Wednesday, June 19, 2024
Homeराजनीति'पूरा इकोससिट्म ही यौन अपराधियों को बढ़ावा देता है' : CM स्टालिन और चिदंबरम...

‘पूरा इकोससिट्म ही यौन अपराधियों को बढ़ावा देता है’ : CM स्टालिन और चिदंबरम पर भड़कीं तमिल सिंगर, बर्बाद होने का दिया श्राप

तमिल गायिका चिन्मयी श्रीपदा ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन और पी चिदंबरम को लताड़ा है। दोनों गीतकार वराईमुथु के साथ मंच साझा कर रहे थे। चिन्मयी ने वराईमुथु पर यौन शोषण का आरोप वर्ष 2018 में MeToo कैम्पेन चलने के दौरान लगाया था।

तमिल गायिका चिन्मयी श्रीपदा ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन और पी चिदंबरम को लताड़ा है। दोनों गीतकार वराईमुथु के साथ मंच साझा कर रहे थे। चिन्मयी ने वराईमुथु पर यौन शोषण का आरोप वर्ष 2018 में MeToo कैम्पेन चलने के दौरान लगाया था।

चिन्मई ने लिखा, “तमिलनाडु के कुछ सबसे शक्तिशाली लोगों ने मेरे साथ छेड़छाड़ करने वाले को मंच दिया, जबकि मुझ पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। मेरे करियर के कई साल बर्बाद हो गए। मैं आशा करूँगी कि इनका पूरा इकोसिस्टम जो कि यौन अपराधियों को बढ़ावा देता है और उनको सपोर्ट करता है, जबकि सच बोलने वाले ईमानदार लोगों को जेल में डालता है, बर्बाद होना चालू हो जाए। मैं प्रार्थना करूँगी और तब तक प्रार्थना करती रहूँगी जब तक मेरी इच्छा पूरी न हो जाए – वैसे भी मैं और कुछ नहीं कर सकती।”

39 वर्षीय चिन्मई श्रीपदा मुख्य रूप से दक्षिण भारत की फिल्मों के लिए गाने गाती हैं। उन्होंने 2018 में 70 वर्षीय वराईमुथु पर वर्ष 2005 के दौरान उन्हें स्विट्ज़रलैंड दौरे के दौरान एक कमरे में बुलाने का आरोप लगाया था। उन्होंने इसके अलावा उन्होंने वराईमुथु पर अपना करियर बर्बाद करने की धमकी देने का आरोप लगाया था। वराईमुथु पर इन आरोपों के लगने के बाद कई अन्य महिलाओं ने भी ऐसे ही बुरे अनुभव साझा किए थे। जब वराईमुथु ने इससे बचना चाहा तो चिन्मई ने उन्हें झूठा करार दिया था।

मुख्यमंत्री स्टालिन ने 1 जनवरी, 2024 को वराईमुथु के साथ मंच साझा करने का ट्वीट भी किया था। चिन्मई ने इससे पहले भी कमाल हसन और अन्य बड़े चेहरों पर इन आरोपों पर चुप रहने का आरोप लगाया था। वह इस मामले में कार्रवाई के लिए स्टालिन को पत्र भी लिख चुकी हैं। उन्होंने द्रमुक के कई नेताओं को वराईमुथू को बचाने का आरोप लगाया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पेट्रोल-डीजल के बाद पानी-बस किराए की बारी, कर्नाटक में जनता पर बोझ खटाखट: कॉन्ग्रेस की ‘रेवड़ी’ से खजाना खाली, अब कमाई के लिए विदेशी...

कर्नाटक की कॉन्ग्रेस सरकार की रेवड़ी योजनाएँ राज्य को महँगी पड़ रही हैं। पेट्रोल-डीजल के बाद अब पानी के दाम और बसों के किराए बढ़ाने की योजना है।

पूरी हुई 832 साल की प्रतीक्षा, राष्ट्र को PM मोदी ने समर्पित की नालंदा की विरासत: कहा- आग की लपटें ज्ञान को नहीं मिटा...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार के राजगीर में नालंदा विश्वविद्यालय के नए परिसर का उद्धघाटन किया। नया परिसर नालंदा विश्वविद्यालय के प्राचीन खंडहरों के पास है

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -