Tuesday, October 19, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयस्वर्ण मंदिर पहुँचे पूर्व ऑस्ट्रेलियाई PM, कहा- भारत बनेगा ग्लोबल सुपर पॉवर, सुरक्षा परिषद...

स्वर्ण मंदिर पहुँचे पूर्व ऑस्ट्रेलियाई PM, कहा- भारत बनेगा ग्लोबल सुपर पॉवर, सुरक्षा परिषद में मिले जगह

टोनी अबॉट ने कहा कि आज दुनिया में कोई एक देश संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में जगह पाने का हकदार है तो वह भारत है। उन्होंने कहा कि सैन्य शक्ति और आर्थिक शक्ति, दोनों के हिसाब से देखें तो भारत सुरक्षा परिषद में जगह पाने का अधिकारी है।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी अबॉट गुरु नानक देव जी की 550वीं पुण्यतिथि में हिस्सा लेने के लिए अमृतसर के स्वर्ण मंदिर पहुँचे। इस दौरान उन्होंने सिख पगड़ी पहन रखी थी। टोनी अबॉट ने लंगर में बैठ कर खाना भी खाया। टोनी अबॉट ख़ुद एक कैथोलिक सिख हैं। उन्होंने कहा कि वो ये देख कर आश्चर्यचकित हैं कि सिख धर्म में सभी समुदायों व मजहबों के लोगों का समान भाव से आदर किया जाता है। अमृतसर के स्वर्ण मंदिर को उन्होंने एक ‘बहुत ही पवित्र स्थल’ बताया। अबॉट ने कहा कि ‘एक ओंकार’ की पूजा करना उनके लिए एक महत्वपूर्ण क्षण है, वो भी एक ऐसे पवित्र स्थल पर जहाँ सैकड़ों सालों से ऐसा किया जा रहा है।

टोनी अबॉट ने कहा कि यहाँ आकर प्रार्थना करना उनके लिए गर्व का क्षण है। इस दौरान शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी ने पूर्व ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री को गुरु नानक का एक चित्र भेंट किया। अबॉट ने इस दौरान कहा कि वो भारत के सभी नागरिकों को धन्यवाद देना चाहते हैं, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के विकास में योगदान दिया है। टोनी अबॉट 1981 में भारत के कई स्थलों का भ्रमण कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि भारत एक उभरती हुई वैश्विक महाशक्ति है और दुनिया में बड़ा किरदार अदा करने जा रहा है।

इस दौरान टोनी अबॉट ने कहा कि भारत आर्थिक मोर्चे पर चीन के समानांतर खड़ा हो सकता है और इसके लिए ऑस्ट्रेलिया उसकी पूरी मदद करेगा। उन्होंने कहा कि भारत को एक लोकतान्त्रिक ग्लोबल सुपरपावर बनना है। अमृतसर दौरे के बाद दिल्ली पहुँचे अबॉट ने लोगों को सम्बोधित करते हुए ये बातें कही। उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया ने आज तक चीन के साथ जितने क़रीबी रिश्ते बनाए हैं, भारत के साथ और अच्छे रिश्ते बनाना उससे भी आसान और बेहतर है।

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने ताइवान और हॉन्गकॉन्ग में चल रहे प्रदर्शनों के दमन को लेकर चीन की आलोचना की। उन्होंने कहा कि भारत, ऑस्ट्रेलिया, जापान और अमेरिका- इन चारों लोकतान्त्रिक देशों को मिलजुल कर काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया के कुछ अधिकारी ऐसा क्यों सोचते हैं कि लोकतान्त्रिक और अंग्रेजी में समझने वला भारत वो चीजें प्राप्त नहीं कर सकता, जो कम्युनिस्ट चीन कर सकता है? उन्होंने आँकड़े गिनाते हुए कहा कि 50 करोड़ भारतीय स्मार्टफोन द्वारा वैश्विक अर्थव्यवस्था से जुड़े हुए हैं और पिछले 40 सालों में भारत की जीडीपी 4 गुना बढ़ गई है। अबॉट ने कहा कि पिछले 5 सालों से भारत दुनिया की सबसे तेज़ी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है।

उन्होंने इंडो-पैसिफिक एकता की भी वकालत की। टोनी अबॉट ने कहा कि आज दुनिया में कोई एक देश संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में जगह पाने का हकदार है तो वह भारत है। उन्होंने कहा कि सैन्य शक्ति और आर्थिक शक्ति, दोनों के हिसाब से देखें तो भारत सुरक्षा परिषद में जगह पाने का अधिकारी है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तान हारे भी न और टीम इंडिया गँवा दे 2 अंक: खुद को ‘देशभक्त’ साबित करने में लगे नेता, भूले यह विश्व कप है-द्विपक्षीय...

सृजिकल स्ट्राइक का सबूत माँगने वाले और मंच से 'पाकिस्तान ज़िंदाबाद' का नारा लगवाने वाले भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच रद्द कराने की माँग कर 'देशभक्त' बन जाएँगे?

धर्मांतरण कराने आए ईसाई समूह को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, छत्तीसगढ़ की गवर्नर का CM को पत्र- जबरन धर्म परिवर्तन पर हो एक्शन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में ग्रामीणों ने ईसाई समुदाय के 45 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया। यह समूह देर रात धर्मांतरण कराने के इरादे से पहुँचा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,980FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe