Monday, November 29, 2021
Homeफ़ैक्ट चेकमीडिया फ़ैक्ट चेक'एक और हिटलर की जरूरत': पाकिस्तानी पत्रकार आदिल रजा ने दिखाई यहूदी घृणा, CNN...

‘एक और हिटलर की जरूरत’: पाकिस्तानी पत्रकार आदिल रजा ने दिखाई यहूदी घृणा, CNN का है कंट्रीब्यूटर

आदिल से पहले पाकिस्तानी एक्ट्रेस वीना मलिक ने भी हिटलर को कोट करते हुए यहूदियों के नरसंहार की बात की थी।

सीएनएन के फ्रीलाँसर आदिल रजा ने इजराइल और फिलिस्तीन के बीच चल रहे अघोषित युद्ध के बीच कहा कि आज दुनिया को एक हिटलर की जरूरत है। हालाँकि, बाद में इस्लामाबाद के रहने वाले न्यूज प्रोड्यूसर राजा ने अपने इस ट्वीट को डिलीट कर दिया।

साभार: ट्विटर

आदिल राजा के Linked.in प्रोफाइल के अनुसार, वह ARY न्यूज से जुड़ा है। वह CNN से भी बतौर फ्रीलांसर कंट्रीब्यूटर जुड़ा हुआ है।

साभार: ट्विटर

‘एक और हिटलर की जरूरत’ वाले ट्वीट के बाद से आदिल के अन्य ट्वीट्स के स्क्रीनशॉट भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। इन्हीं में से एक में उसने कहा है कि वह फीफा विश्व कप के फाइनल में जर्मनी का समर्थन इसलिए कर रहा था, क्योंकि एडॉल्फ हिटलर जर्मन था और उसने ‘यहूदियों के साथ अच्छा किया’ था। बता दें कि द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान हिटलर ने जर्मनी में यहूदियों का नरसंहार किया था।

साभार: ट्विटर

एक और ट्वीट में उसने हिटलर की तारीफ की थी।

साभार: ट्विटर

यहीं नहीं आदिल के अंदर भारत के प्रति इतना जहर भरा है कि वह फिलिस्तीन के हालात की तुलना कश्मीर से करता है।

साभार: ट्विटर

15 मई 2021 को उसने ट्वीट किया कि फिलिस्तीन में जैसा यहूदी (इजराइल) कर रहे हैं, वैसा ही ‘भारतीय हिंदू अधिकृत कश्मीर में कर रहे हैं’। यहाँ उसने कश्मीर को ‘अधिकृत कश्मीर’ कहा, जबकि ‘अधिकृत कश्मीर’ भारत का एक अभिन्न अंग है जो कि पाकिस्तान और चीन द्वारा अवैध रूप से कब्जा किए गए कश्मीर का हिस्सा है।

हाल ही में इजराइल और फिलिस्तीन के बीच हिंसक झड़प शुरू होने के बाद से ही पाकिस्तान में इजराइल के खिलाफ नफरत उफान मार रही है। आदिल से पहले पाकिस्तानी एक्ट्रेस वीना मलिक ने भी हिटलर को कोट करते हुए यहूदियों के नरसंहार की बात की थी।

रियलिटी शो से ट्विटर ट्रोल बने एक ट्वीट में एडॉल्फ हिटलर का हवाला देते हुए कहा गया है, “मैं दुनिया के सभी यहूदियों को मार डालता… लेकिन मैंने दुनिया को यह दिखाने के लिए कुछ को जिंदा छोड़ दिया ताकि दुनिया को ये पता चल सके कि मैनें उन्हें क्यों मारा..।”

बता दें कि हमास के खिलाफ इजरायली कार्रवाई को देखते हुए पाकिस्तानी सोशल मीडिया में लगातार प्रधानमंत्री इमरान खान से इजराइल पर परमाणु हमला करने की अपील कर रहे हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राजस्थान के मंत्री का स्वागत कर रहे थे कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता, तभी इमरान ने जड़ दिया एक मुक्का: बाद में कहा – ये मेरे आशीर्वाद...

राजस्थान में एक अजोबोग़रीब वाकया हुआ, जब मंत्री और कॉन्ग्रेस नेता भँवर सिंह भाटी को एक युवक ने मुक्का जड़ दिया।

‘मीलॉर्ड्स, आलोचक ट्रोल्स नहीं होते’: भारत के मुख्य न्यायाधीश के नाम एक बिना नाम और बिना चेहरा वाले ट्रोल का पत्र

हमें ट्रोल्स ही क्यों कहा जाता है, आलोचक क्यों नहीं? ऐसा इसलिए, क्योंकि हम उन लोगों की आलोचना करते हैं जो अपनी आलोचना पसंद नहीं करते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,335FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe