Friday, June 21, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपुलवामा और उरी हमलों में आया जिस आतंकी का नाम, उसे अज्ञातों ने ठोक...

पुलवामा और उरी हमलों में आया जिस आतंकी का नाम, उसे अज्ञातों ने ठोक दिया: Pak में हाफिज सईद के साथी की हत्या, राजनीति में सक्रिय है ‘खान बाबा’ का परिवार

हमले में बुरी तरह से घायल हबीबुल्लाह को अस्पताल ले जाया गया। हालाँकि, उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया था। कुंडी परिवार के कई सदस्य पाकिस्तान की राजनीति में सक्रिय रहे हैं।

पाकिस्तान में अज्ञात लोगों द्वारा रहस्यमयी हालात में वॉन्टेड आतंकियों की हत्याओं का सिलसिला जारी है। ताजा जानकारी के मुताबिक, रविवार (17 दिसंबर, 2023) की शाम को अज्ञात बंदूकधारियों ने लश्कर-ए-तैय्यबा (LET) के एक और आतंकवादी हबीबुल्लाह की गोलियों से भून कर हत्या कर दी। आतंकी हबीबुल्लाह खान बाबा नाम से भी जाना जाता था। उसकी हत्या खैबर पख्तूनख्वा क्षेत्र के टैंक जिले में हुई है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, हबीबुल्लाह उर्फ़ खान बाबा कई नाम बदल कर रहता था। वह कथित तौर पर कश्मीर के उरी और पुलवामा आतंकी हमलों में शामिल रहा था। सैन्य ठिकानों को निशाना बना कर हुए इन हमलों में भारत के कई सैनिकों को वीरगति प्राप्त हुई थी। मारा गया खान बाबा नेशनल असेंबली (MNA) के पूर्व सदस्य और इमरान खान की पार्टी PTI के नामी नेता दावर खान कुंडी का चचेरा भाई है। ’24 न्यूज HD’ टीवी चैनल के मुताबिक, हमलावरों ने टैंक के एक गाँव रुनवाल में हबीबुल्लाह पर गोलियाँ बरसाईं।

हमले में बुरी तरह से घायल हबीबुल्लाह को अस्पताल ले जाया गया। हालाँकि, उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया था। पाकिस्तानी अख़बार ‘डॉन’ की एक पुरानी रिपोर्ट में बताया गया है कि कुंडी परिवार के कई सदस्य पाकिस्तान की राजनीति में सक्रिय रहे हैं। इनमें से एक अमानुल्लाह कुंडी तो पाकिस्तान की सरकार में मंत्री भी रहे हैं। अमानुल्लाह की जनवरी 2023 में मौत हो गई है। फ़िलहाल पुलिस मामले की जाँच के साथ हमलावरों को पकड़ने का प्रयास कर रही है। हालाँकि अभी उसे सफलता नहीं मिल पाई है।

मारा गया हबीबुल्लाह लश्कर ए तैयबा के लिए पाकिस्तान में आतंकियों की भर्ती करता था। यही आतंकी भारत में घुसपैठ कर के हमलों को अंजाम देते थे। कई रिपोर्ट्स में बताया गया है कि हबीबुल्लाह की कथित हत्या इस तरह की 23 वीं घटना है। पिछले कुछ महीनों में पाकिस्तान में अलग-अलग जगहों पर अज्ञात बंदूकधारियों ने अलग-अलग आतंकवादियों को मार गिराया है। इन सबमे सबसे हालिया हत्या लश्कर-ए-तय्यबा के संस्थापक और 26/11 मुंबई आतंकी हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के करीबी सहयोगी अदनान अहमद की रही है।

अदनान अहमद को कुछ सप्ताह पहले ही कराची शहर में गोलियों से भून दिया गया था। यहाँ यह बात भी गौरतलब है कि सुबह से सोशल मीडिया में भारत के मोस्ट वॉन्टेड दाऊद इब्राहिम को भी जहर दिए जाने की खबर वायरल है। इन खबरों के बीच पाकिस्तान के कई हिस्सों में इंटरनेट बैन होने की भी जानकारी सामने आई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभी तिहाड़ जेल से बाहर नहीं आ पाएँगे दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल, हाई कोर्ट ने बेल पर लगाई रोक: ED ने बताया- अब...

दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट से बेल मिलने के बाद भी अभी सीएम केजरीवाल जेल से रिहा नहीं होंगे। ईडी के विरोध पर दिल्ली हाई कोर्ट ने बेल पर रोक लगा दी है।

साल भर में 70% कम हुआ स्विस बैंकों में रखा धन, 2019 से भारत के साथ जानकारी साझा कर रहा है स्विट्जरलैंड: जानिए क्यों...

भारत में ग्राहक जमा खातों और अन्य बैंक शाखाओं के माध्यम से रखी गई धनराशि में भी काफी गिरावट आई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -