Monday, June 17, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयबांग्लादेशी सांसद की लाश वाली फोटो उसी की पार्टी के नेता के मोबाइल पर:...

बांग्लादेशी सांसद की लाश वाली फोटो उसी की पार्टी के नेता के मोबाइल पर: कोर्ट में हत्यारे का कबूलनामा, सेप्टिक टैंक से मिले शव के कुछ टुकड़े

शिमुल भुइयाँ ने बांग्लादेशी राजनेता की हत्या के बाद शव की तस्वीर उनके संसदीय क्षेत्र झेनाइदह में अवामी लीग के नेता काजी कमाल अहमद उर्फ बाबू के फोन पर भेजी थी।

बांग्लादेश के सांसद अनवारुल अजीम अनार के हत्यारे ने कबूल किया है कि उसने अनवरुल के शव की फोटो खींची थी और बांग्लादेश में उन्हीं की पार्टी के नेता के पास फोटो भेजा था। कोर्ट में उसने बताया कि हत्या के बाद शव की तस्वीर उनके संसदीय क्षेत्र झेनाइदह में अवामी लीग के नेता काजी कमाल अहमद उर्फ बाबू के फोन पर भेजी थी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस मामले में मुख्य आरोपितों में से एक शिमुल भुइयाँ ने बांग्लादेशी राजनेता की हत्या के बाद शव की तस्वीर उनके संसदीय क्षेत्र झेनाइदह में अवामी लीग के नेता काजी कमाल अहमद उर्फ बाबू के फोन पर भेजी थी। इसकी वजह ये थी कि लोगों को पता चले कि अनवारुल अजीम की हत्या हो चुकी है, साथ ही प्रभावशाली लोगों में डर बैठाने के लिए भी ये तस्वीर भेजी गई।

कोलकाता के न्यूटाउन स्थित फ्लैट के सेप्टिक टैंक से बरामद माँस के टुकड़े इंसान के बताए जा रहे हैं, लेकिन यह अभी निश्चित नहीं है कि वे सांसद अनार के हैं या नहीं, डीएनए जाँच के बाद ही इसकी पुष्टि हो सकेगी। जिस फ्लैट के सेप्टिक टैंक से इंसानी माँस के टुकड़े मिले, उसी फ्लैट में सांसद की हत्या की थी और शव को 80 टुकड़ों में बाँट दिया था। उन्होंने उन टुकड़ों को दक्षिण 24 परगना जिले के बड़े नाले में फेंक दिया था, तो छोटे हिस्सों को कमोड के जरिए बहा दिया था। यही नहीं, इस फ्लैट के पास के नाले से भी इंसानी हड्डियाँ बराबद होने की बात सामने आ रही है।

गौरतलब है कि सांसद अनवारुल इलाज कराने के बहाने पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता पहुँचे थे। वो 12 मई को कोलकाता पहुँचे, लेकिन उनकी तलाश कुछ दिनों बाद शुरू हुई, जब उनके परिचित गोपाल बिश्वास ने 18 मई 2024 को पुलिस में उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। बताया जा रहा है कि इस हत्याकाँड को अंजाम देने के लिए अनवारुल के ही करीबी दोस्त अख्तरुज्जमाँ ने 5 करोड़ की सुपारी दी थी। अख्तरुज्जमाँ अमेरिकी नागरिक है और अनवारुल का बिजनेस पार्टनर भी।

सांसद अनवारुल अजीम अनार और संदिग्ध अख्तरुज्जमाँ मिलकर सोने की तस्करी का काम करते थे, मगर पैसों को लेकर दोनों के बीच मतभेद हुआ और अख्तरुज्जमाँ ने पूरी हत्या की साजिश रची। बताया जा रहा है कि अजीम ने 100 करोड़ टका से अधिक अपने पास रख लिया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -