रपति और मॉरीशस के प्रधानमंत्री को भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने का न्योता दिया है।

कुल मिला कर देखें तो 7000 अतिथियों के इसमें शामिल होने की बात कही जा रही है। प्रधानमंत्री के साथ कई केंद्रीय मंत्री भी इस समारोह में हिस्सा लेंगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

200+ रैली और रोडशो, 80 इंटरव्यू… 74 की उम्र में भी देश भर में अंत तक पिच पर टिके रहे PM नरेंद्र मोदी, आधे...

चुनाव प्रचार अभियान की अगुवाई की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने। पूरे चुनाव में वो देश भर की यात्रा करते रहे, जनसभाओं को संबोधित करते रहे।

जहाँ माता कन्याकुमारी के ‘श्रीपाद’, 3 सागरों का होता है मिलन… वहाँ भारत माता के 2 ‘नरेंद्र’ का राष्ट्रीय चिंतन, विकसित भारत की हुंकार

स्वामी विवेकानंद का संन्यासी जीवन से पूर्व का नाम भी नरेंद्र था और भारत के प्रधानमंत्री भी नरेंद्र हैं। जगह भी वही है, शिला भी वही है और चिंतन का विषय भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -