Tuesday, July 16, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयसीरिया में बाइक पर घूम रहा था ISIS का टॉप आतंकी अल-मुजाहिर, अमेरिका ने...

सीरिया में बाइक पर घूम रहा था ISIS का टॉप आतंकी अल-मुजाहिर, अमेरिका ने ड्रोन से लगाया निशाना: मौके पर मौत, Video आया सामने

अमेरिका ने बताया कि मारा गया आतंकी अल-मुहाजिर सीरिया के उत्तर-पश्चिमी के साथ पूर्वी क्षेत्र में भी सक्रिय था। अमेरिका ने यह भी बताया है कि अल-मुहाजिर को मारने के दौरान किसी आम नागरिक की न तो मौत हुई और न ही कोई घायल हुआ।

अमेरिका ने सीरिया में सक्रिय आतंकी संगठन ISIS के एक टॉप आतंकवादी को ड्रोन हमले में मार गिराने का दावा किया है। मारे गए आतंकी का नाम ओसामा अल-मुहाजिर है। 9 जुलाई (रविवार) को अमेरिकी सैन्य अधिकारीयों ने बताया कि यह हमला 7 जुलाई 2023 को किया गया था। इस मुठभेड़ का फुटेज भी जारी किया गया है। अमेरिका ने अपने अभियान में रूस के लड़ाकू विमानों द्वारा बाधा डालने का भी आरोप लगाया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शुक्रवार (7 जुलाई) को अमेरिका के रीपर ड्रोन एमक्यू-9 ने आतंकियों की टोह लेने के लिए उड़ान भरी थी। इस दौरान रास्ते में उनका सामना रूसी लड़ाकू विमानों से हुआ। आरोप लगाया गया है कि रूस के जहाज़ों ने लगभग 2 घंटों तक अमेरिकी ड्रोन को परेशान किया। 2 घंटे बाद अमेरिकी ड्रोन ने ISIS के टॉप आतंकी उसामा अल-मुहाजिर को अलेप्पो क्षेत्र में खोज निकाला। वह बाइक से कहीं भाग रहा था। आखिरकार ड्रोन के सटीक निशाने में अल मुहाजिर मारा गया।

अमेरिका ने बताया कि मारा गया आतंकी अल-मुहाजिर सीरिया के उत्तर-पश्चिमी के साथ पूर्वी क्षेत्र में भी सक्रिय था। अमेरिका ने यह भी बताया है कि अल-मुहाजिर को मारने के दौरान किसी आम नागरिक की न तो मौत हुई और न ही कोई घायल हुआ। अमेरिका ने आधिकारिक रूप से रूसी सेना की भी आलोचना की और उनके रवैए को गैर जिम्मेदाराना बताया है। सेंट्रल कमांड के कमांडर ने अपने बयान में साफ तौर पर कहा कि वो सीरिया में ISIS आतंकियों को हर हाल में हराएँगे।

अमेरिका का मानना है कि ISIS सीरिया और ईराक में पहले के मुकाबले काफी कमजोर हो चुका है। हालाँकि वह बचे आतंकियों को क्षेत्रीय शाँति और सुरक्षा के लिए खतरा मानता है। बताया यह भी गया कि कई आतंकी अभी भी आतंकी हमले की योजना को अंजाम देने की फिराक में हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस भोजशाला को मुस्लिम कहते हैं कमाल मौलाना मस्जिद, वह मंदिर ही है: ASI ने हाई कोर्ट को बताया- मंदिरों के हिस्से पर बने...

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट को सौंपी गई रिपोर्ट में ASI ने कहा है कि भोजशाला का वर्तमान परिसर यहाँ पहले मौजूद मंदिर के अवशेषों से बनाया गया था।

भारतवंशी पत्नी, हिंदू पंडित ने करवाई शादी: कौन हैं JD वेंस जिन्हें डोनाल्ड ट्रम्प ने चुना अपना उपराष्ट्रपति उम्मीदवार, हमले के बाद पूर्व अमेरिकी...

पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को रिपब्लिकन पार्टी के नेशनल कंवेंशन में राष्ट्रपति और सीनेटर JD वेंस को उपराष्ट्रपति उम्मीदवार चुना है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -