Wednesday, May 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयन कश्मीर मुद्दे पर मिला साथ, न टारगेट किलिंग का प्रोपगेंडा आया काम: पाकिस्तान...

न कश्मीर मुद्दे पर मिला साथ, न टारगेट किलिंग का प्रोपगेंडा आया काम: पाकिस्तान ने भारत पर उठाए सवाल तो सऊदी अरब से लेकर US तक हुई फजीहत

भारत के खिलाफ बयानबाजी करने पर पाकिस्तान को सऊदी अरब से लेकर अमेरिका तक से मुँह की खानी पड़ रही है। सऊदी अरब में तो पाकिस्तान ने अपना पुराना रोना रोते हुए कश्मीर पर मुद्दा उठाया तो वहाँ से जवाब मिला कि वो जाकर इस बारे में भारत से बात करें।

भारत के खिलाफ बयानबाजी करने पर पाकिस्तान को सऊदी अरब से लेकर अमेरिका तक से मुँह की खानी पड़ रही है। सऊदी अरब में तो पाकिस्तान ने अपना पुराना रोना रोते हुए कश्मीर पर मुद्दा उठाया तो वहाँ से जवाब मिला कि वो जाकर इस बारे में भारत से बात करें। वहीं अमेरिका ने भी पाकिस्तान के उन दावों पर बनी ‘द गार्जियन’ की उस रिपोर्ट कुछ बोलने से मना किया है जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत पाकिस्तान में घुसकर लोगों को मार रहा है।

सऊदी अरब ने साथ देने से किया मना

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ सऊदी अरब के दौरे पर गए हैं। शरीफ ने सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से मुलाकात की है। इस दौरान उन्होंने पहले तो अपने मुल्क की आर्थिक सहायता के लिए मोहम्मद बिन सुलेमान से गुहार लगाई। इसके बाद जब ये माँग सुन ली गई तो कश्मीर पर यूएन में उनकी ओर से बोलने को कहा।

इस सऊदी के प्रिंस ने कहा, “कश्मीर का मुद्दा पाकिस्तान और भारत के बीच का है और दोनों देशों को बातचीत से इसे सुलझाना चाहिए।” उनके इस बयान के बाद इसे पाकिस्तानी नागरिक खुद अपनी फजीहत मान रहे हैं। एक यूट्यूबर से बात करते हुए एक पाकिस्तानी ने कहा कि ये मामला पाकिस्तानी, भारतीय या किसी अन्य के हाथ में नहीं होना चाहिए, कश्मीर के लोग क्या चाहते हैं इस पर होना चाहिए।

अमेरिका ने की फजीहत

बता दें कि जैसे भारत की बात आने पर सऊदी ने पाकिस्तान का साथ नहीं दिया है वैसे ही द गार्जियन की रिपोर्ट में पाकिस्तानियों के पक्ष को अमेरिका के राज्य विभाग ने कोई तवज्जों नहीं दी। भारत पर लगाए गए टारगेट किलिंग के इल्जाम पर विभाग के प्रवक्ता मैथ्यू मिलर ने कहा, “इस मसले में हम मीडिया रिपोर्टों को देख कर रहे हैं। आंतकियों की मौत में भारत की संलिप्तता पर हमारी कोई टिप्पणी नहीं है। लेकिन हम दोनों पक्षों को तनाव से बचने और बातचीत के माध्यम से समाधान खोजने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।”

गौरतलब है कि पिछले दिनों द गार्जियन ने एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी जिसमें पाकिस्तानियों के हवाले से दावा किया गया था कि भारत, पाकिस्तान में आतंकियों को मरवा रहा है। उसकी संलिप्ता 20 से ज्यादा हत्याओं में हैं। द गार्जियन और पाकिस्तान का मकसद था कि शायद ऐसी रिपोर्ट से भारत की बदनामी होगी लेकिन इस रिपोर्ट को पढ़कर भारतीय अपने देश की सरकार की और तारीफें करने लगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -