Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजदिल्ली दंगो के गुनहगार, अंकित शर्मा का हत्यारोपित ताहिर हुसैन ने कहा- नार्को टेस्ट...

दिल्ली दंगो के गुनहगार, अंकित शर्मा का हत्यारोपित ताहिर हुसैन ने कहा- नार्को टेस्ट करवा लो ,वह खुद हुआ तबाह

ताहिर हुसैन को प्रोपोगंडा वेबसाइट द वायर द्वारा ट्ववीट किए गए वीडियो क्लिप में यह भी कहते सुना जा सकता है कि उसे न्यायपालिका पर भरोसा है और उसे उम्मीद है कि उसे मुस्लिम होने की वजह से टार्गेट नहीं किया जाएगा।

पिछले हफ्ते हुए दिल्ली के हिन्दू विरोधी दंगों में अब तक 50 से भी अधिक लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है जबकि करीब 200 लोगों के घायल होने की खबर है। इन्हीं दंगों में आईबी के अंकित शर्मा को नृशंसतापूर्वक मार दिया गया था, जिसमें मुख्य आरोपित बनाए गए निलंबित आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन को आज दिन में दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

ताहिर हुसैन के खिलाफ अंकित शर्मा की हत्या के मामले में एफआईआर भी दर्ज की गई थी। वो अबतक फरार चल रहा था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार दिल्ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने के पहले ताहिर हुसैन ने एक न्यूज़ चैनल से बातचीत में कहा कि वह पूरी तरह निर्दोष है और उसका नार्को टेस्ट करवा लिया जाए, वह नार्को टेस्ट के लिए भी तैयार है। ताहिर हुसैन ने मीडिया से बात करते हुए खुद को ही इन दंगों का पीड़ित बताते हुए कहा कि वह खुद ही इन दंगों से तबाह हो गया है।

ताहिर हुसैन को प्रोपोगंडा वेबसाइट द वायर द्वारा ट्ववीट किए गए वीडियो क्लिप में यह भी कहते सुना जा सकता है कि उसे न्यायपालिका पर भरोसा है और उसे उम्मीद है कि उसे मुस्लिम होने की वजह से टार्गेट नहीं किया जाएगा।

याद रहे कि ये वही ताहिर हुसैन है जिसकी चाँद बाग़ स्थित बिल्डिंग की छत पर से सैंकड़ों मुस्लिम फ़सादियों ने आसपास के हिन्दू घरों और गलियों पर पेट्रोल बमों से, तेज़ाब बमों से और पत्थरों से जबरदस्त हमला बोल दिया था। इसी बिल्डिंग की छत पर से मुस्लिमों द्वारा हिन्दुओं पर हो रहे हमलों के दौरान ताहिर हुसैन खुद भी लाठी लिए नजर आ रहा था, जो कई सारे फुटेज और तस्वीरों में साफ़ तौर पर दिखाई पड़ता है।

इसके अलावा कई प्रत्यक्षदर्शी भी इस बात की गवाही देते हैं कि अंकित शर्मा समेत 3 लोगों को मुस्लिम भीड़ इसी ताहिर हुसैन की बिल्डिंग में खींच ले गई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शिखर बन जाने पर नहीं आएँगी पानी की बूँदे, मंदिर में कोई डिजाइन समस्या नहीं: राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेन्द्र मिश्रा ने...

श्रीराम मंदिर निर्माण समिति के मुखिया नृपेन्द्र मिश्रा ने बताया है कि पानी रिसने की समस्या शिखर बनने के बाद खत्म हो जाएगी।

दर-दर भटकता रहा एक बाप पर बेटे की लाश तक न मिली, यातना दे-दे कर इंजीनियरिंग छात्र की हत्या: आपातकाल की वो कहानी, जिसमें...

आज कॉन्ग्रेस पार्टी संविधान दिखा रही है। जब राजन के पिता CM, गृह मंत्री, गृह सचिव, पुलिस अधिकारी और सांसदों से गुहार लगा रहे थे तब ये कॉन्ग्रेस पार्टी सोई हुई थी। कहानी उस छात्र की, जिसकी आज तक लाश भी नहीं मिली।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -