तेजस्वी मुजफ्फरपुर क्यों जाएँ? वो विधानसभा के नेता हैं, जननेता नहीं: RJD उपाध्यक्ष

चर्चा है की नरेंद्र ने अपने बेटों सहित राजद में आने की इच्छा ज़ाहिर की लेकिन चूँकि पार्टी के सारे निर्णय अभी भी जेल में बंद पार्टी सुप्रीमो लालू यादव ही कर रहे हैं, रघुवंश ने उन्हें कोई ठोस आश्वासन नहीं दिया।

राजद के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने हाल में जदयू नेता नरेंद्र सिंह से मुलाक़ात की, जिसके बाद बिहार की लगातार बदलती राजनीति में चर्चा का बाज़ार फिर से गर्म हो गया। कहा जा रहा है कि नरेंद्र सिंह जदयू से नाराज़ चल रहे हैं क्योंकि उन्हें हालिया लोकसभा चुनाव में टिकट नहीं दिया गया। नरेंद्र सिंह ने मुलाक़ात के बाद रघुवंश ने कहा कि राजनीति में कोई भी स्थायी दोस्त या दुश्मन नहीं होता। चर्चा है की नरेंद्र ने अपने बेटों सहित राजद में आने की इच्छा ज़ाहिर की लेकिन चूँकि पार्टी के सारे निर्णय अभी भी जेल में बंद पार्टी सुप्रीमो लालू यादव ही कर रहे हैं, रघुवंश ने उन्हें कोई ठोस आश्वासन नहीं दिया

जब रघुवंश प्रसाद से पूछा गया कि बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव कहाँ हैं तो रघुवंश प्रसाद ने कहा कि तेजस्वी कोई जननेता नहीं है कि मुजफ्फरपुर जाएँगे। रघुवंश ने कहा कि तेजस्वी विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हैं, इसीलिए उनका काम विधानसभा की परिक्रमा करना है। उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर में तेजस्वी की ज़रूरत नहीं है, वहाँ किसी जनसभा वाले नेता की ज़रूरत है। वैशाली से 5 बार सांसद रह चुके रघुवंश प्रसाद ने कहा कि वो नरेंद्र सिंह के साथ मिलकर मुजफ्फरपुर में इंसेफ्लाइटिस से बच्चों की लगातार हो रही मौत को लेकर सरकार की निष्क्रियता के ख़िलाफ़ आंदोलन करेंगे

मनमोहन सिंह सरकार एक दौरान केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री रहे डॉक्टर रघुवंश प्रसाद सिंह ने पूछा कि नीतीश कुमार तो मुजफ्फरपुर गए लेकिन नरेंद्र मोदी क्या 27 वर्षों बाद वहाँ जाएँगे? उन्होंने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने 5 वर्ष पूर्व जो वादे किए थे, वो अभी तक पूरे नहीं किए गए हैं। उन्होंने कहा कि जो भी ग़ैर-भाजपा दल राजद के साथ आना चाहते हैं, उन सभी का स्वागत है। रघुवंश प्रसाद लोकसभा चुनाव से पहले भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति नरम रुख दिखाते रहे हैं।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

नरेंद्र सिंह से मुलाक़ात के सम्बन्ध में रघुवंश ने कहा कि वे उनके पुराने मित्र हैं और वरिष्ठ समाजवादियों में से एक हैं। उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर में बच्चे मर रहे हैं लेकिन प्रधानमंत्री राँची में अनुलोम-विलोम कर रहे हैं। राजद नेता ने इससे पहले तेजस्वी से सम्बंधित सवाल के जवाब में कहा था कि तेजस्वी वर्ल्ड कप देखने गए होंगे।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

कमलेश तिवारी
कमलेश तिवारी की हत्या के बाद एक आम हिन्दू की तरह, आपकी तरह- मैं भी गुस्से में हूँ और व्यथित हूँ। समाधान तलाश रहा हूँ। मेरे 2 सुझाव हैं। अगर आप चाहते हैं कि इस गुस्से का हिन्दुओं के लिए कोई सकारात्मक नतीजा निकले, मेरे इन सुझावों को समझें।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

105,514फैंसलाइक करें
19,261फॉलोवर्सफॉलो करें
109,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: