Monday, June 17, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'15 मार्च तक मालदीव खाली करें भारत के जवान': राष्ट्रपति मुइज्जू की धमकी के...

’15 मार्च तक मालदीव खाली करें भारत के जवान’: राष्ट्रपति मुइज्जू की धमकी के बाद दोनों देशों के बीच उच्च-स्तरीय बैठक, पाँव पसारने का मौका ढूँढ रहा चीन

मुइज्जू को मालदीव में भारत विरोधी के तौर पर ही सत्ता मिली है। ऐसे में भारत से बढ़ते तनाव के बीच वो अपनी कुर्सी को लेकर चिंतित हैं। हाल ही में माले के मेयर चुनाव में मुइज्जू के समर्थक प्रत्याशी की हार के बाद उन पर भारत विरोधी कामों में तेजी लाने का भी दबाव है।

मालदीव ने भारत को अपने सैनिकों और अन्य साजो-सामान वापस लेने के लिए कहा था, अब इस बारे में दोनों तरफ के उच्चाधिकारियों की बैठक हुई है। चीन के दौरे से लौटने के बाद मुइज्जू सरकार और भारत सरकार के समकक्षों के बीच ये हाई लेवल मीटिंग हुई है। इस मीटिंग में कई मुद्दों से इतर जो मुद्दा सबसे अहम रहा, वो ये है कि मालदीव की जमीन से भारतीय सैनिकों की वापसी कब तक होगी। दरअसल, मालदीव में भारत की एक छोटी सी टुकड़ी मौजूद है, जो मालदीव को दिए डॉर्नियर विमान, हेलीकॉप्टरों को ऑपरेट करती है।

मुइज्जू को मालदीव में भारत विरोधी के तौर पर ही सत्ता मिली है। ऐसे में भारत से बढ़ते तनाव के बीच वो अपनी कुर्सी को लेकर चिंतित हैं। हाल ही में माले के मेयर चुनाव में मुइज्जू के समर्थक प्रत्याशी की हार के बाद उन पर भारत विरोधी कामों में तेज़ी लाने का भी दबाव है, क्योंकि आम जनता अब भारत के नज़दीक जाती दिख रही है। ऐसे में मालदीव की राजधानी में एक हाई लेवल मीटिंग हुई है, जिसमें मालदीव-भारत संबंधों के अतिरिक्त भारतीय सैनिकों की वापसी के मुद्दे पर भी बात हुई। चूँकि मुइज्जू इसी वादे के साथ चुनाव जीते थे कि वो भारतीय सैनिकों को मालदीव की जमीन से हटा देंगे, ऐसे में उनके लिए ये जरूरी काम हो चला है।

इस समय मालदीव में 77 भारतीय सैन्यकर्मी हैं। मालदीव में पहले हेलीकॉप्टर का प्रबंधन करने के लिए 24 भारतीय सैन्यकर्मी, डोर्नियर विमान का प्रबंधन करने के लिए 25 भारतीय, दूसरे हेलीकॉप्टर का प्रबंधन करने के लिए 26 भारतीय और रखरखाव और इंजीनियरिंग के लिए दो अन्य भारतीय कर्मी हैं। ऐसे में वो चाहता है कि जल्द से जल्द भारत मालदीव की जमीन से हट जाए, ताकि चीन को पैर फैलाने का मौका दिया जा सके।

दरअसल, मालदीव के राष्ट्रपति मुइज्जू शनिवार (13 जनवरी 2023) को ही चीन की पाँच दिन की यात्रा से लौटे हैं। उन्होंने मालदीव पहुँचते ही कहा था कि हमारा देश भले ही छोटा है लेकिन हमें बुली करने का लाइसेंस किसी के पास नहीं है। हालाँकि, मुइज्जू ने प्रत्यक्ष तौर पर किसी का नाम लेकर ये बयान नहीं दिया, लेकिन माना जा रहा है कि उनका निशाना भारत की तरफ है।

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से भारत-मालदीव के बीच तनाव चल रहा है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अभद्र टिप्पणी करने के बाद भारतीयों ने मालदीव को निशाने पर लिया था। इस विवाद के बाद मालदीव के तीन मंत्री जो मुइज्जू के नजदीकी माने जाते थे, उन्हें अपनी कुर्सी गँवानी पड़ी थी। वहीं, इस विवाद के बाद हजारों भारतीयों ने मालदीव का ट्रिप कैंसिल कर दिया था, जिसके बाद मालदीव की हालत खराब है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पहले उइगर औरतों के साथ एक ही बिस्तर पर सोए, अब मुस्लिमों की AI कैमरों से निगरानी: चीन के दमन की जर्मन मीडिया ने...

चीन में अब भी उइगर मुस्लिमों को लेकर अविश्वास है। तमाम डिटेंशन सेंटरों का खुलासा होने के बाद पता चला है कि अब उइगरों पर AI के जरिए नजर रखी जा रही है।

सेजल, नेहा, पूजा, अनामिका… जरूरी नहीं आपके पड़ोस की लड़की ही हो, ये पाकिस्तान की जासूस भी हो सकती हैं: जानिए कैसे ISI के...

पाकिस्तानी ISI के जासूस भारतीय लड़कियों के नाम से सोशल मीडिया पर आईडी बना देश की सुरक्षा से जुड़े लोगों को हनीट्रैप कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -