Monday, July 15, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयशराब पीने के बाद शेख शमीम ने अपने दोस्त मंसूरी के प्राइवेट पार्ट में...

शराब पीने के बाद शेख शमीम ने अपने दोस्त मंसूरी के प्राइवेट पार्ट में घुसा दी वोदका की बोतल: आँत फटी, 2.5 घंटे सर्जरी कर डॉक्टरों ने निकाला

सर्जरी करने वाले एक डॉक्टर ने कहा कि शराब की बोतल की वजह से मरीज की आँत फट गई थी। आँत फटने के कारण मल का रिसाव हो रहा था। इसके कारण उसे असहनीय दर्द होता था और उसकी हालत लगातार बिगड़ती जा रही थी। डॉक्टर ने बताया कि ऑपरेशन के अलावा और कोई विकल्प नहीं था।

पड़ोसी देश नेपाल (Nepal) में नूरसाद मंसूरी ने दोस्तों के साथ जमकर शराब पी। नशे में उसके एक दोस्त शेख शमीम ने मंसूरी के प्राइवेट पार्ट में शराब की बोतल घुसा दी। बाद में जब मंसूरी की तबीयत बिगड़ी तो अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहाँ डॉक्टरों ने ऑपरेशन करके वोदका की बोतल निकाली। वहीं, पुलिस ने उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है।

मामला रौतहट जिले के गुजरा नगरपालिका की है। यहाँ के रहने वाले 26 वर्षीय नूरसाद मंसूरी को पेट में असहनीय दर्द होता था। इससे उसकी तबीयत अचानक बिगड़ने लगी। मंसूरी की हालत देखते हुए परिजनों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया। मेडिकल जाँच के दौरान पता चला की उसके पेट में कोई वस्तु है।

उसे निकालने के लिए डॉक्टरों ने सर्जरी करने का निर्णय लिया। डॉक्टरों की एक टीम ने इमरजेंसी सर्जरी शुरू की। इस दौरान डॉक्टरों ने देखा कि उसके पेट में एक बोतल है। यह बोतल वोदका शराब की थी। डॉक्टरों ने लगभग ढाई घंटे की सर्जरी के बाद उसे बाहर निकाला। मंसूरी की हालत खतरे से बाहर है।

सर्जरी करने वाले एक डॉक्टर ने कहा कि शराब की बोतल की वजह से मरीज की आँत फट गई थी। आँत फटने के कारण मल का रिसाव हो रहा था। इसके कारण उसे असहनीय दर्द होता था और उसकी हालत लगातार बिगड़ती जा रही थी। डॉक्टर ने बताया कि ऑपरेशन के अलावा और कोई विकल्प नहीं था।

पेट में शराब की बोतल मिलने के बाद पुलिस ने जाँच शुरू की। पुलिस ने बताया कि नूरसाद मंसूरी की तबीयत उसके दोस्त के कारण खराब हुई थी। मंसूरी ने अपने दोस्तों के साथ जमकर शराब पी थी। जब नशा चढ़ा तो उसके एक दोस्त ने उसके प्राइवेट पार्ट में जबरदस्ती बोतल घुसा दी। ये बोतल उसके पेट चली गई। उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया गया है।

मंसूरी के जिस दोस्त को पुलिस ने गिरफ्तार किया है उसका नाम शेख शमीम है। वहीं, उसके अन्य दोस्तों से भी पुलिस पूछताछ कर रही है। रौतहाट के पुलिस अधीक्षक बीर बहादुर बुद्ध मागर ने कहा, “नूरसाद के कुछ और दोस्त फरार हैं और हम उनकी तलाश कर रहे हैं।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: 2013 से 2018 के...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

मंगलौर के बहाने समझिए मुस्लिमों का वोटिंग पैटर्न: उत्तराखंड की जिस विधानसभा से आज तक नहीं जीता कोई हिन्दू, वहाँ के चुनाव परिणामों से...

मंगलौर में हाल के विधानसभा उपचुनावों में कॉन्ग्रेस ने भाजपा को हराया। इस चुनाव में मुस्लिम वोटिंग का पैटर्न भी एक बार फिर साफ़ हो गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -