Friday, April 12, 2024
Homeराजनीतिलालू के बड़े बेटे की 'घोस्ट स्टोरी': ताड़ के पेड़ पर चढ़े भूत ने...

लालू के बड़े बेटे की ‘घोस्ट स्टोरी’: ताड़ के पेड़ पर चढ़े भूत ने तेज प्रताप को डराया, ‘महादेव’ सुन कहा – आपका भाषण सुनने आया हूँ

बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने कहा कि उन्हें देख कर ही कई युवाओं ने बाल बढ़ाने शुरू कर दिए थे, इसीलिए उन्होंने अपने बाल कटवा लिए। उन्होंने कहा कि वो कई लोगों के सपने में भी आते हैं।

लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव को भूत दिखते हैं। अक्सर चर्चा में बने रहने वाले तेज प्रताप यादव ने कहा है कि उन्हें न सिर्फ आजकल सपने में भूत दिख जा रहे हैं, बल्कि ये भूत उनका भाषण सुनने के लिए भी आ जाते हैं। तेज प्रताप यादव सोमवार (2 अगस्त, 2021) को अपने फेसबुक पेज पर लाइव आए थे, जिसमें उन्होंने ये बातें कही। उन्होंने एक सपने के बारे में बताया, जिसमें वो हसनपुर में बाढ़ प्रभावित इलाके का दौरा करने गए थे।

बता दें कि समस्तीपुर में स्थित हसनपुर ही वो विधानसभा क्षेत्र है, जहाँ से तेज प्रताप यादव विधायक हैं। उन्होंने अपने सपने के बारे में आगे बताया कि वहीं उन्होंने एक ताड़ के पेड़ पर भूत बैठा हुआ देखा। बकौल तेज प्रताप यादव, ये भूत उन्हें पकड़ने आ रहा था लेकिन महादेव का नाम लेते ही सकपका गया। तेज प्रताप ने आगे बताया कि उन्होंने डरे बिना भूत से सवाल पूछ डाला कि हमें क्यों डरा रहे हो?

तेज प्रताप यादव की मानें, तो सपने वाले भूत ने बताया कि वो उनका भाषण सुनने आया है। तेज प्रताप यादव ने इस दौरान ये भी कहा कि लोग उनमें उनके पिता लालू यादव को देखते हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें देख कर ही कई युवाओं ने बाल बढ़ाने शुरू कर दिए थे, इसीलिए उन्होंने अपने बाल कटवा लिए। उन्होंने बताया कि पिता लालू से उनकी बात होती रहती है और वो उन्हें सब बताते हैं।

तेज प्रताप यादव ने मौजूदा बिहार सरकार पर भी निशाना साधते हुए कहा कि इमली के पेड़ में जितने पत्ते होते हैं, नीतीश सरकार में उतने ही घोटाले हुए हैं। उन्होंने कहा कि वो कई लोगों के सपने में भी आते हैं।

वैसे तेज प्रताप यादव और भूत का कनेक्शन कोई नया नहीं है। महागठबंधन की सरकार गिरने के बाद उन्होंने ये कहते हुए अपना सरकारी आवास खाली किया था कि उनके घर में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भूतों को भेज दिया है। महागठबंधन की सरकार में तेज प्रताप यादव स्वास्थ्य मंत्री हुआ करते थे। कई महीनों की नोटिस के बाद उन्होंने घर छोड़ते हुए कहा था कि नीतीश कुमार व सुशील मोदी ने उन्हें डराने के लिए भूतों को छोड़ रखा है।

मंदिर में RJD नेता ने लगवाया अपने नाम का जयकारा

इधर तेज प्रताप यादव भले ही महादेव और श्रीकृष्ण की बातें कर के हिन्दू धर्म में अपनी आस्था दिखाएँ, लेकिन उनकी ही पार्टी के नेताओं को इन सबसे कोई सरोकार नहीं। तभी तो हाजीपुर के एक मंदिर में तेजस्वी यादव और तेज प्रताप का जयकारा लगा। असल में वहाँ राजद विधायक मुकेश रौशन पहुँचे थे, जिन्होंने खुद का भी जयकारा लगवाया और जुलूस भी निकाला। इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल को भी धता बताया गया।

बिना मास्क लगाए सैकड़ों लोग वहाँ पर जुटे हुए थे। मुकेश रौशन महुआ से विधायक हैं। वो भुईआ बाबा मंदिर में पूजा करने के लिए पहुँचे थे। वो खुद रथ पर सवार थे। जब उतरे, तो ढोल बजाते हुए सड़क पर हुए नाचने भी लगे। मंदिर में ही भीड़ जमा हो गई और लोग आपस में धक्का-मुक्की करते मिले। विधायक ने कहा कि वो अपने नेता तेजस्वी यादव की जल्दी सरकार बनने की कामना करने आए हैं। मंदिर में RJD का झंडा भी कई लोग लहरा रहे थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जज की टिप्पणी ही नहीं, IMA की मंशा पर भी उठ रहे सवाल: पतंजलि पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, ईसाई बनाने वाले पादरियों के ‘इलाज’...

यूजर्स पूछ रहे हैं कि जैसी सख्ती पतंजलि पर दिखाई जा रही है, वैसी उन ईसाई पादरियों पर क्यों नहीं, जो दावा करते हैं कि तमाम बीमारी ठीक करेंगे।

‘बंगाल बन गया है आतंक की पनाहगाह’: अब्दुल और शाजिब की गिरफ्तारी के बाद BJP ने ममता सरकार को घेरा, कहा- ‘मिनी पाकिस्तान’ से...

बेंगलुरु के रामेश्वरम कैफे में ब्लास्ट करने वाले 2 आतंकी बंगाल से गिरफ्तार होने के बाद भाजपा ने राज्य को आतंकियों की पनाहगाह बताया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe