Wednesday, September 22, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षामिग 27 क्रैश: लड़ाकू विमान को आबादी से दूर ले गए पायलट, जान-माल का...

मिग 27 क्रैश: लड़ाकू विमान को आबादी से दूर ले गए पायलट, जान-माल का नुकसान नहीं

भारतीय वायुसेना में लड़ाकू विमानों के दुर्घटना पर नजर डालें तो सबसे अधिक हादसे मिग-21 और मिग-27 के ही हुए हैं। इसी साल बीकानेर में 8 मार्च को भी एक मिग-21 क्रैश हुआ था।

राजस्थान के जोधपुर के पास आज 31 मार्च 2019 को भारतीय वायुसेना का लड़ाकू विमान मिग-27 क्रैश हो गया। यह दुर्घटना रूटीन मिशन पर उड़ान भरते समय शिवगंज के पास गोड़ाना गांव में हुई।

जैसे ही इंजन में खराबी आई, पायलट सूझबूझ दिखाते हुए विमान को आबादी से दूर ले गए। इससे क्रैश वाली साइट पर किसी भी तरह के जान-माल का नुकसान नहीं हुआ है। समय रहते पायलट ने खुद भी इजेक्ट कर लिया और वो सुरक्षित हैं।

सूचना मिलते ही वायुसेना के अधिकारी क्रैश की साइट पर पहुँच गए और दुर्घटनाग्रस्त मिग-27 के पायलट को हेलिकॉप्टर से जोधपुर लाया गया है। जहाँ यह लड़ाकू विमान क्रैश हुआ है, वहाँ आस-पास के लोगों ने बताया कि हवा में ही विमान में आग लग गई थी।

मिग और IAF

भारतीय वायुसेना में लड़ाकू विमानों के दुर्घटना पर नजर डालें तो सबसे अधिक हादसे मिग-21 और मिग-27 के ही हुए हैं। इसी साल बीकानेर में 8 मार्च को भी एक मिग-21 क्रैश हुआ था। हालाँकि वायुसेना चीफ ने मिग को ‘खराब’ लड़ाकू विमान कहे जाने पर आपत्ति जताई थी। आपको याद दिला दें विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तानी F-16 को अपने मिग-21 बाइसन से ही मार गिराया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को भूला देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती’: दादरी में CM योगी

सीएम ने कहा, "राजा मिहिर भोज नौंवी सदी के एक महान धर्मरक्षक थे। जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को विस्मृत कर देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती।''

‘साड़ी स्मार्ट ड्रेस नहीं’- दिल्ली के अकीला रेस्टोरेंट ने महिला को रोका: ‘ओछी मानसिकता’ पर भड़के लोग, वीडियो वायरल

अकीला रेस्टोरेंट के स्टाफ ने महिला से कहा कि चूँकि साड़ी स्मार्ट आउटफिट नहीं है इसलिए वो उसे पहनने वाले लोगों को अंदर आने की अनुमति नहीं देते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,748FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe