Monday, May 20, 2024
Homeराजनीतिकमलनाथ के कैबिनेट मंत्री ने 3 चुनाव में 3 हलफ़नामे दायर किए, सभी में...

कमलनाथ के कैबिनेट मंत्री ने 3 चुनाव में 3 हलफ़नामे दायर किए, सभी में दी अलग-अलग जानकारी

भास्कर के रिपोर्ट में इस बात का दावा किया गया है कि तीनों ही विधानसभा चुनाव के दौरान इमरती देवी के हलफ़नामे में गलत शैक्षणिक जानकारी दी गई है।

मध्य प्रदेश में कमलनाथ की सरकार में कैबिनेट मंत्री इमरती देवी एक बार फिर से विवादों में फँस गई हैं। इमरती देवी मध्य प्रदेश के कमलनाथ सरकार में महिला एवं बाल विकास मंत्री हैं। दैनिक भास्कर ने अपने एक रिपोर्ट में लिखा है कि प्रदेश की कैबिनेट मंत्री इमरती देवी ने 12वीं की परीक्षा कब और कहाँ से पास की, इसकी कोई स्पष्ट जानकारी नहीं है।

भास्कर के रिपोर्ट में इस बात का दावा किया गया है कि तीनों ही विधानसभा चुनाव के दौरान इमरती देवी के हलफ़नामे में गलत शैक्षणिक जानकारी दी गई है।

कैबिनेट मंत्री इमरती देवी ने 2018 में मध्यप्रदेश के डबरा विधानसभा से चुनाव लड़े। इस चुनाव के हलफ़नामे में उन्होंने अपने शैक्षणिक योग्यता के बारे में बताया है कि उन्होंने 2009 में भिंड के एक सरकारी स्कूल से राज्य ओपन बोर्ड की हायर सेकेंडरी परीक्षा पास की है। इमरती देवी ने यही जानकारी 2013 विधानसभा चुनाव के दौरान भी दी थी।

हालाँकि, 2008 विधानसभा चुनाव में इमरती देवी ने शैक्षणिक योग्यता से जुड़ी बिल्कुल अलग जानकारी दी थी। इस समय इमरती देवी ने बताया था कि उन्होंने 12वीं की पढ़ाई ओपन बोर्ड के हायर सेकेंडरी से करने के बजाय माध्यमिक शिक्षा मंडल से किया है। इस चुनाव में इमरती देवी ने अपने पासिंग ईयर का भी जिक्र नहीं किया है। ऐसे में साफ़ ज़ाहिर है कि मंत्री ने अपनी
शैक्षणिक योग्यता से जुड़ी जो जानकारी तीन अलग-अलग हलफ़नामें में दी है, वह हर जगह सही नहीं है।

इसके अलावा भास्कर ने रिपोर्ट में यह भी दावा किया कि मंत्री ने रिपोर्टर को जो जवाब दिया है वह निर्वाचन आयोग को दी गई जानकारी से बिल्कुल अलग है।

इस वजह से मंत्री के शैक्षणिक योग्यता पर उठा सवाल

– कैबिनेट मंत्री इमरती देवी ने रिपोर्टर को बताया कि उन्होंने 12वीं 2007 में ही भितरवार के एक सरकारी स्कूल से पास कर लिया था। ऐसे में यह सवाल उठता है कि यदि मंत्री ने 2007 में ही परीक्षा पास कर ली थी तो 2008 के हलफ़नामें में पासिंग ईयर का जिक्र क्यों नहीं किया?

– इमरती देवी ने 2008 या 2018 में से किस चुनाव के हलफ़नामे में शैक्षणिक योग्यता से जुड़ी सही जानकारी दी है? इमरती देवी ने सरकारी स्कूल के राज्य ओपन वोर्ड से पढ़ाई की है या फिर माध्यमिक शिक्षा मंडल भोपाल से हायर सेकेंडरी परीक्षा पास की  

– रिपोर्टर के एक सवाल के जवाब में इमरती देवी ने बताया कि मैंने 2007 में ही भितरवार से हायर सेकंडरी कर ली थी, जब मैं जिला पंचायत सदस्य थी। भिंड तो कभी पढ़ने गई ही नहीं। जबकि यह जानकारी अपने किसी चुनावी हलफ़नामे में नहीं दी है।   

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी का इंतकाल, सरकारी मीडिया ने की पुष्टि: हेलीकॉप्टर में सवार 8 अन्य लोगों की भी मौत, अजरबैजान की पहाड़ियों...

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहीम रईसी की एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मौत हो गई। यह दुर्घटना रविवार को ईरान के पूर्वी अजरबैजान प्रांत में हुई थी।

विभव कुमार की गिरफ्तारी के बाद पूरे AAP ने किया किनारा, पर एक ‘महिला’ अब भी स्वाति मालीवाल के लिए लड़ रही: जानिए कौन...

स्वाति मालीवाल के साथ सीएम हाउस में बदसलूकी मामले में जहाँ पूरी AAP एक तरफ है वहीं वंदना सिंह लगातार स्वाति के पक्ष में ट्वीट कर रही हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -