Saturday, July 24, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयMeToo: 60 से ज्यादा महिला कलाकारों को बनाया हवस का शिकार, अब 5 से...

MeToo: 60 से ज्यादा महिला कलाकारों को बनाया हवस का शिकार, अब 5 से 25 साल तक की सजा, 11 मार्च को फैसला

पूर्व प्रोजेक्ट रनवे उत्पादन सहायक मिरियम हेली को ओरल सेक्स के लिए मजबूर करने के लिए विंनस्टीन को पहली डिग्री में क्रिमिनल सेक्स अधिनियम का दोषी पाया गया। जिसमें 5 साल से लेकर 25 साल तक की सजा होने का प्रावधान है।

साल 2017 में जिस METOO अभियान ने पूरे सोशल मीडिया पर तहलका मचा दिया था। उसकी शुरुआत अमेरिकन अदाकारा एलिसा मिलानो ने की थी जिनका शोषण पूर्व फिल्म निर्माता हॉरवे विंस्टिन ने किया था। आज उसी हॉलीवुड के फिल्म निर्माता और मीटू के मुख्य आरोपित हॉर्वे विंस्टिन को न्यूयॉर्क की अदालत ने यौन उत्पीड़न और बलात्कार मामलों में दोषी पाया है। हालाँकि विंस्टिन के ख़िलाफ़ कोर्ट 11 मार्च को अपना फैसला सुनाएगा। लेकिन कहा जा रहा है उसे 5 साल से लेकर 25 साल तक की सजा हो सकती है।

जानकारी के अनुसार 2006 में पूर्व प्रोजेक्ट रनवे उत्पादन सहायक मिरियम हेली को ओरल सेक्स के लिए मजबूर करने के लिए विंनस्टीन को पहली डिग्री में क्रिमिनल सेक्स अधिनियम का दोषी पाया गया। जिसमें 5 साल से लेकर 25 साल तक की सजा होने का प्रावधान है। इसके अलावा उसे एक महिला के साथ थर्ड डिग्री रेप का भी दोषी पाया गया। जिसमें 4 साल तक की सजा पाने का प्रावधान है। इतने के बावजूद विंस्टीन एक अन्य मामले में लॉस एजेंल्स में भी मुकदमें का सामना कर रहा है।

कल मामले के सुनवाई करते हुए मैनहट्टन के डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी सी वाई वेंस ने कहा, “विन्स्टिन एक शातिर, यौन शिकारी है, जिसने अपनी शक्ति का इस्तेमाल अपने पीड़ितों को धमकाने, बलात्कार, हमला, छल, अपमानित करने और चुप कराने के लिए किया।” इस दौरान डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी ने हॉरवे विंस्टन के ख़िलाफ़ शिकायत करने वाली महिलाओं की बहादुरी को सराहा और कहा कि उनके हिम्मत के कारण ही ये संभव हो पाया।

बता दें, हॉ़लीवुड के पूर्व फिल्म निर्माता विंस्टिन के दोषी पाए जाने के बाद इस फैसले को टाइम्स संस्थान की सीईओ ने ‘न्याय के नया दौर को चिह्नित करने वाला’ बताया। साथ ही कई जानी-मानी हस्तियों ने भी इसकी सराहना की।

गौरतलब है कि विंस्टिन के ख़िलाफ़ साल 2017 में मीटू अभियान छिड़ने के बाद हॉलीवुड हिरोइन एनाबेला शियोरा ने भी उसपर आरोप लगाए थे कि विंस्टन ने उनका 1990 में बलात्कार किया और बाद में कई साल तक वे उनका यौन उत्पीड़न भी करता रहा।

यूँ तो मीटू अभियान के शुरू होने के बाद कई चौकाने वाले नामों का खुलासा आरोपितों के रूप में हुआ। मगर विंस्टिन पर तो इसके बाद गाज गिरीं। धीरे-धीरे पिछले सभी कुकर्मों का खुलासा होने लगा। एक्ट्रेस नाटैसिया माल्थे ने भी इस मामले के कुछ दिन बाद हार्वे पर उनके साथ जबरन हस्तमैथुन करने का आरोप लगाया था।इतना ही नहीं, न्यूयॉर्क टाइम्स, और द न्यूयॉर्कर में इन दो खुलासों के बाद ये भी पता चला था कि 60 से अधिक महिलाओं ने उनके ऊपर यौन उत्पीड़न और बलात्कार करने का आरोप लगाया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कीचड़ मलती ‘गोरी’ पत्रकार या श्मशानों से लाइव रिपोर्टिंग… समाज/मदद के नाम पर शुद्ध धंधा है पत्रकारिता

श्मशानों से लाइव रिपोर्टिंग और जलती चिताओं की तस्वीरें छापकर यह बताने की कोशिश की जाती है कि स्थिति काफी खराब है और सरकार नाकाम है।

ओलंपिक में मीराबाई चानू के सिल्वर मेडल जीतने पर एक दुःखी वामपंथी की व्यथा…

भारत की एक महिला भारोत्तोलक मीराबाई चानू ने टोक्यो ओलंपिक में वेटलिफ्टिंग में सिल्वर मेडल जीता है। ये विज्ञान व लोकतंत्र के खिलाफ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,987FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe