Saturday, July 31, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयPak में 1 साल में 2 हिंदू डॉक्टरों की हत्या: इस बार चाकू से...

Pak में 1 साल में 2 हिंदू डॉक्टरों की हत्या: इस बार चाकू से रेता गया गला, इससे पहले रेप के बाद किया था मर्डर

वीडियो में डॉक्टर का शव खून से लथपथ जमीन में पड़ा देखा जा सकता है। डॉक्टर लाल चंद बागरी तांदो अल्यहार में मार दिए गए। उनकी गर्दन किसी तेज धार वाले हथियार से काटी गई।

पाकिस्तान में एक और हिंदू डॉक्टर की बेहरमी से हत्या कर दी गई। डॉक्टर का नाम लाल चंद बागरी है। बताया जा रहा है कि बागरी सिंध प्रांत के तांदो अल्यहार में स्थित अपने घर में रह कर डॉक्टरी की प्रैक्टिस कर रहे थे। लेकिन सोमवार को कुछ अज्ञात लोगों ने उनके घर में घुस कर उनका गला चाकू से रेत दिया। बाद में कुछ पड़ोसियों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी।

सोशल मीडिया पर पाकिस्तान के अल्पसंख्यकों की आवाज उठाने वाले वॉयस ऑफ पाकिस्तान माइनॉरिटी ने भी इस घटना के बाद की वीडियो अपने हैंडल से साझा की। वीडियो में डॉक्टर का शव खून से लथपथ जमीन में पड़ा देखा जा सकता है। ट्वीट में लिखा गया है, “हिंदू अल्पसंख्यक समुदाय से आने वाले डॉक्टर लाल चंद बागरी तांदो अल्यहार में मार दिए गए। उनकी गर्दन किसी तेज धार वाले हथियार से काटी गई।”

ट्वीट में आगे इमरान सरकार में मानव अधिकार मंत्री शिरीन मजारी को टैग करके लिखा गया कि यदि वह अल्पसंख्यकों का संरक्षण नहीं कर सकतीं तो फिर उन्हें अपने पोस्ट से इस्तीफा देना चाहिए।

गौरतलब है कि पाकिस्तान में मात्र एक साल में यह दूसरे हिंदू डॉक्टर की हत्या हुई है। इससे पहले कराची में एक हिंदू महिला डॉक्टर का शव उसके हॉस्टल के कमरे से मिला था। महिला डॉक्टर का नाम नमृता चंदानी था।

उनकी पोस्टमॉर्टम में यह बात सामने आई थी कि रेप के बाद हत्या की गई। जबकि प्रशासन इसे बार-बार आत्महत्या का मामला बताना चाहता था। इस मामले के तूल पकड़ने के बाद पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया था। मगर, बाद में उन दोनों को रिहा कर दिया गया।

अब हालिया मामले में भी अभी तक पुलिस को आरोपितों की जानकारी नहीं है। बताया जा रहा है हत्या को अंजाम देने के बाद सभी आरोपित मौके से फरार हो गए। पुलिस अब पूछताछ करके इनका पता लगाने की कोशिश कर रही है।

दूसरी ओर सोशल मीडिया पर भी इस मामले के सामने आने के बाद पाकिस्तान में हिंदुओं की सुरक्षा पर फिर सवाल हो रहा है। लोग इस घटना की जानकारी तो साझा कर रहे हैं। मगर, वीडियो इसलिए नहीं शेयर कर रहे क्योंकि उसमें चारों ओर खून नजर आ रहा है। ट्विटर पर पूछा जा रहा है कि क्या पाकिस्तान में हिंदू आपातकाल स्थिति का सामना कर रहे हैं। क्या कोई शिया इसकी निंदा करेगा?

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पेगासस: ‘खोजी’ पत्रकारिता का भ्रमजाल, जबरन बयानबाजी और ‘टाइमिंग’- देश के खिलाफ हर मसाले का प्रयोग

दुनिया भर में कुल जमा 23 स्मार्टफोन में 'संभावित निगरानी' को लेकर ऐसा बड़ा हल्ला मचा दिया गया है, मानो 50 देशों की सरकारें पेगासस के ज़रिए बड़े पैमाने पर अपने नागरिकों की साइबर जासूसी में लगी हों।

पिता ने उधार लेकर करवाई हॉकी की ट्रेनिंग, निधन के बाद अंतिम दर्शन भी छोड़ा: अब ओलंपिक में इतिहास रच दी श्रद्धांजलि

वंदना कटारिया के पिता का सपना था कि भारतीय महिला हॉकी टीम ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीते। बचपन में पिता ने उधार लेकर उन्हें हॉकी की ट्रेनिंग दिलवाई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,211FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe