Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीति'भगवंत मान भी पैसे लेते हैं.. मैं भी लेता हूँ': केजरीवाल का वीडियो शेयर...

‘भगवंत मान भी पैसे लेते हैं.. मैं भी लेता हूँ’: केजरीवाल का वीडियो शेयर करने पर बीजेपी नेता नवीन जिंदल के खिलाफ पंजाब पुलिस ने दर्ज किया FIR

"महाठग अरविंद केजरीवाल के पास और कोई काम नहीं बचा है, क्या मिला पंजाब पुलिस को अपने बाप की बापौती समझ बैठा, फर्जी मुक़दमे करो 1000 करो। तुम्हारे मुकदमों से मैं डरने वाला नहीं हूँ, रोज तुम्हारी ऐसे ही पोल खोलता हूँ ओर आगे भी डंके की चोट पर खोलता रहूँगा।”

तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के बाद अब एक बार फिर से पंजाब पुलिस ने बीजेपी नेताओं के टार्गेट किया है। इस बार गुरुवार (7 अप्रैल 2022) को अरविंद केजरीवाल का एक वीडियो शेयर करने के आरोप में पंजाब पुलिस ने देर रात भाजपा के दिल्ली प्रवक्ता नवीन कुमार जिंदल के खिलाफ एफआईआर दर्ज की। सात अप्रैल को देर रात करीब ढाई बजे ये शिकायत दर्ज की गई। आईपीसी 1860 और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम-2000 की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है।

दरअसल, 6 अप्रैल को नवीन जिंदल ने कथित तौर पर अरविंद केजरीवाल के इंटरव्यू का एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें वो ये कहते हुए नजर आ रहे हैं कि पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान, मैं और मंत्री और विधानसभा सदस्य रिश्वत लेते हैं और भ्रष्टाचार को बढ़ावा देते हैं। जिंदल ने वीडियो के साथ ट्वीट किया, “आखिरकार सच्चाई सामने आ गई है।”

वहीं जिंदल द्वारा शेयर किए गए वीडियो में केजरीवाल कहते हैं, “पहले, पैसा मुख्यमंत्री तक पहुँचता था। तो पूरे सिस्टम को कुछ इस तरह से बनाया जाता था कि अगर किसी को नीचे से कुछ सुविधा देने की जरूरत है, तो उन्हें पैसा लेने दो। तो सारा पैसा – अलग-अलग विभागों से, पुलिस से, तहसीलदार से इकट्ठा करके सारा पैसा ऊपर तक जाता था। अब हमारे भगवंत मान भी पैसे लेते हैं, मैं भी पैसा लेता हूँ, मंत्री भी पैसे लेते हैं, विधायक भी पैसे लेते हैं। पंजाब में तहसीलदारों की एक मीटिंग हुई है। उन्होंने कहा है कि नीचे से पैसा लेना और इसे ऊपर भी पहुँचाना।”

इस बीच पुलिस द्वारा दर्ज किए गए केस का जबाव देते हुए जिंदल दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को भाजपा नेताओं के खिलाफ फर्जी मामले दर्ज करने और उन्हें निशाना बनाने के लिए खरी-खोटी सुनाई। उन्होंने ट्वीट किया, “महाठग अरविंद केजरीवाल के पास और कोई काम नहीं बचा है, क्या मिला पंजाब पुलिस को अपने बाप की बापौती समझ बैठा, फर्जी मुक़दमे करो 1000 करो। तुम्हारे मुकदमों से मैं डरने वाला नहीं हूँ, रोज तुम्हारी ऐसे ही पोल खोलता हूँ ओर आगे भी डंके की चोट पर खोलता रहूँगा।”

गौरतलब है कि तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने भी पंजाब पुलिस पर निशाना साधते हुए कहा कि जिंदल वही शख्स हैं, जिन्होंने पहले भी अरविंद केजरीवाल की 11 करोड़ स्विमिंग पूल योजना का पर्दाफाश किया था। बग्गा के साथ ही कपिल मिश्रा ने भी केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि AAP भाजपा कार्यकर्ताओं को निशाना बनाने के लिए पंजाब पुलिस का इस्तेमाल कर रही है। उन्होंने ट्वीट किया, “अरविंद केजरीवाल कभी भी राजनीति में आ पाते अगर उनके खिलाफ इस तरह के राजनीतिक बयानों पर प्राथमिकी दर्ज की जाती। यह साजिश लंबे समय तक नहीं चलेगी।”

इससे पहले 2 अप्रैल 2022 को पंजाब पुलिस ने आम आदमी पार्टी के लोकसभा प्रभारी और प्रवक्ता डॉ सनी सिंह अहलूवालिया की शिकायत पर भाजपा नेता तजिंदर सिंह बग्गा के खिलाफ शिकायत दर्ज की थी।

यहीं नहीं नियमों को धता बताते हुए पंजाब पुलिस बग्गा को गिरफ्तार करने के लिए दिल्ली में उनके घर तक पहुँच गई थी। हालाँकि, बग्गा उसे नहीं मिले। इसके बाद बग्गा ने केजरीवाल को फटकार लगाते हुए कहा था, “मुझे बताओ, अरविंद केजरीवाल। क्या आप एफआईआर दर्ज करने के बाद अब खुश हैं? अब मैं आपको बता रहा हूँ। एक पर मत रुको, मेरे खिलाफ 100 एफआईआर दर्ज करो। आपको हाल ही में शक्तियाँ मिली हैं। जितना हो सके उनका दुरुपयोग कर लो। लेकिन मैं आपको बताना चाहता हूँ कि रावण का अहंकार भी टूटा था और आपके अहंकार का भी यही हाल होगा।”

उल्लेखनीय है कि जिंदल ने पिछले साल 2021 में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर ये आरोप लगाया था कि उन्होंने अपने घर के रेनोवेशन के लिए दिल्ली के टैक्सपेयर्स के 9 करोड़ रुपए खर्च कर दिए। केजरीवाल के घर के बाहर शूट किए गए एक वीडियो में जिंदल ने दावा किया था कि महामारी के दौरान जब लोग बुनियादी सुविधाओं के लिए जूझ रहे थे, तब सीएम ने अपने घर पर करोड़ों रुपए खर्च किए।

बहरहाल मौजूदा मामले में पंजाब पुलिस ने जिंदल के खिलाफ आईपीसी की धारा 465, 469, 471, 500, 504, 505 (1) (बी) और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम, 2000 की धारा 66 के तहत मामला दर्ज किया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -