Wednesday, May 25, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइमरान, कहाँ से लाते हो ऐसे रिपोर्टर: ट्रम्प ने की बेइज्जती तो पाक मीडिया...

इमरान, कहाँ से लाते हो ऐसे रिपोर्टर: ट्रम्प ने की बेइज्जती तो पाक मीडिया ने रोका लाइव प्रसारण

जम्मू-कश्मीर पर पाकिस्तानी पत्रकार के दावे को नकारते हुए ट्रंम्प ने कहा कि 'तुम बयान दे रहे हो, सवाल नहीं पूछ रहे।' अमेरिकी राष्ट्रपति ने साथ बैठे इमरान खान से पूछा कि क्या यह रिपोर्टर उनकी टीम का है?

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान जब से अमेरिका पहुँचे हैं, तब से लगातार उनकी बेइज्जती हो रही है। जब वह सऊदी क्राउन प्रिंस की स्पेशल फ्लाइट से अमेरिका पहुँचे, तब उनके स्वागत के लिए कोई भी अमेरिकी अधिकारी नहीं पहुँचा। एयरपोर्ट पर केवल पाकिस्तानी अधिकारी ही उन्हें रिसीव करने पहुँचे। अव्वल तो यह कि पीएम मोदी को रेड कार्पेट वेलकम देने वाले अमेरिका ने इमरान के लिए बस एक चटाई बिछा कर इतिश्री कर ली। उनका ये फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ और उनकी खिल्ली उड़ी।

पीएम मोदी की रैली ‘हाउडी मोदी’ में भाग लेने के 1 दिन बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तानी पीएम से भी मुलाक़ात की। इस दौरान पाकिस्तान के एक अति-उत्साही पत्रकार ने अपने देश और प्रधानमंत्री की बेइज्जती करवा दी। उक्त पाकिस्तानी पत्रकार ने कश्मीर को लेकर ट्रम्प के सामने पाकिस्तानी प्रोपगेंडा चलाने की कोशिश की लेकिन इससे पाक पीएम का ही मज़ाक बन गया। मजबूरी में पाकिस्तानी चैनल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस का प्रसारण ही रोक दिया।

दरअसल, जब ट्रम्प और इमरान ख़ान मीडिया से बात कर रहे थे, तब एक पाकिस्तानी पत्रकार ने अमेरिकी राष्ट्रपति से कहा कि कश्मीरी जनता पिछले 50 दिनों से कष्ट भुगत रही है। हवा-हवाई दावों की श्रृंखला को आगे बढ़ाते हुए उक्त पत्रकार ने ट्रम्प के सामने दावा किया कि 50 दिनों से कश्मीर में न तो इंटरनेट चल रहा है और न ही कोई अन्य व्यवस्था काम कर रही है। साथ ही उसने जम्मू-कश्मीर में कथित मानवाधिकार उल्लंघन की बातें भी की।

उस पत्रकार ने ट्रम्प से पूछा कि वह जम्मू-कश्मीर के लिए क्या करना चाहते हैं? बदले में अमेरिका के राष्ट्रपति ने पाक पीएम इमरान से ही सवाल पूछ डाला। ट्रम्प ने इमरान से पूछा कि आप ऐसे रिपोर्टर्स कहाँ से लेकर आते हो? ट्रम्प ने इमरान से पूछा कि क्या यह रिपोर्टर उनकी टीम का है? उक्त पत्रकार के दावों को नकारते हुए राष्ट्रपति ट्रम्प ने उससे कहा कि तुम बयान दे रहे हो, सवाल नहीं पूछ रहे। इसके बाद एआरवाई चैनल ने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस का प्रसारण ही रोक दिया। ‘लाइव 92’ सहित कई अन्य पाकिस्तानी न्यूज़ चैनलों ने भी अपने देश, पाक मीडिया और पाक पीएम का मज़ाक बनते देख प्रसारण रोक दिया।

सवाल यह है कि बिना किसी सबूत और तथ्य के भारत पर लगातार बड़े-बड़े आरोप लगाने वाले इमरान ख़ान के एजेंडे को आगे बढ़ा कर पाकिस्तानी मीडिया लगातार अपने देश का मज़ाक़ क्यों बना रहा है? राष्ट्रपति ट्रम्प ने इमरान के सामने कहा कि पीएम मोदी ने उनके सामने अनुच्छेद 370 को लेकर आक्रामक रूप से अपनी बात रखी और 59,000 लोगों की भीड़ ने इसपर तालियाँ बजा कर इस निर्णय का स्वागत किया। ट्रम्प ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम की बात कर रहे थे। इस दौरान इमरान का चेहरा देखने लायक था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकियों ने कश्मीरी अभिनेत्री की गोली मार कर हत्या की, 10 साल का भतीजा भी घायल: यासीन मलिक को सज़ा मिलने के बाद वारदात

जम्मू कश्मीर में आतंकियों ने कश्मीरी अभिनेत्री अमरीना भट्ट की गोली मार कर हत्या कर दी है। ये वारदात केंद्र शासित प्रदेश के चाडूरा इलाके में हुई, बडगाम जिले में स्थित है।

यासीन मलिक के घर के बाहर जमा हुई मुस्लिम भीड़, ‘अल्लाहु अकबर’ नारे के साथ सुरक्षा बलों पर हमला, पत्थरबाजी: श्रीनगर में बढ़ाई गई...

यासीन मलिक को सजा सुनाए जाने के बाद श्रीनगर स्थित उसके घर के बाहर उसके समर्थकों ने अल्लाहु अकबर की नारेबाजी की। पत्थर भी बरसाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
188,823FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe