Tuesday, October 4, 2022
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाPak आतंकी दिल्ली में रह रहा था भारतीय पहचान पत्र के साथ, AK-47 सहित...

Pak आतंकी दिल्ली में रह रहा था भारतीय पहचान पत्र के साथ, AK-47 सहित धराया, नवरात्रि पर धमाके की थी प्लानिंग

मोहम्मद अशरफ के पास से एक AK-47 समेत कई हथियार बरामद किए गए हैं। वह अली अहमद नूरी के नाम का फर्जी भारतीय पहचान पत्र बनवा कर दिल्ली में रह रहा था।

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने पूर्वी दिल्ली की लक्ष्मी नगर इलाके से एक पाकिस्तानी आतंकवादी को गिरफ्तार किया है। इस आतंकवादी का नाम मोहम्मद अशरफ उर्फ अली है। वह नवरात्रि पर बड़ा आतंकी धमाका करने की फिराक में था, मगर पुलिस ने उसे पकड़ कर इस बड़ी आतंकी घटना को होने से टाल दिया। अली पाकिस्तान के पंजाब प्रांत का रहने वाला है।

पुलिस ने मोहम्मद अशरफ के पास से एक AK-47 समेत कई हथियार बरामद किए हैं। वह अली अहमद नूरी के नाम का फर्जी भारतीय पहचान पत्र बनवा कर दिल्ली में रह रहा था। उसने फर्जी कागजातों के सहारे भारतीय पहचान पत्र हासिल कर लिया था।

जानकारी के मुताबिक पाकिस्तानी आतंकी के पास से एक एके-47 राइफल के साथ एक अतिरिक्त मैगजीन व 60 राउंड, एक हथगोला, 50 राउंड के साथ 2 अत्याधुनिक पिस्टल जब्त की गई हैं।

न्यूज एजेंसी ANI ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आतंकी के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम, विस्फोटक अधिनियम, शस्त्र अधिनियम और अन्य प्रावधानों के प्रासंगिक प्रावधान लगाए गए हैं। लक्ष्मी नगर के रमेश पार्क में जिस जगह पर वो रह रहा था, वहाँ तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

बता दें कि भारतीय खुफिया एजेंसियों को यह जानकारी मिली थी कि देश में त्योहारों के मौके पर पाकिस्तानी की खुफिया एजेंसी आईएसआई बड़ा हमला करा सकती है। इसके मद्देनजर राजधानी दिल्ली की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। दिल्ली पुलिस होटल्स और गेस्ट हाउस पर नजर रख रही है। किराएदारों के वैरिफिकेशन पर भी जोर दिया जा रहा है।

गौरतलब है कि पिछले दिनों दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पाकिस्तान द्वारा संचालित एक आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ करते हुए 6 आतंकियों को गिरफ्तार किया। इनमें पाकिस्तान से प्रशिक्षित दो आतंकवादी भी शामिल थे। पुलिस ने अपने इस मल्टी स्टेट ऑपरेशन में विस्फोटक व अन्य चीजों को भी बरामद किया था। पुलिस का कहना था कि ये संदिग्ध देश में हत्याओं और विस्फोटों को अंजाम देने की योजना बना रहे थे। इसके अलावा इनके निशाने पर नामचीन लोग भी शामिल थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

एक मिनट में दागेगा 750 गोलियाँ, ऊँचाई वाले स्थानों पर दुश्मन की खैर नहीं: जानें 5800 किलो के स्वदेशी ‘प्रचंड’ के बारे में, जो...

'प्रचंड' चॉपर दुश्मनों के लड़ाकू विमानों को ध्वस्त करने, आतंकवाद विरोधी अभियानों को अंजाम देने, कॉम्बैट सर्च और बचाव कार्यों में सक्षम हैं।

कॉन्ग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने भारत आए चीतों को बताया लंपी वायरस का कारण, नामीबिया को बताया ‘नाइजीरिया’: BJP नेता ने कहा – इनको...

महाराष्ट्र कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा है कि देश में फैले हुए लंपी वायरस के लिए 'नाइजीरिया' से आए चीते जिम्मेदार हैं। हुई जगहँसाई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
226,129FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe